किडनी रिप्लेसमेंट थेरेपी में क्या होता है ?

GoMedii Offer

 

 

किडनी रिप्लेसमेंट थेरेपी किसी भी व्यक्ति के लिए चिंता का विषय है। ऐसे लोगों के जीवन में यह किसी बड़े संकट से कम नहीं होता है। यदि आपके शरीर के किसी भी अंग को बदलना पड़े तो क्या होगा, अपने कभी सोचा है यह कितना डरावना होता होगा। अगर हम भारत की बात करें तो यह सबसे आम है जिनमें शामिल है फेफड़े, हृदय और किडनी रेप्लसेमेंट थेरेपी। दरअसल किडनी के ज्यादातर मामलों में इससे जुड़े कई अन्य अंग भी इससे प्रभावित हो सकते हैं। उसकी वजह से आपको उन्हें भी बदलना पड़ सकता है।

 

किडनी रिप्लेसमेंट थेरेपी करने से पहले आपको इसकी कुछ जटिलताओं को समझना चाहिए। आपको इस तरह के एक महत्वपूर्ण अंग के साथ इस बातों का भी ध्यान रखना है।

 

 

 

क्या किडनी रिप्लेसमेंट थेरेपी के लिए रखें इन बातों का ध्यान ?

 

 

किसी भी व्यक्ति को किडनी रिप्लेसमेंट थेरेपी के लिए डॉक्टर से सलाह के साथ साथ एक उचित प्रक्रिया की आवश्यकता होती है। जब आप डॉक्टर के पास जाते हैं, तो यहां इन बातों का ध्यान में रखें :

 

 

 

  • क्या आप किडनी रिप्लेसमेंट थेरेपी से खुश हैं

 

ज्यादातर मामलों में पहला सवाल जो आपके डॉक्टर से पूछा जाएगा कि आपको इसके लिए मानसिक रूप से तैयार होना होगा। आपको शुरुआत में कुछ मुश्किलें हो सकती हैं और आपको इसके बारे में पहले से पता होना चाहिए।

 

 

 

  • किडनी खराब होने के आलावा आपको कोइन अन्य स्वास्थ्य समस्या तो नहीं है

 

डॉक्टर किडनी रिप्लेसमेंट थेरेपी से पहले यह पता लगाता है की उस व्यक्ति को किसी अन्य प्रकार की स्वास्थ्य से जुड़ी कोई समस्या तो नहीं है जैसे मधुमेह क्योंकि ये  किडनी  को भी नुकसान पहुँचा सकती है। तो डॉक्टर यह सुनिश्चित करते हैं कि आप ऐसी स्थिति में तो नहीं हैं।

 

 

 

  • आपके इच्छा के बाद ही डॉक्टर करें ऑपरेशन

 

जब तक मरीज नहीं कहेगा तब तक डॉक्टर कुछ भी नहीं कर सकते हैं अगर आपकी इच्छा नहीं है तो ऐसे में आपकी किडनी रिप्लेसमेंट थेरेपी नहीं की जाएगी। क्योंकि ऐसा होने पर आपको अपने दिमाग को मानसिक तौर पर तैयार करना होता है।

 

 

 

किडनी रिप्लेसमेंट थेरेपी में क्या विकल्प हैं?

 

 

किडनी रिप्लेसमेंट थेरेपी में शामिल तीन विकल्प हैं।

 

 

हेमोडायलिसिस (Hemodialysis)

 

यह गुर्दे की विफलता के उपचार का सबसे आम विकल्पों में से एक है। यह प्रक्रिया रक्त से अपशिष्ट और अतिरिक्त तरल पदार्थ को निकालने के लिए एक आर्टिफिशियल किडनी (हेमोडायलज़र) का उपयोग किया जाता है। रक्त को शरीर से निकाल दिया जाता है और आर्टिफिशियल किडनी के माध्यम से फ़िल्टर किया जाता है। फ़िल्टर्ड ब्लड को ट्रीटमेंट मशीन की मदद से शरीर में वापस डाल दिया जाता है।

