जाने किडनी के इलाज के लिए दिल्ली के बेस्ट डॉक्टर कौन से हैं?

किडनी शरीर के प्रमुख अंगों में से एक हैं और वे विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने, रक्तचाप को सामान्य करने और शरीर में एसिड के स्तर को सामान्य करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। हालांकि, जब किडनी सामान्य रूप से काम नहीं करते हैं, तो इस स्थिति को किडनी रोग कहा जाता है। किडनी की बीमारी किसी तरह के संक्रमण, मानसिक या भावनात्मक समस्याओं और ऑटोइम्यून बीमारियों के कारण हो सकती है। किडनी की बीमारी के इलाज में डॉक्टर की बहुत अहम भूमिका होती है। डॉक्टर मरीज की स्वास्थ्य स्थिति के अनुसार दवा, आहार, डायलिसिस और किडनी ट्रांसप्लांट की सलाह देते हैं। आज हम आपको किडनी के इलाज के लिए दिल्ली के बेस्ट डॉक्टर के नाम बतांएगे।

आजकल किडनी से जुड़ी बीमारियां बढ़ती ही जा रही हैं लोगों की बगड़ती लाइफस्टाइल ने इस बीमारी को आम बीमारी बना दिया है। किडनी खराब होने के लक्षण, चरण और कारण होते हैं जिनके बारे में ज्यादातर लोगों  को पता नहीं होता है। इसके लक्षणों को दूर करने और उन्हें बिगड़ने से रोकने के लिए कुछ प्रयास किए जा सकते हैं और ऐसा सिर्फ एक अनुभवी डॉक्टर बता सकते हैं। आइए आपको बताते हैं दिल्ली में बेस्ट किडनी डॉक्टर के बारे में, आप हमारे माध्यम से संपर्क कर सकते हैं। डॉक्टर से संपर्क करने के लिए  यहाँ क्लिक करें

 

 

किडनी के इलाज के लिए दिल्ली के बेस्ट डॉक्टर (Best kidney doctor in Delhi in hindi)

 

 

  • डॉ दीपक कालरा, एमडी – मेडिसिन, डीएम – नेफ्रोलॉजी, एमबीबीएस, नेफ्रोलॉजिस्ट / रीनल स्पेशलिस्ट हैं, इन्हें 23 साल का अनुभव है।

 

  • डॉ कर्नल अखिल मिश्रा वी एस एम, एमबीबीएस, एमडी – जनरल मेडिसिन, डीएम – नेफ्रोलॉजी, नेफ्रोलॉजिस्ट / रीनल स्पेशलिस्ट हैं, इन्हें 56 साल का अनुभव है।

 

  • डॉ शाम सुंदर, एमबीबीएस, एमडी – मेडिसिन, डीएम – नेफ्रोलॉजी, नेफ्रोलॉजिस्ट / रीनल स्पेशलिस्ट, इंटरनल मेडिसिन, जनरल फिजिशियन हैं,
    इन्हें 46 साल का अनुभव है।

 

  • डॉ अलका भसीन, एमबीबीएस, नेफ्रोलॉजी में फेलोशिप, जनरल फिजिशियन, नेफ्रोलॉजिस्ट / रीनल स्पेशलिस्ट हैं, इन्हें 28 साल का अनुभव है।

 

  • डॉ संजीव जसुजा, एमबीबीएस, एमडी – जनरल मेडिसिन, डीएनबी – नेफ्रोलॉजी, नेफ्रोलॉजिस्ट / रीनल स्पेशलिस्ट हैं, इन्हें 37 साल का अनुभव है।

 

  • डॉ कैलाश नाथ सिंह, एमबीबीएस, एमडी – जनरल मेडिसिन, डीएनबी – नेफ्रोलॉजी, नेफ्रोलॉजिस्ट / रीनल स्पेशलिस्ट हैं, इन्हें 35 साल का अनुभव है।

 

  • डॉ अशोक सरीन, एमबीबीएस, एमडी – मेडिसिन, एफआरसीपी, नेफ्रोलॉजिस्ट / रीनल स्पेशलिस्ट हैं, इन्हें 52 साल का अनुभव है।

 

  • डॉ राहुल ग्रोवर, एमबीबीएस, एमडी – जनरल मेडिसिन, डीएम – नेफ्रोलॉजी, नेफ्रोलॉजिस्ट / रीनल स्पेशलिस्ट हैं, इन्हें 24 साल का अनुभव है।

 

  • डॉ दिलीप भल्ला, डीएनबी – नेफ्रोलॉजी, डीएम – नेफ्रोलॉजी, एमबीबीएस, एमडी – मेडिसिन, नेफ्रोलॉजिस्ट / रीनल स्पेशलिस्ट हैं, 35 साल का अनुभव है।

 

  • डॉ अजीत सिंह नरूला, एमबीबीएस, एमडी – जनरल मेडिसिन, डीएम – नेफ्रोलॉजी, नेफ्रोलॉजिस्ट / रीनल स्पेशलिस्ट हैं, 45 साल का अनुभव है।

 

At GoMedii, we strive to be better every day to exceed our patient’s expectations from the treatment as well as their medical trip. We partner with some of the best kidney transplant hospitals across the globe that ensure high standards of comfort and care.

