दिल्ली एनसीआर में किडनी कैंसर के इलाज के लिए बेस्ट हॉस्पिटल?

GoMedii

जब आपको कोई गंभीर बीमारी होती है तो आप सबसे पहले एक अच्छे डॉक्टर की तलाश करते हैं उसके बाद आप सबसे अच्छे हॉस्पिटल की तलाश करते हैं। यदि आप दिल्ली एनसीआर में किडनी कैंसर के इलाज के लिए बेस्ट हॉस्पिटल खोज रहे हैं तो हम आपको सबसे अच्छे हॉस्पिटल के बारे में बताएंगे। किडनी कैंसर बहुत गंभीर बीमारी है और इसका इलाज सही समय पर किया जाना बहुत जरुरी है। लेकिन किडनी कैंसर का इलाज इसके प्रकार पर निर्भर करता है। इसके लिए डॉक्टर कुछ टेस्ट के माध्यम से यह पता लगाते हैं की किडनी का कितना हिस्सा कैंसर से संक्रमित है उसके बाद वह यह निर्णय लेते हैं कि कौन-सा इलाज मरीजे के लिए सबसे अच्छा रहेगा। यदि आप अपने इलाज के लिए डॉक्टर से कंसल्ट करना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें

 

 

किडनी कैंसर के इलाज के लिए बेस्ट हॉस्पिटल? (Best hospital for kidney cancer treatment in Hindi)

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

यदि आप इनमें से किसी भी अस्पताल में इलाज करवाना चाहते हैं तो हमसे व्हाट्सएप (+91 9654030724) पर संपर्क कर सकते हैं।

 

 

किडनी कैंसर के प्रकार? (Types of kidney cancer in Hindi)

 

किडनी कैंसर चार प्रकार का होता है।

 

  • रेनल सेल कार्सिनोमा: यह किडनी कैंसर के लगभग 90% मामलों का कारण बनता है। यह गुर्दे के भीतर छोटी नलिकाओं के अस्तर से उत्पन्न होता है।

 

  • ट्रांजिशनल सेल कार्सिनोमा: यह किडनी कैंसर के 5 से 10 प्रतिशत मामलों के लिए जिम्मेदार है। इसे यूरोटेलियल कार्सिनोमा भी कहा जाता है।

 

  • विल्म्स ट्यूमर: इस ट्यूमर को नेफ्रोब्लास्टोमा भी कहा जाता है। यह आमतौर पर बच्चों में पाया जाता है।

 

  • रेनल सार्कोमा: यह किडनी कैंसर के केवल एक प्रतिशत मामलों के लिए जिम्मेदार है। इसका इलाज अन्य सार्कोमा की तरह ही किया जाता है।

 

 

किडनी कैंसर होने के कारण क्या हैं? (What are the causes of kidney cancer in Hindi)

 

दरअसल यह अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है कि अधिकांश किडनी कैंसर का कारण क्या है। डॉक्टर जानते हैं कि किडनी कैंसर तब शुरू होता है जब कुछ किडनी कोशिकाएं अपने डीएनए में परिवर्तन (म्यूटेशन) करती हैं। एक सेल के डीएनए में निर्देशक होते हैं जो एक सेल को बताते हैं कि क्या करना है। जब परिवर्तन होता है तो कोशिकाएं तेजी से बढ़ने लगती हैं और विभाजित होने लगती है। जमा होने वाली असामान्य कोशिकाएं एक ट्यूमर बनाती हैं। कुछ कोशिकाएं शरीर के अन्य हिस्सों में फैल सकती हैं।

 

 

किडनी कैंसर के लक्षण क्या हैं? (What are the symptoms of kidney cancer in Hindi)

 

बहुत से लोग कैंसर का जल्दी पता नहीं लगा पाते हैं। लेकिन जैसे-जैसे ट्यूमर बड़ा होता जाता है, निम्न लक्षण दिखने लगते हैं।

 

  • पेट में गांठ

 

  • शरीर दर्द

 

  • पेशाब में खून

 

  • पैरों में सूजन

 

  • भूख में कमी

 

  • हमेशा थकान महसूस होना

 

  • तेजी से वजन घटना

 

जरूरी नहीं कि ये लक्षण किडनी के कैंसर होने पर ही दिखाई दें। यदि आपको इनमें से कोई भी लक्षण महसूस होता है तो तुरंत अपने डॉक्टर से सलाह लें।

 

 

किडनी कैंसर की कितनी स्टेज होती हैं? (What are the stages of kidney cancer in Hindi)

 

  • स्टेज I: किडनी ट्यूमर 7 सेमी तक चौड़ा या छोटा होता है और केवल किडनी में ही होता है। यह लिम्फ नोड्स या अन्य ऊतक में नहीं फैलाता है। (लिम्फ नोड्स छोटे “फिल्टर” होते हैं जो रोगाणुओं और कैंसर कोशिकाओं को रोकते हैं।

 

  • स्टेज II: इस स्टेज में कैंसर केवल किडनी में ही होता है। यह लिम्फ नोड्स या अन्य ऊतक में नहीं फैला है।

 

  • स्टेज III: स्टेज III में कैंसर शरीर की प्रमुख रक्त वाहिकाओं में फैल जाता है। किडनी की शिरा और अवर वेना कावा या किडनी के आसपास के ऊतक में, या पास के लिम्फ नोड्स में भी यह फ़ैल चूका होता है।

 

  • स्टेज IV: कैंसर किडनी के बाहर लिम्फ नोड्स, या अन्य अंगों में फैल चूका है। ऐसे ज्यादातर मामलों में डॉक्टर मरीज को किडनी ट्रांसप्लांट की सलाह देते हैं।

 

 

किडनी कैंसर से बचाव कैसे करें? (How to prevent kidney cancer in Hindi)

 

अपने स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए कुछ कदम उठाएं। ऐसा करने से आपकी किडनी के कैंसर के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है। अपने जोखिम को कम करने के लिए प्रयास करें:

 

  • धूम्रपान छोड़े: यदि आप धूम्रपान करते हैं, तो ऐसा ना करें। ऐसा करना आपके पूरे स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा रहेगा। यदि आप धूम्रपान छोड़ना चाहते हैं तो अपने डॉक्टर को बताएं वह इसमें आपकी मदद करेंगे।

 

  • स्वस्थ वजन बनाए रखें: स्वस्थ वजन बनाए रखने के लिए काम करें। यदि आपका वजन अधिक है, तो हर दिन आपके द्वारा उपभोग की जाने वाली कैलोरी की संख्या कम करें और सप्ताह के अधिकांश दिनों में शारीरिक रूप से सक्रिय रहने का प्रयास करें।

 

  • उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करें: अपने डॉक्टर से अपनी अगली मुलाकात पर अपने रक्तचाप की जांच करने के लिए कहें।

 

यदि आप किडनी कैंसर का इलाज के लिए डॉक्टर से संपर्क करना चाहते हैं या इससे सम्बंधित किसी भी तरह की जानकारी हासिल करना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें या आप हमसे व्हाट्सएप (+91 9654030724) पर संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा आप हमारी सेवाओं के संबंध में हमें Connect@gomedii.com पर ईमेल भी कर सकते हैं। हमारी टीम जल्द से जल्द आपसे संपर्क करेगी। हम आपका सबसे अच्छे हॉस्पिटल में इलाज कराएंगे।

 
Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।