 

 

 

पेरिटोनियल डायलिसिस (Peritoneal Dialysis)

 

इस प्रक्रिया में आपके पेट में एक पेरिटोनियल डायलिसिस (पीडी) कैथेटर को एक सर्जरी के माध्यम से डाला जाता है। कैथेटर आपके रक्त को फ़िल्टर करने में मदद करता है। पेरिटोनियम, आपके पेट में एक झिल्ली के माध्यम से फ़िल्टर करने में मदद करता है। उपचार के माध्यम से, एक विशेष तरल पदार्थ जिसे डायलेट कहा जाता है यह पेरिटोनियम में प्रवाहित होता है। डायलीसेट अपशिष्ट पदार्थो को अवशोषित (absorbs) करता है। यह खून के बहाव को कम कर देता है और उसके बाद यह आपके पेट के माध्यम से निकल जाता है।

 

 

 

किडनी ट्रांसप्लांट (Kidney transplant)

 

किडनी ट्रांसप्लांट को रीनल ट्रांसप्लांटेशन भी कहा जाता है। किडनी ट्रांसप्लांट किसी भी व्यक्ति का तब किया जाता है जब उसकी किडनी पूरी तरह से काम करना बंद कर देती है। एक किडनी का ट्रांसप्लांट के लिए ऑपरेशन की आवश्यकता होती है जो आपके शरीर में एक स्वस्थ किडनी को प्लांट करते हैं। ट्रांसप्लांट की गई किडनी के बाद आपको डायलिसिस की आवश्यकता नहीं है।

 

 

 

किडनी रिप्लेसमेंट थेरेपी की प्रक्रिया क्या है?

 

 

ट्रांसप्लांटेशन

 

ट्रांसप्लांटेशन सर्जरी के दौरान, किडनी को ट्रांसप्लांट के श्रोणि के अंदर रखा जाता है और उनके रक्त वाहिकाओं और पेशाब की नली से जोड़ा जाता है। दरअसल इस ऑपरेशन में तीन घंटे लगते हैं। एक सफल किडनी रिप्लेसमेंट थेरेपी के बाद, उस व्यक्ति को डायलिसिस या विशेष आहार की आवश्यकता नहीं होती है। लेकिन जब ट्रांसप्लांट की गई किडनी काम करना बंद कर देती है, तो फिर से डायलिसिस की आवश्यकता हो सकता है। इसके आलावा एक बार और ट्रांसप्लांट करना भी संभव हो सकता है।

 

 

डायलिसिस

 

यदि आपको डायलिसिस कराने की जरुरत है, तो इसके लिए आपको सबसे पहले डॉक्टर से सलाह लेने की जरुरत है। आपके परिवार और आपके स्वास्थ्य को देखते हुए ही डॉक्टर किसी तरह के निर्णय पर पहुँचते हैं। आमतौर पर डायलिसिस के विकल्पों के बीच बदलाव संभव है, यदि कोई उपचार आपको सूट नहीं करता है।

 

 

अपने शरीर में बेहतर तरीके से संतुलन बनाए रखने के लिए आपकी किडनी का ठीक तरीके से काम करना बहुत जरुरी है। क्योंकि इसके  ठीक से काम ना करने पर आपको स्वास्थ्य से जुड़ी अन्य समस्याएं हो सकती हैं। किडनी रिप्लेसमेंट थेरेपी की शुरुआत करने से पहले आपको इन सभी बातों का ध्यान रखना आपके लिए बहुत जरुरी है। यदि आप इससे जुड़ी और भी कुछ बातें जानना चाहते हैं तो इसके लिए आपको हमारी वेबसाइट पर आकर हमारे डॉक्टर से अपने सवाल पूछ सकते हैं।


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।