 

किडनी की बीमारी के कितने प्रकार होते हैं? (How many types of kidney disease are there in Hindi)

 

  • क्रोनिक किडनी डिजीज

 

  • किडनी स्टोन

 

  • ग्लोमेरुलोनेफ्रैटिस (Glomerulonephritis)

 

  • पॉलीसिस्टिक किडनी डिजीज

 

  • यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन

 

 

किडनी की बीमारी के लक्षण क्या हैं? (What are the symptoms of kidney disease in Hindi)

 

किडनी की बीमारी के लक्षण गंभीर होने से पहले इसका पता नहीं चलता है और यही वजह है कि इस पर लोगों का ध्यान नहीं जाता है। निम्नलिखित लक्षण प्रारंभिक चेतावनी के संकेत हैं कि आपको किडनी की बीमारी हैं:

 

  • थकान होना

 

  • ध्यान से काम करने समस्या होना

 

  • नींद न आना

 

  • भूख न लगना

 

  • मांसपेशियों में ऐंठन होना

 

  • पैर / टखनों में सूजन होना

 

  • सुबह आंखों के आसपास सूजन होना

 

  • सूखी, पपड़ीदार त्वचा

 

  • बार-बार पेशाब आना, विशेष रूप से रात में ऐसा होना

 

किडनी की बीमारी का निदान कैसे किया जाता है? (How is kidney disease diagnosed in Hindi)

 

 

आपका डॉक्टर पहले यह निर्धारित करेगा कि आप किसी उच्च जोखिम वाले समूह में हैं या नहीं। फिर वे यह देखने के लिए कुछ परीक्षण करेंगे कि आपकी किडनी ठीक से काम कर रही है या नहीं। इन परीक्षणों में शामिल हो सकते हैं:

 

ग्लोमेरुलर फिल्ट्रेशन रेट (Glomerular filtration rate)

यह टेस्ट यह मापेगा कि आपके किडनी कितनी अच्छी तरह काम कर रहे हैं और किडनी की बीमारी के चरण का निर्धारण करेंगे।

 

अल्ट्रासाउंड या कंप्यूटेड टोमोग्राफी (सीटी) स्कैन

अल्ट्रासाउंड और सीटी स्कैन मरीज की किडनी और मूत्र पथ की स्पष्ट छवियां उत्पन्न करते हैं। यह तस्वीरें आपके डॉक्टर को यह देखने की अनुमति देती हैं कि आपकी किडनी बहुत छोटी है या बड़ी। वे किसी भी ट्यूमर या संरचनात्मक समस्याओं को भी दिखा सकते हैं जो मौजूद हो सकते हैं।

 

किडनी बायोप्सी

किडनी बायोप्सी के दौरान, आपका डॉक्टर आपके किडनी से ऊतक का एक छोटा सा टुकड़ा निकाल देगा, जब आप बेहोश हो जाएंगे। ऊतक का नमूना आपके डॉक्टर को यह निर्धारित करने में मदद कर सकता है कि मरीज को किस प्रकार की किडनी की बीमारी है और कितना नुकसान हुआ है।

 

मूत्र परीक्षण (Urine test)

आपका डॉक्टर एल्ब्यूमिन के परीक्षण के लिए मूत्र के नमूने का अनुरोध कर सकता है। एल्ब्यूमिन एक प्रोटीन है जो आपके किडनी के क्षतिग्रस्त होने पर आपके मूत्र में जा सकता है।

 

रक्त क्रिएटिनिन टेस्ट (Blood creatinine test)

क्रिएटिनिन एक अपशिष्ट उत्पाद है। जब क्रिएटिन (मांसपेशियों में जमा एक अणु) टूट जाता है तो इसे रक्त में छोड़ दिया जाता है। यदि आपके किडनी ठीक से काम नहीं कर रहे हैं तो आपके रक्त में क्रिएटिनिन का स्तर बढ़ जाएगा।

 

 

किडनी की बीमारी का इलाज कैसे किया जाता है? (How is kidney disease treated in Hindi)

 

किडनी की बीमारी के लिए उपचार आमतौर पर रोग के अंतर्निहित कारण को नियंत्रित करने पर केंद्रित होता है। इसका मतलब है कि आपका डॉक्टर आपके रक्तचाप, रक्त शर्करा और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बेहतर ढंग से प्रबंधित करने में आपकी मदद करेगा। वे किडनी की बीमारी के इलाज के लिए निचे दिए गए सुझावों में से एक का चुनाव करते हैं :

 

  • दवाएं

 

  • आहार और जीवन शैली में परिवर्तन

 

  • डायलिसिस

 

  • किडनी ट्रांसप्लांट

 

आपका डॉक्टर इनमें से किसी भी विकल्प को चुन सकता है। डॉक्टर टेस्ट की रिपोर्ट देखने के बाद यह नर्णय लेते हैं कि कौन-सा इलाज मरीज के लिए सबसे अच्छा रहेगा। यदि आप किडनी के डॉक्टर से सलाह लेने चाहते हैं या इससे सम्बंधित किसी भी तरह की जानकारी हासिल करना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें या आप हमसे व्हाट्सएप (+91 9654030724) पर संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा आप हमारी सेवाओं के संबंध में हमें Connect@gomedii.com पर ईमेल भी कर सकते हैं। हमारी टीम जल्द से जल्द आपसे संपर्क करेगी। हम आपका सबसे अच्छे हॉस्पिटल में इलाज कराएंगे।

 
Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।