कोरोना वायरस में तनाव और डिप्रेशन से बचने के तरीके

Safe20

 

 

कोरोना वायरस ने जितने लोगों को संक्रमित किया और जितने लोगों की जान ली है उससे कई ज्यादा कोरोना वायरस में तनाव और डिप्रेशन भी बहुत लोगों को हुआ है। कोरोना वायरस को फैलने से रुकने के लिए ही बाद पूरे देश में लॉकडाउन कर दिया गया था।  जिसके बाद लोगों का तनाव और डिप्रेशन की समस्या ज्यादा हुई।

 

कई राज्य में कोविड -19 का संक्रमण काफी बढ़ता जा रहा है। इसके साथ ही लोगों में तनाव और डिप्रेशन की कहानियां भी बढ़ रही हैं। ये समस्या उन लोगों को ज्यादा हुई है जिन्हें घर पर लम्बे समय तक अकेले रहना पड़ा है।

 

 

 

कोरोना के समय तनाव और डिप्रेशन बढ़ने का कारण

 

 

  • कोरोना वायरस में तनाव और डिप्रेशन बढ़ने का सबसे बड़ा कारण है लोगों के मन में बीमारी का डर जो उनमें काफी तनाव पैदा करता है। जब तक इस बीमारी का सही इलाज या वैक्सीन नहीं मिल जाती है तब तक लोगों के मन में डर बना रहेगा।

 

 

  • इस लॉक डाउन में उन लोगों को इसकी समस्या ज्यादा हुई है जो अकेले रहते थे। लॉक डाउन लगने से आप किसी अपने से बाहर मिलने भी नहीं जा सकते है इसलिए आपको अधिकतर समय घर पर अकेले ही रहना पड़ रहा था। जिसके कारण आपको डिप्रेशन जल्दी होने लगता है।

 

 

  • अकेले रहने की वजह से लोग बहुत अधिक नशा भी करने लगते हैं, जो उन्हें और भी डिप्रेस फील कराता है।

 

 

  • पूरे समय घर पर रहने की वजह से आपका रूटीन बिगड़ जाता है और इसकी वजह से ना तो आप समय पर खाना खाते हैं और ना ही समय पर सोते हैं जो की डिप्रेशन और तनाव का कारण बनता है।

 

 

  • नींद ना पूरी होने की वजह से ही आपको तनाव होता है और इसकी वजह से आपको कई अन्य बीमारियां होती हैं।

 

 

  • जब आपको तनाव  होता है तो उसकी वजह से आपका स्वभाव भी चिड़चिड़ा हो जाता है और आपको मामूली बातों पर गुस्सा आता है।

 

 

 

कोरोना वायरस में तनाव और डिप्रेशन से बचने के तरीके

 

 

संगीत और मनपसंद किताबें

 

संगीत सुनने से मन को शांति मिलती है। इसलिए जब भी आप तनाव महसूस करें, तो अपनी पसंद का गाना सुने। ये आपके मानसिक स्वास्थ्य के लिए अच्छा रहेगा। संगीत सुनने से आपके मानसिक स्वास्थ्य में सुधार भी होता है। चिंता से बचने के लिए आप अपनी मनपसंद किताब भी पढ़ सकते हैं। खाली समय में आपको यही करना चाहिए। ऐसा करके आप कोरोना वायरस में तनाव और डिप्रेशन से बचे रहेंगे।

 

 

 

व्यायाम और योग

 

वैज्ञानिकों ने भी शोधों में ये दावा किया है कि व्यायाम या योग आपके तनाव और डिप्रेशन को दूर करने का सबसे अच्छा तरीका है। योग और व्यायाम हमारे दिमाग को स्थिर करने और एकाग्र करने में मदद करता है। ऐसा करने से पॉजिटिविटी भी आपके मन में आती है। इससे आपके  डिप्रेशन को बढ़ाने वाले नकारात्मक विचार भी कम होते है।

 

 

 

अपने काम का समय निर्धारित करें

 

आपको अपने काम के हिसाब से टाइम मैनेजमेंट करना बहुत जरूरी है। यह आपको काम में फोकस करने में मदद करेगा। इससे आपका तनाव और डिप्रेशन अपने आप कम होने लगेगा। टाइम मैनेजमेंट को सुधारने का एक बहुत ही बेहतरीन तरीका यह है कि जरूरत से ज्यादा काम का बूझ ना लें। अपने प्लानिंग में कुछ रिजर्व समय भी रखें ताकि आप अपने घर वालों के साथ बातें कर सकें।

 

 

 

मेडिटेशन करें

 

तनाव, और डिप्रेशन को दूर करने के लिए मेडिटेशन सबसे अच्छा उपाय है। इसे करने से आपका मन हमेशा शांत रहेगा और इसे करते वक़्त अगर आप ओउम् का जाप भी करेंगे तो ये आपके लिए और भी अच्छा रहेगा। आप चाहें तो कुछ पॉजिटिव भी सोच सकते हैं। रोजाना मेडीटेशन करने से आप न सिर्फ तनाव से दूर रहेंगे बल्कि यह आपको सेहतमंद भी रखेगा।

 

 

 

ज्यादा न सोचे

 

यदि आपको तनाव और डिप्रेशन होता है तो किसी भी चीज के बारे में जरूरत से ज्यादा ना सोचें, इससे आपके दिमाग पर स्ट्रेस बढ़ता है। इससे कई बार दिमागी और मानसिक परेशानी भी बार-बार होने लगती हैं। जब भी आपको किसी बात की चिंता हो तो उसको अपने किसी दोस्त या परिवार वालों के साथ शेयर करे और जितना हो सके कम सोचें। यदि आपके साथ भी ऐसा बार-बार हो रहा है तो आप हमारे डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।