पेट मे गैस को कम करने के घरेलू उपचार

GoMedii Offer

पेट संबंधी कई समस्याओं में से पेट की गैस एक बहुत आम समस्या है। इसका शिकार कम उम्र से लेकर युवा और बुजुर्ग तक, हर व्यक्ति को किसी न किसी समय इस समस्या का सामना करना पड़ता है। पेट में गैस होने के कई कारण हो सकते हैं। जिन्हें पेट में गैस होती है वो खुद तो इससे परेशान रहते ही है बल्कि ये दुसरो के लिए भी बड़ी परेशानी की वजह होती है वो कैसे, इसका मतलब तो आप खुद समझ ही गए होंगे।

 

 

पेट में गैस क्या है?

 

 

इंसान के पेट में म्यूकोसा नामक एक भीतरी परत होती है। इस परत में, कई छोटी ग्रंथियां होती हैं, जो भोजन पचाने के लिए स्टमक एसिड और पेप्सिन नामक पदार्थ बनाती हैं। जबकि, स्टमक एसिड खाए हुए भोजन को पचाता है, पेप्सिन प्रोटीन को पचाता है। जब गैस होती है तो म्यूकोसा नामक परत में सूजन हो जाती है, जिसकी वजह से पेट में गैस की समस्या होती है। इसके कारण, स्टमक एसिड और पेप्सिन का उत्पादन कम होने लगता है और पेट खराब हो जाता है।

 

 

पेट में गैस के कारण

 

 

  • एक बार में बहुत ज्यादा खाने का सेवन करना

 

  • बहुत ज्यादा देर तक भूखे रहना

 

  • बहुत कम पानी पीना

 

  • खाना खाते वक़्त पानी पीना

 

  • खाना खा कर तुरंत लेट जाना

 

  • बहुत ज्यादा शराब पीना

 

 

  • तली हुई चीजों का बहुत जायदा सेवन करना

 

  • फ़ास्ट फ़ूड का सेवन ज्यादा करना

 

  •  शारीरिक श्रम न करना

 

 

इन सभी कारणों की वजह से पेट में गैस होती है, इसकी वजह से उस व्यक्ति को बहुत परेशानी होती है। कई बार ऐसा होता है की उसे कब्ज हो जाती है और पेट ढंग से साफ़ भी नहीं होता है। कुछ लोगों को कभी-कभी ज्यादा भारी चीज उठाने की वजह से या तो कब्ज हो जाती है या दस्त लग जाते है। ऐसे में आप कुछ घरेलू उपचार को करके इस समस्या से छुटकारा पा सकते है।

 

 

पेट की गैस को काम करने के लिए उपाए

 

 

एलोवेरा

 

 

एलोवेरा जेल सबसे अच्छा समाधान है उनके लिए जिन्हें पेट में गैस और जलन होती है। इसके साथ ही ये पेट की अंदरूनी परत में सूजन को कम करता है और पाचन संबंधी किसी भी तरह की समस्या को ख़त्म करता है। आप इसका सेवन एक ग्लास पानी के साथ करें।

 

 

ग्रीन टी 

 

health benefits of green tea and red wine, Order Medicine Online Online Pharmacy India Medicine Store Online Medical Store Purchase Medicine Online Medicine Online Online Pharmacy Noida Online Chemist Crossing Republic Online Medicines Buy Medicine Online India Online Pharmacy Gaur City

 

ग्रीन टी एक बहुत ही अच्छे एंटीऑक्सीडेंट में से एक है, जो सीधे पेट से जुड़ी समस्या को कम करने में मददगार होती है। गैस की दवा के रूप में इसको पीने से काफी समय से हो रही गैस की समस्या को दूर किया जा सकता है।

 

 

सेब का सिरका 

 

 

सेब के सिरके का सेवन तब किया जा सकता है जब आपके पेट में गैस ज्यादा रहती है। इसको पीने से एसिड का स्तर संतुलित बना रहता है। इसके अलावा यह पेट की पाचन शक्ति को मजबूत भी करता है। इसे आप एक गिलास पानी के साथ दिन में दो बार लें सकते है।

 

 

अदरक 

 

 

