खून के थक्के बनने से रोकने के लिए करें ये उपाए

Diet Plan Free

खून के थक्के (blood Clots) इंसान के शरीर में तब बनते है जब उसे कहीं पर चोट लग जाती है। उदाहरण के तौर पर, आप अपने हाथ या उंगली काटते हैं, तो रक्तस्राव को रोकने के लिए कटे हुए हिस्से में एक रक्त का थक्का बनता है जो आपके खून को रोकता है और उस घाव को कुछ दिनों में ठीक करता है। ये आपके कट या घाव को ठीक करने में मदद करता है।

 

इस प्रकार के खून के थक्के न केवल फायदेमंद होते हैं, बल्कि जब आप बुरी तरह से घायल होते हैं, तो अत्यधिक रक्त की हानि को रोकने में आपकी मदद करते हैं। इंसान के शरीर के किसी भी हिस्से में खून के थक्के बन सकते है। लेकिन कभी-कभी, रक्त के थक्के खतरनाक हो सकते हैं।

 

 

खून के थक्के क्या है ? (What is blood clots in hindi)

 

 

खून इंसान के शरीर में रक्त वाहिनियों के जरिए बहता रहता है और यह निरंतर बहते हुए हृदय तक जाता है, जहां पंपिंग के जरिए साफ होने के बाद यह शरीर के अन्य अंगो और कोशिकाओं तक पहुंचता है। यही खून फिर से धमनियों द्वारा दिल की ओर वापस भेज दिया जाता है। इसे दिल तक भेजने की प्रक्रिया में धमनियां सिकुड़ती हैं, क्योंकि शरीर की कोशिकाएं खून को वापस भेजती हैं। इसी बहते खून में कभी-कभी क्लॉट यानी थक्का बन जाता है।

 

प्लेटलेट्स, जो रक्त कोशिकाओं और प्लाज्मा का एक रूप होते हैं, आपके रक्त का तरल हिस्सा, रक्तस्राव को रोकने में मदद करने के लिए खून के थक्के बनता है। आपकी त्वचा की सतह पर खून का थक्के बनते है, जिन्हें आमतौर पर स्कैब के नाम से जाना जाता है। आमतौर पर कुछ समय के बाद ठीक हो जाता है, आपका शरीर स्वाभाविक रूप से रक्त के थक्के को धीरे-धीरे खत्म कर देता है।

 

यदि आपकी रक्त वाहिकाओं के अंदर थक्के बनते हैं, वो भी तब जब आपको चोट नहीं  लगी होती और ये थक्के स्वाभाविक रूप से जब ख़त्म नहीं होते हैं तो ये किसी खतरनाक स्थिति का संकेत होते हैं। आपकी नसों में खून के थक्के दिल की धड़कनों को रोक सकते हैं। इसकी वजह से आपको उस हिस्से में दर्द या सूजन हो सकती है।

 

 

खून के थक्के बनने के लक्षण (Symptoms of blood clotting in hindi)

 

 

 

  • कमजोरी लगना

 

  • हाथों और पैरों में अचानक सुन्नता पैदा होना

 

  • चलने में परेशानी होना

 

  • सुनने समझने में कठिनाई होना

 

  • चोट वाले हिस्से में सूजन, दर्द होना

 

  • सिर घूमना

 

  • दवाइयों का दुष प्रभाव

 

  • ज्यादा मोटा होना

 

  • मोनोपॉज

 

  • साँस लेने में दिक्कत होना

 

 

खून के थक्के बनने के कारण (blood clot causes in hindi)

 

 

  • शरीर में हार्मोन्स का संतुलन बिगड़ने की वजह से ऐसा हो  सकता है।

 

  • बहुत ज्यादा धूम्रपान करने से भी ब्लड क्लॉटिंग हो सकती है।

 

  • मोटापा भी इसकी एक वजह हो सकता है।

 

  • बहुत समय से बेड रेस्ट पर रहना।

 

  • हमेशा एक ही पोजीशन में ज्यादा देर तक बैठे रहना।

 

 

