हर्बल डिटॉक्सिफिकेशन जो रखें आपके शरीर को स्वस्थ

 

 

आखिरी बार आपने कब डिटॉक्स किया था ? अगर आप डिटॉक्स डाइट पर जाने की सोच रहे है तो एक बार आपको हर्बल डिटॉक्सिफिकेशन (Herbal detoxification) के बारे में भी सोचना चाहिए। मौसम में बदलाव और आपके खान-पान की गलत आदतें ही आपके शरीर में आमतौर पर संक्रमण और बीमारियों का कारण बनती हैं। ये हमारे प्रतिरक्षा प्रणाली (Immune System) को भी कमजोर करती है। यदि आप एक संतुलित मात्रा में आहार और हल्के खाद्य पदार्थों का सेवन करेंगे तो आप अपने शरीर को आसानी से स्वस्थ रख पाएंगे।

 

 

क्या आप जानते हैं कि हर्बल डिटॉक्सिफिकेशन (Herbal detoxification) आपके पाचन तंत्र को मजबूत करता हैं और यह सबसे प्रभावी घरेलू उपचारों में से एक है। ऐसा करने से आपके पूरे शरीर का डिटॉक्सिफिकेशन होता है। ऐसा करने से आप कई मामूली संक्रमणों से बचे रहेंगे। इससे आपके लीवर और किडनी से विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं।

 

 

 

हर्बल डिटॉक्सिफिकेशन क्या है ?

 

 

हर्बल डिटॉक्सिफिकेशन, ऐसे बहुत से लोग होंगे जिन्होंने इसका नाम भी पहली बार सुना होगा। लेकिन सुनने में यह बहुत ही अच्छा लगता है। दरअसल इसमें पूरी तरह से हर्बल चीजों का इस्तेमाल किया जाता है अगर हम गाँव की भाषा में बात करें तो यह जड़ी बूटियों वाला डिटॉक्सकॉफिकेशन है। जिसका इस्तेमाल भारत में प्राचीन काल से किया जा रहा है इसी को अंग्रेजी में हर्बल डिटॉक्सिफिकेशन का नाम दिया गया है।

Treatment In India

 

 

 

हर्बल डिटॉक्सिफिकेशन की जरुरत कब होती है

 

 

  • त्वचा से जुड़े संक्रमण

 

 

  • किसी भी प्रकार की एलर्जी

 

 

 

 

  • पाचन तंत्र ठीक ना रहना

 

 

  • पेट का भरा हुआ महसूस होना

 

 

यदि आपको अपने शरीर में इस तरह के कोई भी लक्षण दिखाई देते हैं तो आपको हर्बल डिटॉक्सिफिकेशन एक बार जरूर कराना चाहिए। हमें यकीन है की आपको इससे बहुत फायदा होगा।

 

 

 

कैसे करें हर्बल डिटॉक्सिफिकेशन

 

 

 

ग्रीन टी (Green tea)

 

health benefits of green tea and red wine, Order Medicine Online Online Pharmacy India Medicine Store Online Medical Store Purchase Medicine Online Medicine Online Online Pharmacy Noida Online Chemist Crossing Republic Online Medicines Buy Medicine Online India Online Pharmacy Gaur City

 

लिवर को स्वस्थ रखने के साथ-साथ ग्रीन टी कई तरह के एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होती है, ये वजन कम करने में भी लोगों की मदद करती हैं। ये भी हर्बल डिटॉक्सिफिकेशन का हिस्सा है। भारत में लोगों को जब से इसके फायदों के बारे में पता चला है तब से ग्रीन टी का निर्यात भारत में भी बढ़ा है।

 

 

 

पानी (Water)

 

garmiyon me apni tvacha ko Moisturize rakhne ke liye apnaayein ye 10 upaay

 

जब भी आप अपनी बॉडी को डिटॉक्स करना चाहते हैं तो ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पिएं। इससे भी आपकी पूरी बॉडी का डिटॉक्सिफिकेशन बहुत अच्छे से होगा और ये आपके शरीर से विषैले पदार्थो को भी जल्दी बाहर निकालने का काम करता है।

