अग्नाशय कैंसर के लक्षण और इसका इलाज कैसे किया जाता है?

UPTO20

 

 

अग्नाशय (pancreas) शरीर का सबसे अहम अंग है जो हमारे शरीर के इंसुलिन हार्मोन (insulin hormone) के माध्यम से रक्त ‎शर्करा को  नियंत्रित करता है। अग्नाशय के कारण मानव शरीर के किसी भी अंग में गंभीर बीमारी हो सकती है और इसकी वजह ‎से मनुष्य को बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है । यह स्थिति तब भी हो सकती है जब उनका अग्नाशय सूज जाता है, जिससे यह ‎बीमारी तीव्र अग्नाशयशोथ या एपी के रूप में जानी जाती है।

 

 

 

अग्नाशय कैंसर के लक्षण

 

 

अग्नाशय कैंसर के लक्षण तब तक नहीं दिखते जब तक कि यह गंभीर न हो जाए। इसमें जो लक्षण दिखाई देते हैं, वे अन्य बीमारियों की तरह ही होते हैं, ऐसे में ज्यादातर मामलों में मरीज को उन दूसरी बीमारियों का इलाज मिलना शुरू हो जाता है, जो शरीर में अग्नाशय के कैंसर को पनपने का कारण होती है।

 

 

यदि निम्नलिखित लक्षण शरीर में अचानक दिखाई देते हैं और लंबे समय तक बने रहते हैं, तो एक व्यक्ति को अग्नाशय के कैंसर के लिए एक परीक्षण से गुजरना चाहिए।

 

 

  • पेट और पीठ में दर्द

 

 

  • अचानक वजन कम होना

 

 

  • पेट संबंधित समस्या

 

 

  • खून के थक्के बनना

 

 

 

 

  • त्वचा का सूखापन बढ़ जाना

 

 

  • जी मिचलाना या उल्टी

 

 

  • डायरिया

 

 

 

सामान्य तौर पर, अग्न्याशय के ऊपरी भाग में कैंसर के पहले लक्षण दिखाई देते हैं। ध्यान रखें कि इनमें से कोई भी या सभी लक्षण होने का मतलब यह है कि किसी व्यक्ति को अग्नाशय का कैंसर है। इस प्रकार के लक्षणों के कई अन्य कारण हैं।

 

 

 

अग्नाशय कैंसर के चरण

 

 

स्टेज 1 : ट्यूमर केवल अग्न्याशय में मौजूद होते हैं।

 

 

स्टेज 2 : ट्यूमर पास के पेट के ऊतकों या लिम्फ नोड्स में फैल गया है।

 

 

स्टेज 3 : कैंसर प्रमुख रूप से रक्त वाहिकाओं और लिम्फ नोड्स में फैल गया है।

 

 

स्टेज 4 : ट्यूमर अन्य अंगों में फैल गया है, जैसे कि लिवर भी इसकी वजह से प्रभावित होता है।

 

 

अग्नाशय कैंसर का इलाज

 

 

अग्नाशय के कैंसर का उपचार कैंसर के चरण पर निर्भर करता है। इसके दो लक्ष्य हैं कैंसर कोशिकाओं को मारना और बीमारी के प्रसार को रोकना। अग्नाशय कैंसर के उपचार के दौरान वजन में कमी, आंत्र रुकावट, पेट में दर्द और लिवर की विफलता सबसे आम जटिलताओं में से एक हैं।

 

 

 

सर्जरी

 

अग्नाशय कैंसर के इलाज के लिए डॉक्टर सर्जरी के लिए दो चीजों पर निर्भर होता  है, पहला कैंसर का स्थान और कैंसर का चरण कौन सा है। सर्जरी अग्नाशय के सभी या कुछ हिस्सों को हटा सकती है।

 

यह मूल ट्यूमर को खत्म कर सकता है, लेकिन यह कैंसर को दूर नहीं करेगा जो शरीर के अन्य भागों में फैल गया है। लेकिन सर्जरी अग्नाशय के कैंसर के गंभीर मामलों में सफल नहीं होती है।

 

 

 

रेडिएशन थेरेपी (Radiation therapy)

 

अग्नाशय के बाहर कैंसर फैलने पर अन्य उपचार विकल्पों का पता लगाना चाहिए। रेडिएशन थेरेपी (Radiation therapy) का इस्तेमाल करके कैंसर कोशिकाओं को मारने के लिए एक्स-रे और अन्य उच्च-ऊर्जा का उपयोग किया जाता है।

 

 

 

कीमोथेरेपी (Chemotherapy)

 

कुछ मामलों में, आपका डॉक्टर कीमोथेरेपी के साथ अन्य उपचारों का भी सहारा ले सकता है, जो कैंसर कोशिकाओं के भविष्य के विकास को रोकने में मदद करने का काम करती हैं, वह इसके लिए दवाओं का उपयोग भी कर सकता है।

 

 

 

टार्गेटेड थेरेपी (Targeted therapy)

 

इस प्रकार के कैंसर का उपचार दवाओं या अन्य उपायों का उपयोग विशेष रूप से कैंसर कोशिकाओं को टारगेट करने के लिए किया जाता हैं और इससे उन्हें नष्ट करने का काम करते हैं। इन दवाओं को स्वस्थ या सामान्य कोशिकाओं को नुकसान पहुँचाने के लिए नहीं बनाया गया है। आप अग्नाशय कैंसर के इलाज के लिए हमारे डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं और इस गंभीर बीमारी से छुटकारा पा सकते हैं


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।