बच्चों में बोन कैंसर के लक्षण और क्या है इसका इलाज?

UPTO20

 

 

बच्चों में बोन कैंसर किसी भी हड्डी में शुरू हो सकता है, लेकिन यह आमतौर पर हाथ और पैरों में लंबी हड्डियों को सबसे ज्यादा प्रभावित करता है। हड्डी का कैंसर बहुत कम देखने को मिलता है। वास्तव में, कैंसर वाले लोगों की तुलना में नॉनकैंसरस बोन ट्यूमर बहुत अधिक सामान्य हैं।

 

“बोन कैंसर” शब्द में कैंसर शामिल नहीं है जो शरीर में कहीं और शुरू होता है और बच्चे की हड्डी में मेटास्टेसाइज़ (metastasize) फैलता है । अगर हम महिलाओं की बात करें तो जिन महिलाओं को स्तन कैंसर होता है ये उनकी हड्डी को मेटास्टेसाइज कर देता है।

 

 

 

बच्चों में बोन कैंसर के प्रकार

 

 

कोंड्रोसारकोमा (Chondrosarcoma) : कोंड्रोसारकोमा हड्डी के कैंसर का दूसरा सबसे आम रूप है। इस ट्यूमर में कैंसरग्रस्त (cancerous) कोशिकाओं का निर्माण करती हैं। कोंड्रोसारकोमा आमतौर पर पैर या मध्यम आयु वर्ग और वयस्कों में होता है।

 

 

ईवनिंग सरकोमा (Ewing sarcoma) : बच्चों, युवा और वयस्कों के पैरों या बांहों में आमतौर पर इविंग सारकोमा ट्यूमर उत्पन्न होता है।

 

 

ओस्टियोसार्कोमा (Osteosarcoma) : ओस्टियोसारकोमा हड्डी के कैंसर का सबसे आम रूप है। इस ट्यूमर में कैंसरग्रस्त (cancerous) कोशिकाएं हड्डी का निर्माण करती हैं। हड्डी के कैंसर की यह स्थिति बच्चों, युवा और वयस्कों में, पैर या बांह की हड्डियों में सबसे अधिक बार होती है। दुर्लभ परिस्थितियों में, हड्डियों के बाहर ओस्टियोसारकोमा उत्पन्न हो सकता है (एक्सट्रैस्केलेटल ओस्टियोसारकोमा)।

 

 

 

बच्चों में बोन कैंसर के लक्षण

 

 

बच्चों में बोन कैंसर के लक्षण इस बात पर निर्भर करते हुए भिन्न हो सकते हैं कि यह किस हड्डी में शुरू होता है। अक्सर, एक चोट होती है जो ठीक से सही नहीं हो सकती है, और फिर बच्चे का इलाज किया जाता है। अन्य स्वास्थ्य स्थितियां भी बच्चो में बोन के कैंसर के समान लक्षण पैदा कर सकती हैं। यदि आपके बच्चे में ये लक्षण हैं तो अपने बच्चे को तुरंत डॉक्टर को दिखाएं :

 

 

हड्डी के कैंसर के लक्षणों में शामिल हैं

 

 

  • हड्डी में दर्द (Bone pain) : बच्चों में बोन कैंसर होने पर उन्हें दर्द होता है ये इसके सबसे आम लक्षण है। यह अक्सर हड्डी के जोड़ में महसूस किया जाता है जहां ट्यूमर विकसित होता है। एक बच्चे को अक्सर एक अंग में स्थानीयकृत दर्द होने लगता है, जो एक सुस्त दर्द की तरह होता है और यह चोट उन्हें खेल के दौरान लगने वाली चोट भी हो सकती है। दर्द धीरे-धीरे बढ़ता है और आराम करने या हल्के दर्द की दवाइयों से भी सही नहीं होता है और इसकी वजह से बच्चा सो भी नहीं पाता  है।

 

 

 

  • सूजन और कोमलता (Swelling and tenderness) : सूजन या एक गांठ बचपन की हड्डी के कैंसर का एक और सामान्य संकेत हो सकती है। गांठ या सूजन अक्सर नरम होती है। ये संकेत अक्सर यह देखने में मदद करते हैं कि ट्यूमर आपके पैर या हाथ की बांह में है या नहीं।

 

 

 

  • कमजोर हड्डी, जिससे फ्रैक्चर होता है (Weakened bone) : जब बच्चे की हड्डियां कमजोर होती है और उसे मामूली चोट में फ्रैक्चर हो जाता है, तो ये भी बच्चों में बोन कैंसर के लक्षण हो सकते हैं।

