जन्म के समय शिशु का कम वजन (LBW) क्या है?

Safe20

 

 

शिशु के जन्म के समय वजन कम होना उसके स्वास्थ्य को नुकसान पहुँचा सकता है। ऐसे बहुत से शिशु हैं जिनका वजन जन्म के समय कम होता है। विश्व स्तर पर लगभग 20 मिलियन बच्चे सभी एलबीडब्ल्यू (low birth weight LBW) के साथ पैदा होते हैं, जबकि विकासशील देशों में पैदा होने वाले बच्चे भी इसमें शामिल हैं। एलबीडब्ल्यू (LBW) की सबसे बड़ी घटना दक्षिण-मध्य एशिया में होती है दूसरा सबसे ज्यादा अफ्रीका में ऐसा होता है।

 

जन्म के समय शिशु का कम वजन जिसे अंग्रेजी में लो बिर्थ वेट (एलबीडब्लू) कहा जाता है इसके दो मुख्य कारण हैं पहला पूर्व जन्म और अंतर्गर्भाशयी विकास प्रतिबंध आईयूजीआर (Intrauterine growth restriction) हैं, जो नवजात शिशुओं में रुग्णता और मृत्यु दर में वृद्धि के जोखिम कारक हैं।

 

शिशु के जन्म के समय उनमें एलबीडब्लू (LBW) / आईयूजीआर (IUGR) के लिए सबसे महत्वपूर्ण जोखिम कारकों में से एक है। गर्भवती महिलाओं को संतुलित प्रोटीन ऊर्जा और कई पोषक तत्व का सेवन करना चाहिए तभी वह एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दे सकती हैं। ऐसा करने से आईयूजीआर की घटनाओं में कमी आएगी। भारत में 2017 में आई एक रिपोर्ट के अनुसार यह दर 2.2 प्रतिशत है।

 

 

 

जन्म के समय शिशु का कम वजन का कारण क्या है ?

 

 

दरअसल एक शिशु का औसतन वजन लगभग 3.6 किलोग्राम होना चाहिए। यदि आपका शिशु 37 से 42 सप्ताह की गर्भावस्था के बीच पैदा हुआ है और उसका वजन लगभग 5 पाउंड (2.5 किलोग्राम) या इससे कम है, तो उसे कम वजन वाला बच्चा माना जाता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, किसी भी शिशु के जन्म के समय 2.5 किलोग्राम से कम वजन होना भी लो बिर्थ वेट में आता है।

 

यदि जन्म के समय बच्चे का वजन 2 किलोग्राम से कम है, तो नवजात बच्चे की विशेष देखभाल की जाएगी और इसके लिए उसे कुछ हफ्तों तक अस्पताल में ही रखा जाता है।

 

लो बिर्थ वेट (LBW) के ज्यादातर मामले समय से पहले जन्म के कारण होते हैं। चूंकि गर्भावस्था के बाद बच्चे बहुत तेजी से बढ़ जाते हैं, गर्भ के 37 वें सप्ताह से पहले पैदा हुए कई बच्चे छोटे और कम वजन के होते हैं।

 

अन्य स्थितियां भी आपके बच्चे को LBW के साथ पैदा हो सकती हैं। उदाहरण के लिए, LBW के कारण हो सकता है:

 

 

  • जन्म से पहले माँ का स्वस्थ ना होना

 

  • बच्चे के जन्म से पहले गर्भवती महिला का कमजोर होना

 

  • अंतर्गर्भाशयी विकास प्रतिबंध (IUGR)

 

  • जन्म दोष

 

 

शिशु के जन्म के समय कम वजन की संभावित जटिलताएं क्या हैं?

 

 

यदि आपका शिशु लो बिर्थ वेट (LBW) के साथ पैदा हुआ है, तो उन्हें सामान्य वजन में पैदा होने वाले शिशुओं की तुलना में विकास संबंधी कठिनाइयां जैसे स्वास्थ्य की समस्या और समय से पहले मौत का खतरा अधिक होता है। वे सामान्य जन्म के वजन वाले शिशुओं की तुलना में कमजोर हो सकते हैं। उन्हें खाने में परेशानी, वजन बढ़ना, जल्दी ठंड लगना और अन्य बीमारी और संक्रमण का खतरा होता है।

 

 

 

लो बिर्थ वेट (LBW) से जुड़ी कुछ सामान्य स्वास्थ्य समस्याएं जिनमें शामिल हैं:

 

 

 

 

  • साँस से जुड़ी समस्या

 

 

  • पाचन से जुड़ी समस्या जैसे कब्ज़ की शिकायत

 

 

  • न्यूरोलॉजिकल समस्याएं (neurological problems)

 

 

  • आँख का कमजोर होना या कान से कम सुनाई देने की समस्या

 

  • अचानक शिशु की मृत्यु (sudden infant death syndrome SIDS)

 

 

  • आपके बच्चे का जन्म वजन जितना कम होगा, जटिलताओं का खतरा उतना अधिक होगा।

 

 

 

कम वजन वाले शिशु का इलाज कैसे किया जाता है?

 

 

आपके बच्चे की LBW के उपचार की योजना उनकी विशिष्ट स्थिति पर निर्भर करेगी। यदि वे LBW के साथ पैदा हुए हैं, तो उन्हें अस्पताल में रहने की आवश्यकता हो सकती है जब तक कि उनका पर्याप्त वजन नहीं होता है।

 

यदि आपके शिशु को अन्य स्वास्थ समस्याएं हैं, जैसे कि अविकसित फेफड़े या आंतों की समस्याएं, तो उन्हें अस्पताल में रहने की संभावना है।  आपके बच्चे की देखभाल पूरी तरह डॉक्टर की निगरानी में की जाती है। जहां स्वास्थ्य देखभाल होने से धीरे-धीरे उनके स्वास्थ्य में सुधार होने लगता है।

 

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइज़ेशनट्रीड सोर्स के अनुसार, जब भी संभव हो एलबीडब्ल्यू वाले शिशुओं को उनकी माँ के दूध की बहुत अधिक आवश्यकता होती है। ब्रैस्टमिल्क से (और यदि संभव हो तो स्तनपान) बच्चों के विकास और वजन तेजी से बढ़ाने लगता है। यदि उनके जन्म के समय मां का दूध नहीं मिलता है, तब उन्हें गाय या भैंस का दूध पिलाया जाता है। लेकिन शिशु के जन्म के समय माँ का दूध उसके पूरे शरीर को स्वस्थ रखने में उसकी मदद करता है। यदि आपके भी शिशु का वजन जन्म के समय कम है तो ऐसे में आपको तुरंत डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।