COVID-19 के लक्षण क्या है, इससे कैसे पहचाने?

GoMedii Offer

 

 

COVID-19 ने जहां पूरी दुनिया में लोगों के मन में दहशात फैलाई है। वहीं अब भारत में भी लोग तेजी से इससे संक्रमित हो रहे हैं। जो आने वाले समय में भारत की मुश्किलों को और बढ़ा सकता है। इसलिए सभी लोगों को इससे सावधान रहने की जरूरत है, क्योंकि कई विकासशील देशों में भी COVID-19 ने लोगों की जान ली है। इसलिए सबसे जरुरी है कि आप COVID-19 के लक्षणों को पहचाने।

 

दूसरी ओर COVID-19 से संक्रमण और बचाव के तरीकों को लेकर लोगों के मन में अभी भी ढेरों सवाल हैं। COVID-19 वायरस अलग-अलग लोगों को अलग-अलग तरीके से प्रभावित करता है। COVID-19 एक रेस्पिरेटरी डिजीज (respiratory disease) है। ऐसे अधिकांश लोग जो इससे संक्रमित हैं, वो हल्के से मध्यम लक्षणों को महसूस करते हैं और इनमें से कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो बिना किसी विशेष उपचार के ठीक भी होने लगते हैं। जिन लोगों को पहले से कोई गंभीर बीमारी है और जो 60 वर्ष से अधिक उम्र के है उन्हें COVID-19 की बीमारी के साथ मृत्यु होने का खतरा भी अधिक है।

COVID-19 के लक्षणों में शामिल हैं:

 

 

  • बुखार (fever)

 

 

  • थकान (tiredness)

 

 

  • सूखी खाँसी (dry cough)

 

 

 

अन्य लक्षणों में शामिल हैं:

 

 

  • साँस में कमी (shortness of breath)

 

 

  • सिरदर्द (aches and pains)

 

 

  • गले में खराश (sore throat)

 

 

  • जबकि बहुत कम लोग दस्त, मतली या बहती नाक का अनुभव करते हैं।

 

 

इसके लक्षणों वाले लोग जो अन्यथा स्वस्थ हैं, उन्हें इसकी जाँच करानी चाहिए और डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। बुखार, खाँसी या साँस लेने में कठिनाई होने वाले लोगों को अपने डॉक्टर को फोन करना चाहिए और अपने डॉक्टर से विशेष उपचार की मांग करनी चाहिए।

 

 

आमतौर पर COVID-19 से संक्रमित व्यक्तियों में 5 से 7 दिन में इसके लक्षण दिखने लगते हैं। जैसे कि आप किसी ऐसे व्यक्ति से संपर्क में आए हैं, जो कोरोना का रोगी है तो 5-7 दिन बाद इसके लक्षण दिखने लगेंगे। कई बार यह 14 दिन या उससे ज्यादा समय का वक़्त भी ले सकता है। हम आपको यही सलाह देंगे कि अगर आप विदेश की यात्रा कर के आए हैं, तो सबसे पहले डॉक्टर को इस बात की जानकारी दें।

 

 

 

COVID-19 से बचने के कुछ तरीके

 

 

इस संक्रमण को रोकने और COVID-19 के संचरण को धीमा करने के लिए, निम्नलिखित कार्य करें:

 

 

  • अपने हाथों को नियमित रूप से साबुन और पानी से धोएं, या उन्हें अल्कोहल-आधारित सैनिटाइजर से साफ करें।

 

 

  • खाँसने या छींकने वाले लोगों के बीच कम से कम 1 मीटर की दूरी बनाए रखें।

 

 

  • अपने चेहरे को बार-बार छूने से बचें।

 

 

  • खाँसते या छींकते समय अपना मुँह और नाक ढक लें।

 

 

  • यदि आप अस्वस्थ महसूस करते हैं, तो घर पर ही रहें।

 

 

  • धूम्रपान ना करें और फेफड़ों को मजबूत करने वाले योग या व्यायाम करें।

 

 

अनावश्यक रूप से बाहर जाने से बचे और कही भी यात्रा करने से बचें और भीड़-भाड़ वाली जगहों पर ना जाएं और सभी लोगों से उचित दुरी बना कर रखें।


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।