 

 

 

  • थकान (Fatigue) : यदि आपके बच्चे को खेलने में बहुत अधिक थकान महसूस होती है, तो आपको अपने बच्चे के लिए डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। क्योंकि ये भी बच्चों में बोन कैंसर के लक्षण हो सकते हैं।

 

 

 

  • तेजी से वजन कम होना : यदि आपके बच्चे का बहुत तेजी से वजन कम होने लगे, तो यह आपके लिए एक चिंता का विषय हो सकता है क्योंकि ये भी इसके लक्षणों में से एक है।

 

 

 

 

बोन कैंसर के लिए टेस्ट

 

 

 

बोन स्कैन (Bone Scan)

 

बोन स्कैन हड्डी के ट्यूमर का पता लगाने और हड्डियों में अन्य असामान्यताओं को निर्धारित करने के लिए किया जाने वाला टेस्ट है। कभी-कभी आपके बच्चे के डॉक्टर एक ही हड्डी का स्कैन कर सकता है, स्कैन करने से दो घंटे पहले दवाई को एक नस में इंजेक्ट किया जाता है। यह जरुरी है कि आपका बच्चा इस टेस्ट के लिए अच्छी तरह से हाइड्रेटेड रहे। आपका डॉक्टर आपको इस बारे में पहले से निर्देश देता है।

 

 

 

पीईटी टेस्ट (PET Scan)

 

एक पीईटी (पॉज़िट्रॉन एमिशन टोमोग्राफी) स्कैन एक इमेजिंग टेस्ट है जो हड्डी में ट्यूमर और शरीर के आसपास के कोमल ऊतकों का भी पता लगाता है। यह एक बहुत ही संवेदनशील परीक्षण है। यह बहुत ही सटीक परिणाम देने का काम करता है, पीईटी स्कैन के लिए विशिष्ट तैयारियां हैं, जो आपके डॉक्टर या नर्स आपको बताता है।

 

 

 

सीटी स्कैन (CT Scan)

 

एक सीटी (कंप्यूटेड टोमोग्राफी) स्कैन एक इमेजिंग टेस्ट है जो शरीर की क्रॉस-अनुभागीय छवियों को बनाने के लिए एक्स-रे और कंप्यूटर प्रौद्योगिकी का उपयोग करता है, जिसमें हड्डियां (bones),  मांसपेशियां (muscles), वसा (fat) और अन्य अंग शामिल हैं। सीटी स्कैन का उपयोग मुख्य रूप से हड्डी में ट्यूमर के साथ-साथ छाती और फेफड़ों में ट्यूमर कोशिकाओं की जाँच के लिए किया जाता है।

 

 

 

एमआरआई टेस्ट (MRI Scan)

 

एमआरआई (चुंबकीय रेजोनेंस इमेजिंग) स्कैन सबसे जल्दी इस बता का पता लगाने में डॉक्टर की मदद करता है। इसके लिए मैग्नेट, रेडियोफ्रीक्वेंसी और एक कंप्यूटर का उपयोग किया जाता है। इसका उपयोग हड्डी और नरम ऊतकों के भीतर ट्यूमर की सीमा निर्धारित करने के लिए किया जाता है। डॉक्टर एमआरआई के टेस्ट से पहले खाने और पीने के बारे में आपको विशिष्ट निर्देश देता है।

 

 

 

बच्चों में बोन कैंसर का इलाज

 

डॉक्टर इन टेस्ट के बाद ही बच्चों में बोन कैंसर के लक्षण का पता लगाता है। कुछ प्रकार के बोन कैंसर मुख्य रूप से बच्चों में होते हैं, जबकि ज्यादातर वयस्कों को प्रभावित करता है। सर्जिकल रिमूवल सबसे आम उपचार माना जाता है, लेकिन इसमें कीमोथेरेपी (chemotherapy) और रेडिएशन थेरेपी (radiation therapy) का भी उपयोग किया जा सकता है।सर्जरी, कीमोथेरेपी या रेडिएशन थेरेपी (radiation therapy) का उपयोग करने का निर्णय हड्डी के कैंसर के उपचार के प्रकार पर निर्भर करता है और इस बात का निर्णय आपका डॉक्टर लेता है। आप इसके उपचार के लिए हमारे डॉक्टर से भी सलाह ले सकते हैं


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।