हर्निया का इलाज कैसे होता है जाने इसके इलाज के लिए बेस्ट हॉस्पिटल?

GoMedii

हर्निया कई अलग-अलग प्रकार के होते हैं और इसका इलाज भी इस पर निर्भर करता है कि मरीज को कौन-सा हर्निया है। हर्निया तब होता है जब किसी अंग की मांसपेशियां या ऊतके बाहर की ओर दबाव डालती है और इस वजह से हर्निया हमारे शरीर से बाहर निकलता हुआ दिखता है। आपकी छाती और कूल्हों के बीच पेट में हर्निया होता है, लेकिन वे जांघ और कमर के क्षेत्रों में भी विकसित हो सकता है। अधिकांश हर्निया के मामले गंभीर होते हैं इसलिए इसका इलाज तुरंत कराना चाहिए। डॉक्टर जटिलताओं को रोकने के लिए मरीज को सर्जरी करवाने की भी सलाह देते हैं।

 

 

हर्निया का इलाज कैसे होता है? (How is hernia treated in Hindi)

 

 

हर्निया का एकमात्र इलाज सर्जरी है। अगर किसी व्यक्ति को हर्निया है तो उसकी सर्जरी दो तरह से की जा सकती है। पहला ओपन सर्जरी और दूसरा लैप्रोस्कोपिक सर्जरी। ओपन सर्जरी में, हर्निया से पीड़ित व्यक्ति को स्वास्थ्य विशेषज्ञ द्वारा 6 महीने तक आराम करने के लिए कहा जाता है। जबकि लैप्रोस्कोपिक सर्जरी में लोकल सर्जरी की जाती है। दरअसल लेप्रोस्कोपिक सर्जरी में मरीज के शरीर पर एक छोटा सा चीरा लगाया जाता है। आपको बता दें कि डॉक्टर दिल के मरीजों को लोकल सर्जरी की सलाह देते हैं।

 

 

हर्निया के लक्षण (Symptoms of hernia in Hindi)

 

हर्निया की समस्या किसी भी व्यक्ति को तब होती है जब शरीर का कोई अंग अपनी जगह से बाहर आ जाता है। हर्निया के कई लक्षण होते हैं:

कब्ज की समस्या

अगर किसी व्यक्ति को लगता है कि उसका पेट हमेशा भरा रहता है। इसके अलावा अगर मल त्याग के दौरान कोई समस्या हो तो यह भी हर्निया का लक्षण है। ऐसे में अगर आपको भी ऐसी कोई समस्या महसूस हो रही है तो ऐसे खाद्य पदार्थ खाएं जिससे पेट साफ हो जाए। डॉक्टर से भी सलाह लें।

पेट फूलने की समस्या

हर्निया होने पर रोगी के पेट में सूजन आ जाती है। ऐसे में यदि किसी व्यक्ति के पेट पर ऐसा लक्षण दिखाई दे तो यह अनुमान लगाया जाना चाहिए कि वह व्यक्ति हर्निया रोग से पीड़ित है। वहीं हर्निया की सूजन पेट के उस हिस्से में हो जाती है जहां मांसपेशियां कमजोर होती हैं।

सीने में दर्द

कई बार लोगों को हर्निया की समस्या के कारण भी सीने में दर्द होने लगता है। इतना ही नहीं उठने-बैठने पर भी दर्द महसूस होता है। ऐसे में अगर आपको ऐसा कोई लक्षण दिखे तो सतर्क हो जाएं और डॉक्टर से सलाह लें।

काम करने में कठिनाई

हर्निया की बीमारी से पीड़ित मरीज को कोई भी काम करने में काफी दिक्कत होती है। दरअसल, काम करने, बैठने और भारी वजन उठाने से पेट पर जोर पड़ता है।

मल में खून

हर्निया की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति को मल त्याग के दौरान काफी परेशानी होती है। इसके अलावा मल के साथ खून भी निकलता है। ऐसे में अगर शरीर में ऐसे लक्षण दिखें तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

 

 

हर्निया के इलाज के लिए बेस्ट हॉस्पिटल (Best Hospital for Hernia Treatment in Hindi)

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

यदि आप इनमें से किसी भी अस्पताल में इलाज करवाना चाहते हैं तो हमसे व्हाट्सएप (+91 9654030724) पर संपर्क कर सकते हैं।

 

 

हर्निया के कारण (Causes of high hernia in Hindi)

 

हर्निया की समस्या ज्यादातर उन लोगों में होती है जिन्होंने कभी अधिक वजन उठाया हो, कभी कोई गंभीर चोट लगी हो या कोई पहले कोई सर्जरी हुई हो। साथ ही यह समस्या उन लोगों को भी हो सकती है जिन्हें लंबे समय से कब्ज या खांसी की समस्या है। ऐसे में आइए जानते हैं हर्निया के कारणों के बारे में विस्तार से:

 

 

  • भारी सामान उठाने के कारण

 

  • वजन बढ़ने के कारण

 

  • पेट की सर्जरी के कारण

 

  • पेशाब करते समय जोर लगाना

 

  • पेरिटोनियल डायलिसिस

 

  • पौष्टिक भोजन की कमी

 

  • गर्भवती महिलाओं के पेट पर दबाव पड़ता है तो हर्निया की भी आशंका रहती है।

 

 

हर्निया की जांच के लिए टेस्ट (Tests to check for Hernia in Hindi)

 

 

आपकी स्थिति का निदान करने के लिए आपका डॉक्टर पहले एक शारीरिक परीक्षण करेगा। इस जांच के दौरान, डॉक्टर मरीज के पेट या कमर के क्षेत्र में एक उभार हुए हिस्से की जांच करेगा। हर्निया के कुछ मरीज खड़े होने, खांसने या खिंचाव होने क अनुभव करते हैं तो डॉक्टर इसके बारे में आप से पूछेगा। आपका डॉक्टर तब आपका मेडिकल इतिहास के बारे में पूछेगा। वे आपसे कई तरह के सवाल पूछ सकते हैं। आपका डॉक्टर उनके निदान में सहायता के लिए कुछ टेस्ट का सुझाव देंगे, इनमें शामिल हो सकते हैं:

 

  • पेट का अल्ट्रासाउंड

 

  • पेट का एमआरआई स्कैन

 

  • पेट का एमआरआई स्कैन

 

  • आपके पाचन तंत्र का एक्स-रे

 

  • एंडोस्कोपी

 

यदि आप ट्राइग्लिसराइड के इलाज कराना चाहते हैं या इससे संबंधित आप को सवाल पूछना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें या आप हमसे व्हाट्सएप (+91 9654030724) पर संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा आप हमारी सेवाओं के संबंध में हमें Connect@gomedii.com पर ईमेल भी कर सकते हैं। हमारी टीम जल्द से जल्द आपसे संपर्क करेगी।

 
Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।