दिल का दौरा पड़ने से पहले हमारा शरीर क्या संकेत देता है?

दुनिया भर में सबसे ज्यादा दिल के मरीज भारत में है। कुछ आंकड़ों से पता चलता है कि भारत में, लगभग 30 मिलियन हृदय रोगी हैं जिनमें से हर साल दो लाख लोगों की सर्जरी की जाती हैं। दिल का दौरा पड़ने पर उस व्यक्ति की जान चली जाती है। प्रति वर्ष 29 नवंबर को वर्ल्ड हार्ट डे मनाया जाता है। ताकि इसके प्रति ज्यादा से ज्यादा लोगों को जागरूक किया जा सके और हर साल इसके लिए अलग थीम भी रखी जाती है।

 

 

 

दिल का दौरा पड़ना क्या होता है? (What is a heart Attack in Hindi)

 

 

 

दिल का दौरा आज के समय में युवाओं को भी अपना शिकार बना रहा है अगर हम पहले की बात करें तो बुजुर्गो में यह बीमारी ज्यादा देखने को मिलती थी। दिल का दौरा पड़ने का मतलब होता है जब किसी व्यक्ति के हृदय में रक्त प्रवाह में रुकावट आने लगती है।

 

शरीर में रक्त की आपूर्ति में कमी की वजह से विभिन्न अंग ठीक से काम नहीं कर पाते हैं। किसी भी व्यक्ति के साथ ऐसा इसलिए होता है जब वह बहुत अधिक वसा, कैल्शियम वाले खाद्य पदार्थो का सेवन करता है। यही वजह है की दिल पर ज्यादा काम करने का दबव पड़ता है।

 

 

 

दिल का दौरा पड़ने के संकेत (Signs of Heart Attack in Hindi)

 

 

 

  • बेचैनी महसूस होना : जिन्हें दिल से जुड़ी समस्या रहती है उन्हें रात में सोते वक़्त अक्सर बेचैनी होने लगती है।

 

 

  • भूख में कमी : जब किसी को दिल का दौरा पड़ने वाला होता है तो कुछ दिन पहले से उसे भूख कम लगने लगती है। इसे बहुत से लोग नज़रअंदाज़ करते है। हालाँकि, कभी-कभी भूख कम लगना कई गंभीर बीमारियों जैसे दिल का दौरा, प्रोस्टेट आदि का संकेत भी हो सकता है।

 

 

 

 

  • थकान : दिल का दौरा पड़ने से पहले उस व्यक्ति को बहुत ज्यादा थकान महसूस होती है।

 

 

  • कमजोरी : यदि आपके शरीर में बहुत ज्यादा कमजोरी रहती है तो आपको अपना आहार सही रखना होगा। शरीर में कमजोरी भी इसके संकेत होते है।

 

 

  • अनियमित दिल की धड़कन : अचानक सांस फूलना भी दिल का दौरा पड़ने के सबसे आम संकेत होते है। उनकी जरा सी लापरवाही उनकी जान तक ले सकती है।

 

 

  • अचानक वजन बढ़ना : जिन लोगों के वजन में अचानक बदलाव होने लगता है, तो ये भी दिल का दौरा पड़ने के संकेत हो सकते है।

 

 

  • ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई : जब आपकेे दिल की धड़कन ही ठीक से नहीं चलेगी तो आप किसी और काम में अपना ध्यान  केंद्रित नहीं कर पाएंगे।

 

 

  • छाती में दर्द : यह दिल का दौरा पड़ने के प्रमुख संकेतो में से एक है, ऐसा होने पर उस व्यक्ति की छाती में तेज दर्द होता है। कुछ लोग इसे सामान्य दर्द समझ कर नज़रअंदाज़ कर देते हैं। जबकि कुछ लोग इसके लिए दर्द निवारक दवाइयाँ खाते हैं, लेकिन ऐसा करना किसी के लिए भी हानिकारक साबित हो सकता है।

 

 

  • पैर और टखने में सूजन : जाहिर सी बात है जब शरीर के सभी आंतरिक अंगों में रक्त ठीक से नहीं पहुँचेगा तो आपके पैरों, टखनों में सूजन आने लगेगी, ऐसा होने पर दिल का दौरा पड़ने की संभावना बढ़ जाती है।

 

 

 

दिल का दौरा पड़ने के कारण (Causes of Heart Attack in Hindi)

 

 

 

  • धूम्रपान करना,

 

 

  • ज्यादा समय तक एक ही जगह पर बैठना,

 

 

  • ज्यादा कोलेस्ट्रॉल होना,

 

 

  • उच्च रक्तचाप,

 

 

  • बहुत ज्यादा तनाव लेना,

 

 

  • जरुरत से ज्यादा शारीरिक श्रम करना,

 

 

  • अधिक वसा वाला भोजन करना।

 

 

 

दिल के दौरे से बचाव के तरीके (Ways to prevent Heart Attack in Hindi)

 

 

 

  • यदि आप खुद को दिल के दौरे पड़ने से बचाना चाहते है तो अपना वजन बिल्कुल नियंत्रण में रखें क्योंकि मोटापा आपके रक्तचाप को भी बढ़ा सकता है।

 

 

  • आप अपने पूरे शरीर को स्वस्थ रखना चाहते है तो कोशिश करें की रोजाना सुबह के वक़्त कुछ समय व्यायाम करें ऐसा करने से आप मानसिक और शरीरिक रूप से स्वस्थ रहेंगे।

 

 

  • आपके शरीर को चलने के लिए एक अच्छे आहार की जरुरत होती है। ऐसा माना जाता है कि हमारे भोजन का हमारे स्वास्थ्य पर सीधा प्रभाव पड़ता है। यह दिल के दौरे के ऊपर भी लागू होता है क्योंकि इस समस्या के होने की संभावना उन लोगों में अधिक होती है, जिनके पास उचित भोजन नहीं होता है और आप अपना भोजन एक सीमित मात्रा में ही करें।

 

 

  • धूम्रपान एक हृदय रोगी के लिए क्या बल्कि एक सामान्य व्यक्ति के लिए भी बहुत नुकसान दायक हो सकता है। निकोटीन के सेवन से रक्त वाहिकाएं संकुचित हो जाती हैं, जिससे हृदय पर दबाव पड़ने लगता है।

 

 

 

अगर हम दिल के मरीजों की बात करें तो 70 प्रतिशत रोगियों में, सभी संकेत पांच-छह दिन पहले देखने को मिलते है उसके बावजूद लोग इसे नज़रअंदाज़ करते है। उन्हें चलने फिरने में थकान महसूस होने लगती है। जबकि हम बुजर्गो की बात करें तो उनमें अपच की समस्या होने लगती है। यदि आप या आपके किसी जानने वाले में दिल का मरीज है तो आपको तुरंत डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।