कोविड-19 से लड़ने के लिए PM मोदी ने की 22 मार्च को “जनता कर्फ्यु” लगाने कि अपील की

Safe20

 

 

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तेजी से फैल रहे कोरोनोवायरस के खिलाफ एक लड़ाई की शुरुआत की है। उन्होंने पूरे राष्ट्र को संबोधित करते हुए देश के सभी नागरिको से “जनता कर्फ्यू” लगाने कि अपील की है। PM मोदी ने इसके लिए आने वाला रविवार यानी 22 मार्च का दिन चुना है। आगे उन्होंने कहा की सभी को सुबह 7 बजे से 9 बजे के बीच घर में रहकर ” जनता कर्फ्यू ” लगाने का आह्वान किया।

 

टेलीविजन से अपनी बात रखते हुए PM ने कहा की आगे आने वाले समय में स्थिति और खराब ना हो, इसलिए मैं सभी से ऐसा करने की अपील करता हूँ। उन्होंने कहा “हम कोविड -19 पर पूरी तरह से नजर बनाए हुए हैं, इस वायरस ने पूरी दुनिया में मानव जाती को हानि पहुँचाई है, इसी बात को ध्यान में रखते हुए यह स्पष्ट किया कि, भारत को लंबी दौड़ के लिए तैयार रहना चाहिए।

 

 

 

पूरे देश की जनता से केवल एक मंत्र को अपनाने को कहा है

 

 

PM मोदी ने इस बात पर भी जोर दिया कि दुनिया को अभी तक इस महामारी का इलाज नहीं मिला है और कोई दवा या वैक्सीन अभी तक उपलब्ध नहीं हुई है। हालांकि, उन्होंने कहा, की इसके जोखिम को रोका जा सकता है अगर लोग “संकल्प” कर दिखाए और उन्होंने सभी से “संयम” बरतने को कहा है।

 

 

पूरे देश की जनता से “केवल एक मंत्र को अपनाने को कहा है – यदि हम स्वस्थ हैं, तो यह सब स्वस्थ। सभी लोगों से ये गुजारिश की है कि भीड़-भाड़ से दूर रहे, घर में रहकर अपने काम करें, सामाजिक दूरी बहुत आवश्यक और प्रभावी रहेगी सभी के लिए, “उन्होंने कहा कि इससे पहले कि वह“ जनता कर्फ्यू ”के आह्वान के साथ“ सामाजिक दूरी” बनाकर रखने की भी गुजारिश की है।

 

 

आगे उन्होंने ये सलाह दी कि “अगर आपको लगता है कि ऐसा करने से कुछ नहीं होगा और आप बाजार में जाकर सड़कों पर बिना मास्क लगाए घूमेंगे और आपको कुछ नहीं होगा तो आपका ऐसा सोचना गलत है, ये आपके लिए तो खतरा है ही साथ ही अपने परिवार और करीबियों को भी खतरे में डालने जैसा है। मैं अपील करता हूं कि कुछ हफ्तों के लिए सावधानी जरूर बरतें, बहुत जरुरी हो तभी घर से बाहर निकलें और अपने ऑफिस का काम घर से ही करें।

 

 

पीएम ने कहा की “संपूर्ण मानव जाति खतरे में है इतनी खराब स्थिति तो प्रथम विश्व युद्ध और द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान भी नहीं हुई थी, जितना पिछले कुछ दिनों में मानव जाती प्रभावित हुई है। आपकी जरा सी लापरवाही आपकी जान ले सकती है प्रत्येक नागरिक का सतर्क रहना बहुत जरूरी है।

 

 

 

पीएम ने डॉक्टरों और नर्सों कि तारीफ की है

 

 

पीएम ने नागरिकों से डॉक्टरों और नर्सों, जैसे अस्पतालों और एयरलाइंस, रेलवे और बस कर्मचारियों, मीडिया और होम डिलीवरी करने वाले लोगों का समर्थन करने के लिए, घर में ताली बजाएं , घंटी बजाएं या अपने घरों के दरवाजों और खिड़कियों पर खड़े होकर स्टील की थाली बजाने को कहा है। दरअसल रविवार शाम 5 बजे “वे कोविड -19 से लड़ रहे लोगों को समर्थन देने की बात कही है।

 

PM मोदी ने चेतावनी देते हुए कहा कि कोविड -19 के खिलाफ आपको अपने घरो से ही डॉक्टर पर फोन से उपचार के बारे में बात करें बहुत जरुरी हो तभी डॉक्टर के पास जाए

“कुछ राष्ट्रों ने  इससे बचने के लिए आवश्यक निर्णय लिए हैं और अपने लोगों को अलग-थलग कर दिया है, ताकि इससे कम लोग संक्रमित हो। भारत जैसे विकासशील देश के लिए, कोरोनावायरस एक बड़ा खतरा है यह हमारे लिए कोई साधारण बात नहीं है। जब बड़े और विकसित देशों को इस वायरस ने चोट पहुँचाई है, तो यह कहना गलत होगा कि इसका भारत पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

 

 

 

कोविड -19 को “वैशविक महामारी (global pandemic) बताया

 

 

कोविड -19 को “वैशविक महामारी (global pandemic) बताते हुए पीएम ने कहा कि केंद्र और राज्यों सरकारों को इसका पालन करना चाहिए। उन्होंने एक विशेष अपील करते हुए कहा है कि बुजर्ग और बच्चे अगले कुछ हफ्तों तक घर पर ही रहें। उन्होंने कहा, “जनता कर्फ्यू”, आत्म-संयम की परीक्षा होगी और लोगों को आगामी चुनौतियों के लिए तैयार करेगी।

 

मोदी ने एनसीसी, एनएसएस, युवा संगठनों, नागरिक समाज, खेल और धार्मिक संगठनों से “जनता कर्फ्यू” (Janta Curfew) के बारे में प्रचार करने को कहा। उन्होंने कहा, “यह हमारी तैयारियों को देखने के लिए भारत के लिए एक ‘कसौटी’ है।

 

 

घरो में राशन जमा ना करें

जमाखोरी की खबरों को ध्यान में रखते हुए, पीएम ने कहा कि पैनिक में आने की कोई जरुरत नहीं है घरों में राशन जमा करने की कोई जरुरत नहीं है, अपने घरों में राशन जमा ना करें। यह खतरा इतना बड़ा और वैश्विक है कि कोई एक राष्ट्र दूसरे की मदद करने में सक्षम नहीं होगा और हमें चुनौतियों का सामना खुद करने की जरूरत है।

 

Sources: Economics Times


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।