रक्तचाप कम करने के घरेलू तरीके

GoMedii Offer

 

 

वर्तमान समय में लोगों के ऊपर जिम्मेदारियां बढ़ती ही जा रही हैं। यही वजह है की लोगों का स्वास्थ्य जल्दी खराब हो रहा है। आज के समय में लोगों को सबसे ज्यादा रक्तचाप से जुड़ी समस्या हो रही है। यही देखते हुए हम आपके लिए लाएं है रक्तचाप कम करने के घरेलू तरीके (raktchap kam karne ke gharelu upay in hindi) जिनके इस्तेमाल से आप इस समस्या से छुटकारा पा सकते है।

 

 

 

आज की इस भागदौड़ भरी जिंदगी और उनकी अनियमित दिनचर्या ही उन्हें रक्तचाप जैसी बीमारी का शिकार बना रही है। आज के समय में किसी भी उम्र के व्यक्ति को रक्तचाप से जुड़ी समस्या हो सकती है। हालांकि रक्तचाप की बीमारी तो मामूली है लेकिन इसे नियंत्रण में करना बहुत जरुरी है। वरना इसके करण आपको  हृदय रोग, स्ट्रोक और गुर्दे की बीमारी भी हो सकती है। रक्तचाप कम या ज्यादा आपके पूरे स्वास्थ्य के लिया खतरनाक है। इसलिए, अक्सर डॉक्टर द्वारा ये कहा जाता है कि आप नियमित रूप से अपने रक्तचाप की जाँच कराते रहे।

 

 

 

रक्तचाप बढ़ने के कारण

 

 

वैसे तो लोगों की बदलती जीवनशैली ही उन्हें इस तरह की बीमारी का शिकार बनाती हैं। लेकिन आज हम रक्तचाप कम करने के घरेलू तरीके (raktchap kam karne ke gharelu upay in hindi) बताएंगे जिन्हें आसानी से आप अपने घर पर कर सकते हैं। लेकिन उससे पहले ये जानना जरुरी है की रक्तचाप बढ़ता क्यों है :

 

 

 

 

  • समय पर खाना ना खाना,

 

 

  • ज्यादा शारीरिक श्रम करना,

 

 

  •  फास्ट फ़ूड का ज्यादा सेवन करना,

 

 

  • नींद पूरी ना करना,

 

 

  • नशीले पदार्थ का सेवन ज्यादा करना जैसे धूम्रपान और शराब,

 

 

  • अधिक दवाओं का सेवन करना,

 

 

 

 

  • अधिक उम्र होना,

 

 

  • शरीर का वजन ज्यादा होना।

 

 

 

रक्तचाप कम करने के घरेलू तरीके

 

 

 

हल्दी

 

 

हल्दी का प्रयोग बहुत से लोग तब भी करते हैं जब उन्हें शरीर में कहीं चोट लग जाती है। दरअसल हल्दी की मदद से पूरे शरीर के किसी भी हिस्से की सूजन को कम किया जा सकता है। हल्दी सूजन को खत्म करके रक्त के प्रवाह को बेहतर रखती है और दिल के कार्यों को भी ठीक से काम करने में मदद करती है। इसका इस्तेमाल लगभग सभी लोग रोजाना अपने भोजन में करते हैं। ये आपके रक्तचाप को कम करने के घरेलू तरीकों (Raktchaap kam karne ke gharelu tarike) में से सबसे आसान तरीका है।

 

 

 

शहद

 

 

शहद का प्रयोग काफी पुराने समय से किया जा रहा है दरअसल शहद में कार्बोहाइड्रेट (Carbohydrates), प्रोटीन (proteins), विटामिन ए,  बी, सी, (vitamin A, B, C) आयरन (iron), मैगनीशियम (magnesium), कैल्शियम (calcium), फॉस्फोरस (phosphorus), पोटैशियम (potassium), सोडियम (sodium) आदि गुणकारी तत्व होते हैं। एक साथ इतनी सारी चीजें वो भी अकेले शहद में तब तो ये जरूर आपके रक्तचाप को कम करने में आपकी मदद करेगा। आप शहद को अदरक के साथ भी लें सकते हैं।

