यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी क्यों की जाती है जाने इसके लिए बेस्ट हॉस्पिटल

GoMedii

यूरिनरी ब्लैडर को हिंदी में मूत्राशय की थैली कहा जाता है। हमारे शरीर का वह विशेष अंग है जो शरीर में जमा सभी तरल अपशिष्ट उत्पादों को संग्रहीत करता है और उन्हें मूत्र के माध्यम से शरीर से निकाल देता है। यह सब तरल अपशिष्ट उत्पाद यानी मूत्र गुर्दे द्वारा बनाया जाता है और यूरिनरी ब्लैडर में मूत्र नहर के माध्यम से जमा किया जाता है जहां से यह मूत्र के रूप में बाहर निकल जाता है।

यह शरीर का यह खास हिस्सा कभी-कभी शारीरिक समस्याओं का शिकार हो जाता है, जिसकी वजह से सर्जरी करनी पड़ती है। जिस प्रकार यूरिनरी ब्लैडर को अनेक प्रकार की बीमारियों का सामना करना पड़ता है, उसी प्रकार इसकी सर्जरी भी कई प्रकार की होती है। इस लेख में यूरिनरी ब्लैडर की सर्जरी के बारे में विस्तार से बताएंगे। यदि आपको यूरिनरी ब्लडडर से जुडी कोई समस्या है तो आप हमारे डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं। डॉक्टर से कंसल्ट करने के लिए यहाँ क्लिक करें

 

 

यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी क्यों की जाती है? (Why is urinary bladder surgery done in Hindi)

 

 

यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी एक प्रक्रिया है और यह तब की जाती है जब गुर्दे के नीचे मूत्रमार्ग के ऊपर पेशाब होता है। यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी का प्रकार इस बात पर निर्भर करता है कि मरीज को क्या समस्या है। जिन स्थितियों में सर्जरी की आवश्यकता हो सकती है उनमें शामिल हैं:

 

 

  • सिस्टोसेले

 

  • यूरिनरी इंकॉन्टीनेंस

 

  • यूरिनरी – ब्लैडर स्टोन

 

 

यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी के लिए बेस्ट हॉस्पिटल (Best hospital for urinary bladder surgery in Hindi)

 

यदि आप यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी कराना चाहते हैं तो आप हमारे द्वारा बताए गए इनमें से कोई भी हॉस्पिटल में अपना इलाज करवा सकते हैं:

 

यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी के लिए दिल्ली के बेस्ट अस्पताल

 

  • बीएलके-मैक्स सुपर स्पेशलिटी अस्पताल, राजिंदर नगर, दिल्ली

 

  • इंद्रप्रस्थ अपोलो अस्पताल, सरिता विहार, दिल्ली

 

  • फोर्टिस हार्ट अस्पताल, ओखला, दिल्ली

 

  • मैक्स सुपर स्पेशलिटी अस्पताल, साकेत, दिल्ली

 

यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी के लिए गुरुग्राम के बेस्ट अस्पताल

 

  • नारायण सुपरस्पेशलिटी अस्पताल, गुरुग्राम

 

  • मेदांता द मेडिसिटी, गुरुग्राम

 

  • फोर्टिस हेल्थकेयर लिमिटेड, गुरुग्राम

 

  • पारस अस्पताल, गुरुग्राम

 

यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी के लिए ग्रेटर नोएडा के बेस्ट अस्पताल

 

  • शारदा अस्पताल, ग्रेटर नोएडा

 

  • यथार्थ अस्पताल, ग्रेटर नोएडा

 

  • बकसन अस्पताल, ग्रेटर नोएडा

 

  • जेआर अस्पताल, ग्रेटर नोएडा

 

  • प्रकाश अस्पताल, ग्रेटर नोएडा

 

  • दिव्य अस्पताल, ग्रेटर नोएडा

 

  • शांति अस्पताल, ग्रेटर नोएडा

 

यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी के लिए मेरठ के बेस्ट अस्पताल

 

  • सुभारती अस्पताल, मेरठ

 

  • आनंद अस्पताल, मेरठ

 

यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी के लिए हापुड़ के बेस्ट अस्पताल

 

  • शारदा अस्पताल, हापुड़

 

  • जीएस अस्पताल, हापुड़

 

  • बकसन अस्पताल, हापुड़

 

  • जेआर अस्पताल, हापुड़

 

  • प्रकाश अस्पताल, हापुड़

 

यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी के लिए कोलकाता के सबसे अच्छे अस्पताल

 

  • रवींद्रनाथ टैगोर इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ कार्डिएक साइंस, मुकुंदपुर, कोलकाता

 

यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी के लिए बैंगलोर के सबसे अच्छे अस्पताल

 

  • फोर्टिस अस्पताल, बन्नेरगट्टा रोड, बैंगलोर

 

  • अपोलो अस्पताल, बैंगलोर

 

यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी के लिए मुंबई के सबसे अच्छे अस्पताल

