जाने बच्चों में इम्युनिटी (Immunity Boost in Kids) बढ़ाने के आसान उपाय

Treatment In India

वयस्कों की तुलना में बच्चों की इम्युनिटी कम होती है, इसलिए उनके जल्दी बीमार होने की संभावना अधिक होती है। वहीं बच्चे अक्सर खाने-पीने की चीजों में नखरे करते हैं, जिससे शरीर में जरूरी पोषक तत्वों की कमी हो जाती है, जिसका सीधा असर शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता पर पड़ता है।

ऐसे में बच्चों की कमजोर इम्युनिटी उनके शरीर में कई बीमारियों को जन्म दे सकती है। आज इस लेख में हम बच्चों में रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने के कारण और लक्षणों के साथ इसे बढ़ाने के आसान तरीके बताएंगे।

 

 

बच्चों में इम्युनिटी बूस्टर क्या है?

 

जैसा कीआपको मालूम है की प्रतिरक्षा प्रणाली को शरीर का रक्षा तंत्र माना जाता है। दरअसल, यह शरीर के अंगों के साथ-साथ कोशिकाओं और ऊतकों का एक नेटवर्क है, जो मिलकर शरीर को संक्रमण और बीमारियों से बचाने में मदद करते हैं।

जब कोई बैक्टीरिया या वायरस शरीर में प्रवेश करता है, तो शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली सक्रिय हो जाती है और उनसे लड़ने का काम करती है। इसलिए डॉक्टर या विशेषज्ञ उन खाद्य पदार्थों के अधिक सेवन की सलाह देते हैं, जो रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का काम करते हैं।

 

 

बच्चों में इम्यूनिटी कम होने के लक्षण ? (Symptoms of low immunity in children in Hindi)

 

 

  • नियोमिया

 

  • बुखार

 

  • त्वचा से जुड़ी समस्या

 

  • बार-बार दस्त होना

 

  • कान से जुड़ा संक्रमण जैसे ओटिटिस मीडिया

 

  • बार-बार संक्रमित होना या बीमार होना

 

  • बैक्टीरिया या अन्य रोगाणु की वजह से संक्रमण

 

  • किसी संक्रमण के उपचार के बाद सही प्रतिक्रिया न आना

 

  • संक्रमण या बीमारी से पूरी तरह ठीक न होना

 

 

बच्चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने के कारण? (Low immunity of children in Hindi)

 

 

ये हैं बच्चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने के कारण हैं:

 

  • बच्चों में आवश्यक टीकाकरण की अनुपलब्धता।

 

  • माता-पिता से कमजोर प्रतिरक्षा भी बच्चे को मिल सकती है।

 

  • बच्चों का जंक फूड अधिक खाना इम्युनिटी को कमजोर करने का काम कर सकता है।

 

  • शरीर में कुपोषण या पोषण की कमी रोग प्रतिरोधक क्षमता के कमजोर होने का मुख्य कारण है।

 

  • समय से पहले जन्म लेने वाले बच्चों में अक्सर कमजोर प्रतिरोधक क्षमता होती है। ऐसे बच्चों के शरीर पर संक्रमण तुरंत हमला कर देता है।

 

  • किसी कारण से बच्चे को स्तन का दूध नहीं मिल पाता है। दरअसल, बच्चे के जन्म के बाद मां का दूध बच्चे को संक्रमण से बचाने और उसकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का काम करता है।

 

 

बच्चों का इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए जरूरी आहार ? (Foods to Increase Child’s Immunity in Hindi)

 

 

ओट्स

ओट्स खाने से कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होती है। इसमें मौजूद बीटाग्लुकन नाम का फाइबर पेट की लाइनिंग को मजबूत करता है, जिससे इम्यून सिस्टम भी मजबूत होता है।

 

 

ड्राई फ्रूट्स

अगर आप बच्चे की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाना चाहते हैं तो उसे नियमित रूप से सूखे मेवे खिलाएं। दरअसल इनमें विटामिन और मिनरल (नियासिन, विटामिन-ई, राइबोफ्लेविन आदि) बड़ी मात्रा में मौजूद होते हैं, जो शरीर को स्वस्थ रखते हैं और रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं।

 

 

पालक

पालक में फोलेट नामक तत्व पाया जाता है, जो शरीर में नई कोशिकाएं बनाने के साथ-साथ उनमें मौजूद डीएनए की भी रक्षा करता है। पालक में मौजूद फाइबर, आयरन, एंटीऑक्सीडेंट तत्व और विटामिन सी शरीर को हर तरह से स्वस्थ रखता है। यह इम्यून सिस्टम को कमजोर नहीं होने देता।

 

 

प्रोटीन युक्त आहार

अगर आप चाहते हैं कि बच्चे की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत हो तो आप उसे ज्यादा से ज्यादा प्रोटीन युक्त खाना खिलाएं। एंटीबॉडी प्रोटीन से बनते हैं, जो शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए आवश्यक हैं। दालें, अंडे, मांस, सोया, मछली आदि में प्रोटीन प्रचुर मात्रा में होता है।

 

 

हल्दी

हल्दी में एंटी बैक्टीरियल, एंटी फंगल, प्रोटीन, विटामिन-सी, विटामिन-के, कैल्शियम, कॉपर, आयरन और जिंक जैसे तत्व होते हैं, जो शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मददगार होते हैं। बच्चे को रात को सोने से पहले दूध में हल्दी देंने से इम्युनिटी बढ़ती है।

 

 

साबुत अनाज

साबुत अनाज विटामिन बी2, विटामिन बी6, विटामिन ए, विटामिन सी, जिंक, सेलेनियम और आवश्यक फैटी एसिड से भरपूर होते हैं। यह बच्चों में इम्युनिटी को भी मजबूत करता है। ऐसे में बच्चों को यह जरूर दें।

 

 

दही

दही खाने से बच्चे का इम्यून सिस्टम भी मजबूत होता है। दही में प्रोबायोटिक्स होते हैं। प्रोबायोटिक्स में शरीर के लिए आवश्यक सभी अच्छे बैक्टीरिया होते हैं और खराब बैक्टीरिया को शरीर में प्रवेश नहीं करने देते। हालांकि रात के समय दही देने से बचें।

 

 

मशरूम

मशरूम में विटामिन-डी और एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में होता है। ये दोनों ही इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में बहुत उपयोगी होते हैं। ऐसे में जरूरी है कि आप बच्चे को मशरूम का सेवन कराएं। इसे विभिन्न सब्जियों के साथ भी दिया जा सकता है।

 

 

ब्रोकली

ब्रोकली को अपने बच्चे की डाइट में जरूर शामिल करें क्योंकि यह बड़ो के साथ साथ बच्चों के लिए भी फायदेमंद होती है। ब्रोकली में विटामिन-ए, विटामिन-सी और ग्लूटाथियोन नामक एंटीऑक्सीडेंट तत्व होते हैं, जो इम्यून सिस्टम को मजबूत करते हैं। इतना ही नहीं इसमें प्रोटीन और कैल्शियम की मात्रा भी पर्याप्त होती है, जो बच्चों में इम्युनिटी बढ़ाने में मदद करती है।


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।