 

 

 

नीम (Neem)

 

sugar (madhumeh) kam karne ke gharelu upaay in hindi

 

नीम स्वाद में तो बहुत ज्यादा कड़वी होती है, लेकिन ये आपके लिवर के लिए बहुत ही फायदेमंद हैं और पाचन से जुड़ी किसी भी तरह की समस्या को तुरंत दूर करने के लिए सबसे अच्छा उपाय है। यदि आप अपने दैनिक जीवन में नीम के पत्तों का सेवन करते हैं तो आप त्वचा से जुड़े कई तरह के संक्रमण से बचे रह सकते हैं। आपको त्वचा से जुड़ा संक्रमण तभी होता है जब आपका पेट खराब होता है।

 

 

धनिया (Coriander)

 

coriander, Buy Medicine Online, Online Pharmacy Noida, Online Medicines, Buy Medicine Online Noida, Nearby Pharmacy, Purchase Medicine Online, GoMedii

 

धनिये में जीवाणुरोधी (Antibacterial) डिटॉक्सीफाई (detoxify) और इम्यून को मजबूत करने वाले कारक होते हैं। यह पाचन में मदद करता है, मतली, पेट में ऐंठन और दर्द से राहत देता है और रक्त शर्करा को भी संतुलन में रखता है। यह लिवर से विषैले पदार्थो को बाहर निकालने का काम करता है। शरीर से विषाक्त पदार्थों को कम करने के लिए, आपको इसका सेवन अपने खाने में जरूर करना चाहिए।

 

 

 

पुदीना (Peppermint)

 

health-benefits-of-spinach-juice , Order Medicine Online Online Pharmacy India Medicine Store Online Medical Store Purchase Medicine Online Medicine Online Online Pharmacy Noida Online Chemist Crossing Republic Online Medicines Buy Medicine Online India Online Pharmacy Gaur City

 

भारत में इसका प्रयोग काफी समय से किया जाता है, इसका ज्यादा प्रयोग लोग गर्मी के मौसम में करते हैं। क्योंकि ये आपके पेट में ठंडक बनाए रखता हैं। कई लोग इसका प्रयोग धनिये की चटनी में भी करते हैं, इससे चटनी और भी स्वादिष्ट हो जाती है। इसमें ऐसे एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो आपको पेट से जुड़े संक्रमण से बचाते हैं।

 

 

 

तुलसी (Basil)

 

dehydration se jaldi araam dilate hai ye 5 asaan gharelu upay, Order Medicine Online, Online Pharmacy India, Medicine Store, Online Medical Store, Purchase Medicine Online, Medicine Online, Online Pharmacy Noida, Online Chemist Crossing Republic, Online Medicines, Buy Medicine Online India, Online Pharmacy Gaur City

 

एंटी-बैक्टीरियल और एंटीइंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर तुलसी के टुकड़े शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करते हैं। आप इसका जूस पी सकते हैं या चाय में इसका प्रयोग कर सकते हैं। आप तुलसी और नीम के पत्तों का उपयोग अलग-अलग कर सकते हैं।

 

 

 

बिछुआ (Nettle)

 

kusth kya hai or aisa kyo hota hai ? jaane iske lakshan or bachne ke upaay

 

एक ताजा जंगली बसंत हरा बिछुआ परंपरागत रूप से त्वचा के संक्रमण से बचने के लिए उपयोग किया जाता है, बिछुआ पूरे शरीर के साथ-साथ पूरे स्वास्थ्य को ठीक रखने में मदद करता है। यदि आपको त्वचा से जुड़ा कोई  संक्रमण है तो आप इसका इस्तेमाल जरूर करें।

 

 

ये जड़ी-बूटियां आपको कहीं भी आसानी से उपलब्ध होती हैं, और ये विषाक्त पदार्थों को शरीर से साफ करने का काम करती है। इसे हर्बल डिटॉक्सिफिकेशन कहा जाता है। यदि आप ज्यादा समय तक बीमार रहते हैं तो आपको एक बार हर्बल डिटॉक्स जरूर ट्राई करना चाहिए।


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।