 

  • नानावटी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल, विले पार्ले वेस्ट, मुंबई

 

  • लीलावती अस्पताल और अनुसंधान केंद्र, बांद्रा, मुंबई

 

यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी के लिए हैदराबाद के सबसे अच्छे अस्पताल

 

  • ग्लेनीगल्स ग्लोबल हॉस्पिटल्स, लकडी का पूल, हैदराबाद

 

यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी के लिए चेन्नई के सबसे अच्छे अस्पताल

 

  • अपोलो प्रोटॉन कैंसर सेंटर, चेन्नई

 

यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी के लिए अहमदाबाद के सबसे अच्छे अस्पताल

 

  • केयर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, सोला, अहमदाबाद

 

यदि आप इनमें से कोई अस्पताल में इलाज करवाना चाहते हैं तो हमसे व्हाट्सएप (+91 9654030724) पर संपर्क कर सकते हैं।

 

 

यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी के कितने प्रकार होते हैं? (How many types of urinary bladder surgery are there in Hindi)

 

 

ज्यादातर यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी अब रोबोटिक प्रक्रिया के माध्यम से की जाती हैं, जिसका अर्थ है कि आपका सर्जन बहुत कम चीरे लगाएंगे और फिर पोर्ट लगाएगा जो सर्जरी करने के लिए रोबोटिक हथियारों के उपयोग की अनुमति देता है। कुछ ऐसी ओपन सर्जरी होती हैं जिनमें लंबा कट होता है। सर्जरी के प्रकारों में शामिल हैं:

 

  • ब्लैडर एक्सस्ट्रोफी की मरम्मत (Bladder exstrophy repair): इस प्रक्रिया में मूत्राशय अंदर बाहर होता है और पेट की दीवार से चिपक जाता है इसे ठीक करने के लिए यह सर्जरी की जाती है।

 

  • एंटीरियर रिपेयर (Anterior repair): यह एक प्रकार का गंभीर सिस्टोसिले की समस्या को ठीक करते हैं। डॉक्टर इस प्रकार की सर्जरी में योनि की दीवार में एक चीरा (कट) लगाते हैं और मूत्राशय को योनि से अलग करने वाले ऊतक को कड़ा कर दिया जाता है। सर्जन योनि समर्थन में सुधार के लिए सिंथेटिक या जैविक सामग्री से बने स्थायी जाल ग्राफ्ट भी लगा सकते हैं।

 

  • उरोस्टॉमी (Urostomy): यूरोस्टॉमी नामक एक प्रक्रिया है, जिसमें आपकी आंत के एक खंड को हटा दिया जाता है और आपके मूत्रवाहिनी से जोड़ दिया जाता है। यह आपके गुर्दे से मूत्र को आपके नाभि के पास एक उद्घाटन तक ले जाता है। मूत्र एकत्र करने के लिए रंध्र से एक हल्का, रिसाव-प्रूफ बैग जुड़ा होता है। बैग को आवश्यकतानुसार खाली किया जा सकता है।

 

निओब्लैडर यूरोस्टॉमी (Neobladder urostomy): आपकी आंत का एक खंड एक छोटी थैली या एक बड़े “नियोब्लैडर” में भी बन सकता है। थैली या मूत्राशय आपके मूत्राशय द्वारा छोड़ी गई गुहा में रखा जाता है और मूत्र को संग्रहीत करता है। आपकी आंत से फिर से बनी एक नली, पेट में एक रंध्र की ओर ले जाती है, लेकिन इस उदाहरण में, एक वाल्व जब चाहें थैली को बाहर निकालने की अनुमति देता है।

मूत्र को सामान्य रूप से निकालने की अनुमति देने के लिए नियोब्लैडर आपके मूत्रमार्ग से जुड़ा हो सकता है। ब्लैडर कैंसर लोगों के लिए ब्लैडर सर्जरी कराने का सबसे आम कारण बनता है। मूत्राशय कैंसर के चरण और प्रगति के आधार पर, सर्जरी का उपयोग अन्य उपचारों जैसे किमोथेरेपी या रेडिएशन थेरेपी के संयोजन में किया जा सकता है। ब्लैडर कैंसर के इलाज के लिए कई तरह की प्रक्रियाएं की जा सकती हैं। उन प्रक्रियाओं में शामिल हैं:

 

  • रेडिकल सिस्टेक्टॉमी (Radical cystectomy): इस प्रक्रिया में आपके मूत्राशय को पूरी तरह से हटा दिया जाता है। आपके पेट में एक चीरा लगाएगा और कैंसर की स्थिति निर्धारित करने के लिए मूत्राशय और आस-पास के अंगों की सावधानीपूर्वक जांच की जाती है और देखें कि यह आसन्न संरचनाओं और अंगों में फैल गया है या नहीं। आपका मूत्राशय किसी भी अन्य प्रभावित अंगों के साथ हटा दिया जाता है।

