भोजन के बाद अपने रक्त शर्करा की जाँच कैसे करें

GoMedii Offer

 

मधुमेह के मरीजो को कई बार ऐसे दिक्क्त होती है की वह भोजन के बाद अपने रक्त शर्कर की जाँच कैसे करें। लेकिन आज के समय में आपको इतना सोचने की जरुरत नहीं है क्योंकि आप खुद घर पर मधुमेह की किट मंगवा सकते है जिससे आप खुद घर बैठे इसकी जाँच कर सकते है इसमें एक डिजिटल मशीन, सुइया होती है जिनसे आप खुद घर पर अपनी शुगर की जाँच कर सकते है। वो भी बिना किसी डॉक्टर की मदद के।

 

वैसे नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के अनुसार, यदि कोई व्यक्ति व्यायाम करता है तो उसके शुगर के स्तर पर 12 घंटे तक इसका असर रहता है। जिन्हे मधुमेह है, उनका नियमित रूप से व्यायाम करना बहुत अच्छा होता है, इससे उनके रक्त में शर्करा के स्तर नियंत्रित रहता है। वहीं शरीर की इंसुलिन के प्रति संवेदनशीलता बढ़ती है और यह इंसुलिन रोधी प्रवृत्ति को कम करता है। जिन्हे टाइप 2  मधुमेह होता है उन लोगों को दिन में कम से कम एक बार ब्लड शुगर की रीडिंग लेनी चाहिए।जबकि कुछ को दिन में सात बार ब्लड शुगर की जाँच कराने की आवश्यकता होती है।

 

मधुमेह के मरीज के लिए कुछ जरुरी बातें

 

मधुमेह का मरीज अगर नियमित मात्रा में और परहेज के साथ अपना आहार लेता है तो उसे घबराने की जरुरत नहीं है। मधुमेह के मरीज को ये बात भलीभांति समज लेनी चाहिए की जरा सी बदपरहेजी उसके लिए काफी नुकसान दायक हो सकती है। मधुमेह के मरीज को पेय पदार्थ में मीठा का सेवन बिल्कुल बंद कर देना चाहिए, कुछ केस में डॉक्टर भी यही सलाह देते है। वहीं कुछ लोगो को शुगर की मात्रा कम होने पर तुरंत कुछ मीठा खाना चाहिए ग्लूकोज, शकर, चॉकलेट, मीठे बिस्किट या टॉफी में से कुछ रखना चाहिए जो आपकी शुगर को तुरंत नियंत्रित कर सके।

 

मधुमेह के मरीज को हमेशा इस बात को ध्यान रखना चाहिए की ब्लड ग्लूकोज लेवल फास्टिंग 70-110 मिलीग्राम और डीएल खाना खाने के 2 घंटे के बाद 100-140 होना चाहिए। मधुमेह होने पर आप इसका इलाज दवाइयों, व्यायाम और अपनी जीवनशैली में सुधार लाकर भी कर सकते है। जिसमें आप 45 मिनिट तक पैदल चलना या कोई भी अन्य व्यायाम करें और सही समय पर डॉक्टर द्वारा दी गई दवाइयां जरूर खाए।

 

मधुमेह होने पर आपको ता उम्र परेहज करना पड़ता है। क्योंकि परहेज ही मधुमेह को ख़त्म कर सकता है वैसे तो आप खुद व्यायाम करके भी अपनी शुगर की मात्रा को नियंत्रित कर सकते है। कई लोग मधुमेह होने पर घबरा जाते है। लेकिन वह अपने खान-पान पर ध्यान दें तो और मीठे का सेवन कम करे तो उससे अपने आप मधुमेह नियंत्रित रहता है। मधुमेह होने का सबसे बड़ा कारण है तनाव लेना। जो व्यक्ति ज्यादा तनाव लेते है या किसी भी चीज के लिए ज्यादा चिंता करते है उन्हें बहुत जल्दी मधुमेह होता है।

 

  • दाल चीनी
  • बिना चीनी की चाय
  • हरे अंकुरित मूंग
  • फ्लेक्स बीज
  • हरी सब्जिया

 

मधुमेह के मरीज को कई और बीमारी होने का खतरा होता है जैसे क्रोनिक किडनी डिजीज, हृदय रोग, उच्च रक्त चाप जैसी कई अन्य बीमारिया होने का खतरा होता है। तो इसलिए आप जो कुछ भी खाए बिल्कुल सोच समझ कर खाए क्योंकि आपकी जरा सी बदपरहेजी आपके लिए कोई बड़ी मुसीबत बन सकती है।


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।