इसका प्रयोग अक्सर ठंड के समय बढ़ जाता है और यह पेट से जुड़ी समस्या को दूर करने में मदद करता है। जिन्हें पेट में कब्ज रहती है या बहुत ज्यादा गैस बनती है तो उन्हें अदरक वाली चाय पीना चाहिए। दरअसल अदरक एक गुण कारी औषधी है जो पूरे शरीर को ठीक रखने में मदद करती है।

 

 

हींग 

हींग जो सभी के भोजन का स्वाद को बढ़ाता है वहीं ये पेट में होने वाली गैस की समस्या में भी बहुत फायदेमंद साबित होता है। आप एक  गिलास गर्म पानी में हींग मिला कर पीएं। यह आपके गैस की समस्या से छूटकारा दिलाने के लिए बहुत कारगर है। यदि ऐसा आप सुबह के वक़्त करते है तो ये आपके लिए बहुत फायदेमंद होगा।

 

 

काली मिर्च 

 

काली मिर्च भी गैस की समस्या को दूर करती है। दरअसल काली मिर्च न केवल गैस की समस्या में राहत दिलाती है, बल्कि यह पाचन सही रखने में भी आपकी मदद करती है। यदि पेट में गैस रहती है, तो आप एक चुटकी काली मिर्च को दूध के साथ मिलकर पिएंगे तो ये आपके लिए बहुत अच्छा रहेगा।

 

 

दालचीनी 

 

 

आपको बता दें की दालचीनी एक मधुमेह के रोगी के लिए तो अच्छी होती ही है ये पेट में होने वाली गैस की समस्या को भी समाप्त करती है। पेट में गैस के मामले में, आप एक भगोनी पानी में दालचीनी डालकर उसे उबाले और फिर उसे ठंडा होने दें। रोज सुबह खाली पेट दालचीनी का पानी पीएं। आप इसे शहद के साथ भी लें सकते हैं।

 

 

लहसुन 

 

 

लहसुन स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। ये पेट में होने वाली गैस की समस्या को खतम करता है। जब आपके पेट में गैस है, तो जीरा, धनिया के साथ लहसुन उबाले और ठंडा होने के बाद इस पानी का सेवन करें। वैसे भी लहसुन आपके पूरे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है।

 

 

शहद 

 

 

इसका इस्तेमाल प्राचीनकाल से किया जा रहा है। शहद में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो पेट में पनपने वाले हानिकारक जीवाणुओं से लड़ने में बहुत सक्षम है। साथ ही शहद में एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण भी होते हैं, जो गैस के कारण को ख़त्म करते है। इसका सेवन आप एक गिलास पानी के साथ सुबह खली पेट करें, आपको इससे काफी फायदा होगा।

 

 

छांछ 

 

 

कुछ लोग इसका सेवन रोज करते है, जिसकी वजह से उन्हें पेट से जुड़ी किसी भी तरह की समस्या नहीं होती है। जबकि कुछ लोग इसका सेवन खिचड़ी के साथ करते है। छाछ में काला नमक और अजावइन मिलाकर पीने से पेट में होने वाली गैस की समस्या तुरंत दूर हो जाती है।

 

 

गुड़ 

 

 

गुड़ स्वाद के साथ-साथ स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होता है। यह गन्ने से बनाया गया है और यह भी अपरिष्कृत चीनी के रूप में जाना जाता है। इसमें खनिज और विटामिन के गुण होते है ये आपके मेटाबॉलिज्म को सही रखता है साथ ही ये मधुमेह के रोगी के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है।

 

 

बेकिंग सोडा और निम्बू 

 

 

यह पेट में जलन को कम करता है। बेकिंग सोडा पेट में होने वाली गैस की समस्या से छुटकारा दिला सकता है। बेकिंग सोडा भी सोडियम बाइकार्बोनेट के रूप में जाना जाता है। 1 चम्मच सुबह खाली पेट नींबू का रस में बेकिंग सोडा मिलाकर पीने से आपको इस समस्या से निजात मिलेगी।

 

 

आप इन सभी उपायों को करके पेट से जुड़ी समस्याओं को खतम कर सकते हैं। आज के समय में लोगों की गलत जीवनशैली उन्हें समस्या का शिकार बनाती है यदि आपको भी ऐसा होता है तो आप इनमें से कोई भी उपाए को कर सकते हैं। हालांकि कुछ लोग है जो इसे नज़रअंदाज़ भी कर देते है जिसके बाद उन्हें डॉक्टर की सलाह तक लेनी पड़ती है


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।