शुगर (डायबिटीज) के लिए योगासन

Treatment In India

 

अगर आप शुगर (डायबिटीज) के मरीज है, तो आपके लिए योगासन बहुत फायदेमंद हो सकता है। आजकल शुगर के मरीजों की संख्या प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है या यूं कहें कि यह समस्या लोगो में बहुत आम हो गई है। जब शरीर में इंसुलिन हार्मोन की कमी होती है, तब शुगर (डायबिटीज) की समस्या होती है।

 

शुगर (डायबिटीज) के लक्षणों में शामिल हो सकते है, जैसे की – वजन में कमी आना या फिर अचानक वजन का बढ़ना, अत्यधिक भूख प्यास लगना, थकान होना, बार-बार संक्रमण होना, घाव देरी से भरना, हाथ-पैरों में झनझनाहट आदि।

 

योगासन से शुगर (डायबिटीज) की बीमारी ही नहीं और भी कई अन्य बीमारियों से छुटकारा मिल सकता है। शुगर (डायबिटीज) के लिए योगासन ही एकमात्र उपाय है। नियमित रूप से योग करने से डायबिटीज से छुटकारा पाया जा सकता है।

 

 

शुगर (डायबिटीज) के लिए योगासन

 

 

अगर आप शुगर (डायबिटीज) से छुटकारा पाना चाहते है, तो आपको नियमित रूप से योगासन करने की जरुरत है। ऐसा करके आप इस बीमारी से छुटकारा पा सकते है।

 

 

सूर्य नमस्कार (Surya Namaskar)

 

sugar (diabetes) ke liye yogasan in hindi

 

शुगर (डायबिटीज) के लिए ये योगासन सबसे आसान और लाभकारी है। इस योगा को करने से रक्त का संचार शरीर में अच्छे से होता है। इस आसन को एक मिनट में 4 बार आराम-आराम से करना चाहिए।

 

 

प्राणायाम (Pranayama)

 

sugar (diabetes) ke liye yogasan in hindi

 

यह योगासन 8 प्रकार का होता है, जिसमें से भ्रामरी और भास्रिका शुगर (डायबिटीज) के लिए ज्यादा अधिक लाभकारी होते हैं। भ्रामरी प्राणायाम करने से मन, मस्तिष्क और तंत्रिका तंत्र को फायदा होता है और भास्रिका प्राणायाम हमारे शरीर के खून में ऑक्सीजन लेवल को बढाता है और कार्बनडाइआक्साइड के लेवल को कम करता है। इस योगासन में ज्यादा तेजी से सांस को अंदर-बाहर करना, गहरी सांस लेना चाहिए।

 

 

मुद्रासन (Mudrasan)

 

sugar (diabetes) ke liye yogasan in hindi

 

मुद्रासन करते वक़्त जमीन पर नीचे बैठकर दाएं हाथ की हथेली को पहले नाभि पर रखें और बाएं हाथ की हथेली को दाएं हाथ पर रखें। फिर सांस बाहर निकालते हुए आगे झुककर सामने की तरफ देखते हुए ठोढी को जमीन पर टिकाएं और फिर सांस अंदर की तरफ ले। इस प्रक्रिया को 4-5 बार दोहराएं।

 

 

मेडिटेशन (Meditation)

 

sugar (diabetes) ke liye yogasan in hindi

 

कहा जाता है की ध्यान करने से तनाव कम होता है और साथ ही दिमाग भी शांत रहता है। इस योगासन को प्रतिदिन करने से इंसुलिन हार्मोन की अनियमितता ठीक रहती है, जो कि शुगर (डायबिटीज) के मरीजों के लिए बहुत जरूरी है।

 

 

सर्वांगासना (Sarvangasana)

 

sugar (diabetes) ke liye yogasan in hindi

 

इस योगासन को करने से गले के आसपास पाई जाने वाली थॉयराइड और पैराथाइराइड ग्रंथियों( मोटापा, प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट मेटाबोलिज्म के लिए उत्तरदायी ग्रंथियां) का व्यायाम हो जाता है। यह योगा करने से ग्रंथियों में रक्तसंचार सुचारु (Coronary circulation in the glands) हो जाता है।

किसी चटाई पर लेटकर दोनों हाथ फैला लीजिए, फिर धीरे-धीरे दोनों पैरों को उपर कीजिए, फिर हाथों से कमर को पकडकर पूरे शरीर को हवा में कीजिए और शरीर का पूरा भाग गर्दन पर हो जाने दीजिए और साथ ही अपने पैरों को सीधा रखिए। शुगर (डायबिटीज) के मरीजों लिए यह योगासन बहुत फायदेमंद है।

 

 

अगर आप चाहते है, की जल्द-से-जल्द शुगर (डायबिटीज) की समस्या से आपको छुटकारा मिल जाए तो ऊपर बताये गए योग को नियमित रूप से करे, क्योंकि योग हर बीमारी के लिए सही उपचार है और साथ ही डॉक्टर से सलाह ले और नियमित रूप से जांच भी कराते रहे।

 

 


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।