डायबिटीज के मरीजों के लिए जहर हैं ये 5 फूड! भूलकर भी न खाए

दुनिया भर में मधुमेह (Diabetes) को बहुत खतरनाक रोग माना जाता है, आधुनिक जीवनशैली और सुख सुविधाओं ने जहां मनुष्य के जीवन को आसान किया है। वहीं उसे मधुमेह (Diabetes) जैसी बीमारी भी भेंट में दी हैं। यह बीमारी एक बार लग जाए तो ठीक होने का नाम नहीं लेती, क्योंकि इसे काबू में तो रखा जा सकता है, पर पूरी तरह ठीक नहीं किया जा सकता। क्योंकि इस रोग में रक्त में ग्लूकोज (Glucose) की मात्रा सामान्य से अधिक हो जाती है।

 

मीठे से दूर रहे-

 

वैसे तो ऐसे लोग बहुत बड़ी संख्या में हैं, जो मीठा खाना पसंद नहीं करते, लेकिन इसके बावजूद वे मधुमेह (Diabetes) के शिकार हैं। मधुमेह मीठा खाने के कारण नहीं होता, लेकिन एक बार यह हो जाये तो मरीज (patient) को मीठे से दूर रहना पड़ता हैं।इसलिए कोशिश करें कि मिठाई ना खाएं।

 

जमीन के अंदर उगनेवाले चीजों से बचे-

 

शकरकंदी (Sweet Patato),, अरवी, आलू और ऐसी कई चीजे जो जमीन के अंदर उगती है, उनको ना खाएं या कोशिश करें कि कम से कम मात्रा में इनका सेवन करें।

 

जंक फ़ूड (Junk Food) से दूर रहे-

 

जंक फ़ूड (Junk Food) बिल्कुल ना खाएं, इससे मधुमेह (Diabetes) का खतरा और बढ़ जाता है। साथ ही तली हुई चीजें भी ना खाएं, यह आपकी बीमारी को और बढ़ा देगा। अंकुरित अन्न को उबालकर या भुनकर खाएं पर तलकर नहीं खाएं।

 

सूखा मेवा न खाये-

 

अगर आपको मधुमेह  (Diabetes) हैं तो आप सूखा मेवा कभी ना खाये, और अगर खाना भी हो तो इन्हे पानी में भिगोकर खा सकते हैं।

 

वसायुक्त भोजन ना करें-

 

मधुमेह  (Diabetes) से बचना हैं, तो वसायुक्त भोजन कम लें। वसा या कार्बोहाइड्रेट (Carbohydrate) वाला भोजन करने से मधुमेह बढ़ता है। इसलिए वसा या कार्बोहाइड्रेट की कम मात्रा वाला भोजन लेने से मधुमेह  (Diabetes) से बचाव हो सकता है।

 

चावल ना खाये-

 

अगर आप रोज एक बड़ा बाउल सफेद चावल खाते हैं, तो आपको टाइप-2 मधुमेह  (Diabetes) होने का खतरा सामान्य से 11 प्रतिशत ज्यादा होता है। चावल के पकाने की विधि पर उसके खाने से होने वाला फायदा या नुकसान निर्भर करता है। अगर चावल की बिरयानी बनाई जाए या चावल को मांस या सोयाबीन के साथ खाया जाए, तो डाइबिटीज  (Diabetes) होने का खतरा ज्यादा रहता है। क्योंकि इससे शरीर में रक्त (Blood) में शर्करा की मात्रा पर असर पड़ सकता है।

 

इन फलों से दूर रहें-

 

केला (Banana), आम, लीची जैसे फलों को ना खाएं या कम मात्रा में खाएं, क्योंकि इससे मधूमेह  (Diabetes) का खतरा बढ़ता है।


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।