अगर हम अमेरिका की बात करें तो, अमेरिकन सोसाइटी ऑफ हेमटोलॉजी की एक रिपोर्ट के अनुसार, संयुक्त राज्य अमेरिका में हर साल 900,000 लोग इस समस्या से जूझते हैं, जिनमें से प्रति वर्ष खून के थक्के जमने की वजह से 100,000 लोगों की मृत्यु हो जाती है। हालाँकि अभी तक भारत में ऐसे मामले ज्यादा देखने को नहीं मिले है।

 

 

खून के थक्के को रोकने के लिए उपाए (blood clot prevention in hindi)

 

 

नियमित करें व्यायाम 

 

यदि आप अपने जीवन में कुछ समय व्यायाम को देंगे तो इससे आपका पूरा शरीर स्वस्थ रहेगा। जब आप व्यायाम करते है तो शरीर की सभी रक्त वाहिकाओं में रक्त का संचार ठीक से होता है और रक्त के थक्के जमने की संभावना भी कम हो जाती है। इसके अलावा, जो व्यक्ति मोटापे से परेशान है, तो वो ऐसा करके अपने मोटापे को कम कर सकते हैं। हमने आपको ये तो बता ही दिया हैं कि मोटापा खून के थक्कों के बनने का एक कारण हो सकता है। यदि ऐसा होता है, तो उस व्यक्ति को दिल का दौरा तक पड़ सकता है और ब्रेन हैमरेज भी हो सकता है।

 

शरीर पर करें मालिश 

 

हफ्ते में एक बार अपने पूरे शरीर की मालिश करें क्योंकि ऐसा करने से आपके शरीर में खून का प्रवाह सही तरीके से होगा। यदि आपके शरीर के किसी भी हिस्से में दर्द या सूजन है तो उस जगह पर हल्के हाथों से तेल मालिश करें, इससे आपको काफी हद तक आराम मिलेगा।

 

 

धूम्रपान ना करें 

 

जो लोग धूम्रपान करते है वह उनकी सेहत के लिए बेहद हानिकारक होता है क्योंकि इससे रक्त नलिका की मांसपेशियां कमजोर होती है। नतीजा ब्लड क्लॉटिंग की संभावना बढ़ जाती है। बल्कि इससे शरीर में कई अन्य बीमारियां भी होती है। जैस मधुमेह, हृदय रोग, किडनी संक्रमण का खतरा ज्यादा रहता है।

 

 

पौष्टिक भोजन करें 

 

जब आपके शरीर में कमजोरी होती है तो ये आपके आहार में पौष्टिक भोजन की कमी के कारण हो सकती है। कई बार इसकी वजह से इंसान के शरीर में बहुत सी दिक्कते होती है और उन्हें कई तरह की बीमारी भी हो सकती है। इसलिए आप किसी भी तरह की बीमारी से बचना चाहते है तो एक पौष्टिक आहार का ही सेवन करें।

 

 

तनाव से रहे दूर 

Bipolar Depressive Disorder in hindi

यदि आप तनाव लेते है तो ये आपको किसी बड़ी बीमारी का शिकार बना सकता है इसलिए ये जरुरी है की आप बिल्कुल भी तनाव ना लें। इससे आप खुद को आसानी से स्वस्थ रख पांएगे। वैसे भी तनाव लेने से कोई भी समस्या हल नहीं होती है। बल्कि ये आपके शरीर में कई बीमारियों को बढ़ाती है।

 

 

खून में थक्के जमना जरुरी भी है और नहीं भी, आपको ये लेख पढ़ कर समझ आ ही गया होगा। क्योंकि जब आपके शरीर में कही चोट या घाव हो जाता है जिससे खून निकलने लगता है तो उसे बहने से रोकने के लिए खून के थक्के अपने आप बनने लगते है और धीरे-धीरे ये अपने आप ख़त्म भी हो जाते है। लेकिन बिना किसी कारण अगर आपके शरीर में खून के थक्के बनते है तो आपको एक बार जरूर डॉक्टर से सलाह लेने की जरुरत है, नहीं तो ये किसी बड़ी बीमारी की वजह बन सकती है।


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।