जाने शरीर में जिंक (Zinc) की कमी को कैसे दूर करें?

GoMedii

आप में से बहुत से लोग जिंक के फायदों के बारे में नहीं जानते होंगे और शरीर में इसकी कमी होने पर क्या हो सकता है इसके बारे में भी आपको अंदाजा नहीं होगा। जिंक रहित खाद्य पदार्थ आपके शरीर के लिए बहुत ज़रूरी है। नियमित रूप से जिंक फ़ूड का सेवन करने से कई बीमारियों से बचा जा सकता है। आज हम आपको जिंक के बारे में कुछ ख़ास बातें बताएंगे साथ ही ये भी बताएंगे कि इसके कितने फायदे होते हैं। जिन्हें जानने के बाद आप भी जिंक फूड्स को भोजन में शामिल करना पसंद करेंगे। यदि आप चाहें तो घर बैठे शरीर में जिंक की कमी को दूर कर सकते हैं।

 

 

शरीर में जिंक की कमी को कैसे दूर करें ?

 

यदि आपके शरीर में इसकी कमी हो जाती है तो आपको कई तरह की स्वास्थ्य समस्या हो सकती है लेकिन आप इन चीजों का सेवन करके जिंक की कमो को दूर कर सकते हैं :

 

कद्दू के बीज

कद्दू के बीज जिंक का एक बहुत अच्छा स्रोत माना जाता है, इसलिए आपको अपने शरीर में जिंक की कमी को पूरा करने के लिए कद्दू के बीजों का सेवन करना चाहिए। दरअसल एक कद्दू के बीज में 2.2 मिलीग्राम ज़ी और 8.5 मिलीग्राम प्रोटीन होता है। कई शोध बताते हैं कि कद्दू के बीज खाने से कैंसर के खतरे को भी रोका जा सकता है।

 

अंडे

आपके शरीर में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने और जिंक की कमी को पूरा करने के लिए अंडे बहुत मदद करेंगे। आपको नियमित रूप से अंडे का सेवन करना चाहिए। अंडे की जर्दी में जिंक, विटामिन बी 12, फोलेट, फॉस्फोरस, थाइमिन, विटामिन बी 6, कैल्शियम, आयरन,और पैंथोनिक एसिड पाए जाते हैं। ये सभी पोषक तत्व मानव शरीर के लिए बहुत लाभदायक होते हैं।

 

मूंगफली

आपको शायद यह नहीं मालूम होगा कि मूंगफली को जिंक का सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है। इसमें मैग्नीशियम, विटामिन ई, आयरन,  फाइबर, फोलिक एसिड और पोटैशियम होता है। इसमें  रेसवेराट्रल ’नामक एक एंटी-ऑक्सीडेंट भी होता है जो मुक्त कणों को रोकता है। वे वसा और कोलेस्ट्रॉल को कम करते हैं।

 

काजू

आप काजू के पौधे से भी जिंक प्राप्त कर सकते हैं, जो जिंक का एक बहुत अच्छा स्रोत है। आप चाहे तो काजू को कच्चा खा सकते हैं या भुना। इसमें तांबा, फोलेट, विटामिन ए, विटामिन के, और स्वस्थ असंतृप्त वसा (Healthy unsaturated fat) से समृद्ध होता है। काजू का सेवन करने से दिल की बीमारियों का खतरा कम होता है और अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ावा मिलता है।

 

रेड मीट

बहुत से लोगों को मांसाहारी भोजन पसंद होता है, तो ऐसे में आप शरीर में जिंक की कमी को रेड मीट के सेवन से कम कर सकते हैं। यह आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प है। इसमें विटामिन बी 12 अच्छी मात्रा होती है। रेड मीट का सेवन आपके शरीर में कोलेस्ट्रॉल और वसा को कम करता है, जो हृदय स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हो सकता है।

 

 

जिंक को हिंदी में किस नाम से जाना जाता है ?

 

जिंक को हिंदी में जस्ता के नाम से जाना जाता है। ये मानव शरीर में कोशिका विभाजन, कोशिका वृद्धि, घाव भरने और प्रतिरक्षा में मदद करता है। कोरोना वायरस के संक्रमण से लड़ने में जिंक बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसके अलावा, जिंक गर्भावस्था के दौरान बच्चे के विकास के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण होता है।

 

जिंक का क्या काम है?

 

जिंक भी आयरन और कैल्शियम की तरह हमारे शरीर को विभिन्न तरह के काम करने में मदद करता है और यह बहुत जरूरी मिनरल है। जिंक से हमें कई तरह के स्वास्थ्य लाभ मिल सकते हैं। यह हमारी रोग-प्रतिरोधक प्रणाली, त्वचा के स्वास्थ्य तथा जख्मों के उपचार में बहुत ही एहम भूमिका निभाता है।

 

जिंक की कमी से क्या होता है?

 

ये तो आपको पता ही चल गया कि जिंक हमारी रोग-प्रतिरोधक प्रणाली, त्वचा के स्वास्थ्य तथा जख्मों के उपचार में बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसकी हल्की-सी कमी के चलते प्रतिरोधक क्षमता में कमी, त्वचा जुड़ी समस्याएं, दृष्टि कम होना और अन्य कई समस्याएं होती हैं।


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।