 

  • सेगमेंटल या आंशिक सिस्टेक्टॉमी (Segmental or partial cystectomy): सेगमेंटल सिस्टेक्टोमी सर्जरी वह होती है जहां आपके मूत्राशय का हिस्सा हटा दिया जाता है। यह सर्जरी उन लोगों के लिए की जा सकती है जिन्हें ट्यूमर है जो उनके मूत्राशय की दीवार को नुकसान पहुंचाती है  लेकिन एक क्षेत्र तक सीमित रहती है। चूंकि ब्लैडर का केवल एक हिस्सा हटा दिया जाता है, वे इस सर्जरी से ठीक होने के बाद सामान्य रूप से पेशाब करने में सक्षम होते हैं।

 

  • ट्रांसयूरेथ्रल रिसेक्शन फुलगुरेशन के साथ सर्जरी (Transurethral resection with fulguration): इस सर्जरी में मरीज के मूत्रमार्ग के माध्यम से ब्लैडर में एक सिस्टोस्कोप (एक पतली रोशनी वाली ट्यूब) डाली जाती है। अंत में एक छोटे तार के लूप के साथ एक उपकरण का उपयोग कैंसर को दूर करने या ट्यूमर को खत्म करने के लिए किया जाता है। इसे फुलगुरेशन के रूप में जाना जाता है।

 

  • यूरिनरी डायवर्जन (Urinary diversion): यह आपके शरीर को यूरिन को स्टोर करने और पास करने का एक नया तरीका बनाने के लिए एक सर्जरी है।

 

 

किस तरह का सर्जन मूत्राशय की सर्जरी करता है? (What kind of surgeon performs bladder surgery in Hindi)

 

ब्लैडर की सर्जरी सर्जिकल यूरोलॉजिस्ट द्वारा की जाती है। यूरोलॉजिस्ट पुरुष और महिला दोनों मूत्र पथ के विशेषज्ञ होते हैं।

 

 

ब्लैडर की सर्जरी इनपेशेंट है या आउट पेशेंट? (Bladder surgery is inpatient or outpatient in Hindi)

 

यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप किस प्रकार की सर्जरी कर रहे हैं। अपने स्वास्थ्य सेवा प्रदाता से पूछें कि क्या आपको अस्पताल में रहने की आवश्यकता होगी।

 

 

ब्लैडर क्या करता है? (What does the bladder do in Hindi)

 

 

पेशाब किडनी द्वारा फ़िल्टर किया जाता है इसके बाद यह ब्लैडर में संग्रहीत होता है। पेशाब आपके  से मूत्रवाहिनी के नीचे और आपके मूत्राशय में जाता है, जहां यह आपके मूत्रमार्ग के माध्यम से आपके शरीर से बाहर निकलने से पहले जमा हो जाता है। आपका मूत्राशय पेशीय, लचीले ऊतकों से बना होता है जो पेशाब की मात्रा के आधार पर बड़ा या छोटा हो सकता है। आपके मूत्राशय की मांसपेशियां तब सिकुड़ती हैं जब वे आपके पेशाब को आपके मूत्रमार्ग से धकेलती हैं।

 

 

यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी के बाद रिकवरी में कितना समय लगता है? (recovery take after urinary bladder surgery in Hindi)

 

यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी के बाद आपको 10 दिनों तक अस्पताल में रहने की आवश्यकता हो सकती है। सर्जरी से पूरी तरह ठीक होने में मरीज को 4 महीने तक का समय लग सकता है। इस सर्जरी से ज्यादातर लोग जल्दी ठीक हो जाते हैं। जब आप सिस्टेक्टॉमी करवाते हैं, तो आपको लगभग एक सप्ताह तक अस्पताल में रहने की आवश्यकता हो सकती है।

जब आप ब्लैडर सस्पेंशन सर्जरी करवाते हैं, तो यह सर्जरी करने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली विशिष्ट विधि पर निर्भर करता है। कुछ प्रक्रियाओं को एक आउट पेशेंट के रूप में किया जा सकता है। किसी भी मूत्राशय की सर्जरी जो पेट के माध्यम से चीरा लगाकर की जाती है, योनि के माध्यम से की जाने वाली प्रक्रियाओं की तुलना में ठीक होने में अधिक समय लेती है।

 

यदि आप यूरिनरी ब्लैडर सर्जरी कराना चाहते हैं या इससे सम्बंधित किसी भी समस्या का इलाज कराना चाहते हैं, या कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें। इसके अलावा आप प्ले स्टोर से हमारा ऐप डाउनलोड करके डॉक्टर से डायरेक्ट कंसल्ट कर सकता हैं। आप हमसे  व्हाट्सएप (+91 9654030724) पर भी संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा आप हमारी सेवाओं के संबंध में हमें Connect@gomedii.com पर ईमेल() भी कर सकते हैं। हमारी टीम जल्द से जल्द आपसे संपर्क करेगी।

 
Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।