 

 

 

लहसुन

 

 

आपको शायद ये नहीं पता होगा की लहसुन में एलिसिन (allicin) होता है, जो नाइट्रिक ऑक्साइड (nitric oxide) के उत्पादन को बढ़ाता है और आपकी मांसपेशियों को बहुत राहत देता है। दरअसल डायग्नोस्टिक (diagnostic) और सिस्टोलिक सिस्टम (systolic system) आपके रक्तचाप को नियंत्रण में रखता है। यही वजह है कि रक्तचाप के रोगियों को रोजाना खाली पेट लहसुन की एक कली पानी के साथ निगलनी चाहिए।

 

 

 

प्याज

 

 

प्याज आपको गर्मियों के मौसम में चलने वाली गर्म हवा से भी बचाता है। इसमें ऐसे कई पोषक तत्व होते हैं जो आपके रक्तचाप को नियंत्रण में रखते हैं। आपको बता दें की प्याज में भरपूर मात्रा में आयरन (iron), फोलेट और पोटैशियम (potassium) जैसे खनिज पाए जाते हैं। जो आपको स्वस्थ रखने में काफी मदद करते हैं।

 

 

 

नारियल पानी

 

benefits of coconut water in hindi, Order Medicine Online , Online Pharmacy India, Medicine Store, Online Medical Store, Purchase Medicine Online, Medicine Online, Online Pharmacy Noida, Online Chemist Crossing Republic, Online Medicines, Buy Medicine Online India, Online Pharmacy Gaur City

 

ये आपको डीहाइड्रेशन (dehydration) जैसी समस्या से दूर रखता है, इसमें मौजूद पोटैशियम (potassium), मैग्नीशियम (magnesium) और सोडियम (sodium) आपके रक्तचाप को नियंत्रण में रखने में मदद करते हैं। अगर आपको रक्तचाप की समस्या अक्सर रहती है तो आपको नारियल पानी का सेवन हफ्ते में एक बार जरूर करना चाहिए

 

 

 

आंवला

 

 

वैसे तो आंवला में कई ऐसे गुण होते है जो आपको बहुत सी बीमारियों से बचाते हैं, लेकिन आपको ये नहीं मालूम होगा कि आंवला रक्तचाप जैसी समस्या में बहुत राहत देता है। आंवला में विटामिन सी होता है। यह रक्त के प्रवाह (circulation) को सही करता है और कोलेस्ट्रॉल को भी नियंत्रित करता है

 

 

 

तुलसी

 

health-benefits-of-spinach-juice , Order Medicine Online Online Pharmacy India Medicine Store Online Medical Store Purchase Medicine Online Medicine Online Online Pharmacy Noida Online Chemist Crossing Republic Online Medicines Buy Medicine Online India Online Pharmacy Gaur City

 

तुसली का इस्तेमाल भारत में प्राचीन काल से किया जा रहा है, क्योंकि ये एक तरीके की औषधि है। जिसका सेवन आपके पूरे शरीर के लिए अच्छा होता है। यदि आप रोजाना 3 या 5 तुलसी के पत्तों का सेवन खाली पेट सुबह के वक़्त करेंगे, तो इससे आपका रक्तचाप पूरी तरह नियंत्रण में रहेगा। दरअसल तुलसी में एंटीइंफ्लेमेटरी (antiinflammatory), एंटीमाइक्रोबियल (antimicrobial) एंटीऑक्सीडेंट (antioxidant) गुण पाए जाते हैं जो आपको रक्तचाप जैसी समस्या से छुटकारा दिलाते हैं।

 

 

 

रक्तचाप कम करने के घरेलू तरीके (Raktchaap kam karne ke gharelu tarike) आपके लिए बहुत आसान है और ये आपके घर या आपके आस-पास के इलाके में आसानी से मिल जाएंगी। यदि इन उपायों को करने के बाद भी आपका रक्तचाप नियंत्रण में नहीं रहता है तो आप हमारे डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।