हार्ट अटैक के लिए कौन सी सर्जरी की जाती है, किस हॉस्पिटल में कराएं इलाज

GoMedii

हमें हृदय को स्वस्थ रखना इस लिए जरुरी है क्योंकि है यह पूरे शरीर को सुचारु रूप से काम करने में मदद करता है। यदि हम शुरू से ही हृदय को ख्याल रखेंगे तो हृदय लंबे समय तक स्वस्थ रह सकता है, लेकिन आजकल खराब खान-पान और जीवनशैली के कारण कम उम्र में भी हृदय की बीमारियां हो रही हैं। जिसमें  जान जाने का भी खतरा अधिक होता है। यह गंभीर समस्या इन दिनों युवाओं में भी देखने को मिल रही है।

जब हार्ट अटैक आता है, तो डॉक्टर इसके उपचार के लिए कई प्रक्रियाओं पर विचार करते हैं। जिनमें हार्ट अटैक के लिए दो मुख्य सर्जरी को एहम माना जाता है, एंजियोप्लास्टी और हार्ट बाईपास सर्जरी। मरीज के लिए कौन सी सर्जरी सबसे उपयुक्त रहेगी इसका निर्णय डॉक्टर मरीज के स्वास्थ्य के आधार पर करते हैं। वैसे तो हार्ट अटैक के लिए कई प्रकार की सर्जरी होती हैं जिसके बारे में हम आपको बताएंगे।

 

 

हार्ट अटैक के लिए कौन सी सर्जरी की जाती है? (Which surgeries are performed for heart attack in Hindi)

 

 

हार्ट अटैक के इलाज के लिए की जाने वाली सामान्य प्रक्रियाओं और सर्जरी में शामिल हैं:

 

  • एंजियोप्लास्टी: इस सर्जरी में एक संलग्न डिफ्लेटेड बैलून के साथ विशेष ट्यूबिंग को कोरोनरी धमनियों में पिरोया जाता है।

 

  • एंजियोप्लास्टी लेजर: एंजियोप्लास्टी के समान, सिवाय इसके कि कैथेटर में एक लेजर टिप होती है जो अवरुद्ध धमनी को खोलती है, इसलिए डॉक्टर इस सर्जरी की सलाह देते हैं।

 

  • अर्टिफियल हार्ट वाल्व सर्जरी (आर्टिफिशियल हार्ट वाल्व सर्जरी): एक असामान्य या खराब हार्ट वाल्व को एक स्वस्थ हार्ट वाल्व से बदल दिया जाता है।

 

  • एथेरेक्टॉमी: एंजियोप्लास्टी के समान, सिवाय इसके कि धमनी से पट्टिका को हटाने के लिए कैथेटर के अंत में एक घूमने वाला शेवर होता है।

 

  • बाईपास सर्जरी: हृदय की मांसपेशियों में रक्त के प्रवाह के लिए नए मार्ग बनाकर अवरुद्ध हृदय धमनियों का इलाज किया जाता है।

 

  • कार्डियोमायोप्लास्टी: इस प्रक्रिया में रोगी की पीठ या पेट के माध्यम से इस सर्जरी को किया जाता है।

 

  • हार्ट ट्रांसप्लांट: एक खराब हृदय को निकाल कर डॉक्टर इसे स्वस्थ मानव के हृदय से बदल देते हैं।

 

  • मिनिमली इनवेसिव हार्ट सर्जरी: यह स्टैंडर्ड बायपास सर्जरी का विकल्प है ।

 

  • रेडियोफ्रीक्वेंसी एब्लेशन: एक बहुत छोटे से क्षेत्र में सावधानीपूर्वक चयनित हृदय की मांसपेशी कोशिकाओं को नष्ट करने के लिए इसकी नोक पर एक इलेक्ट्रोड के साथ एक कैथेटर को शिरा के माध्यम से हृदय की मांसपेशी तक निर्देशित किया जाता है।

 

  • स्टेंट प्रक्रिया: स्टेंट एक वायर मेश ट्यूब होती है जिसका उपयोग एंजियोप्लास्टी के दौरान धमनी को खुला रखने के लिए किया जाता है।

 

  • ट्रांस म्योकार्डियल रेवास्क्युलरिजेशन (Transmyocardial revascularization): लेज़र का उपयोग हृदय के बाहर से हृदय के पंपिंग कक्ष में छिद्रों की एक श्रृंखला को ड्रिल करने के लिए किया जाता है।

 

यदि आप इनमें से कोई भी सर्जरी कराना चाहते हैं तो इसके लिए आप हमारे डॉक्टर से कंसल्ट कर सकते हैं। डॉक्टर से कंसल्ट करने के लिए तो यहाँ क्लिक करें

 

 

हार्ट अटैक के लक्षण (Symptoms of heart attack in Hindi)

 

हार्ट अटैक  पड़ने से पहले, मानव शरीर को कुछ लक्षण महसूस होते हैं, जो इसके होने का संकेत देते हैं। इसलिए, यदि कोई व्यक्ति इन 5 लक्षणों पर ध्यान देता है, तो वह दिल के दौरे को रोक सकता है:

 

  • सांस लेने में तकलीफ: अगर किसी व्यक्ति को अचानक से सांस लेने में तकलीफ होने लगे तो उसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए क्योंकि यह हार्ट अटैक का लक्षण हो सकता है।

 

  • सीने में तेज दर्द: यह हार्ट अटैक का मुख्य लक्षण है, जिसमें व्यक्ति को सीने में तेज दर्द होता है। कुछ लोग इसे सामान्य दर्द मान सकते हैं और इसके लिए दर्द निवारक दवाएं ले सकते हैं, लेकिन ऐसा करना किसी भी व्यक्ति के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।

 

  • पसीना आना: कुछ लोगों को हार्ट अटैक के दौरान बहुत पसीना आता है और वे इसके साथ-साथ नर्वस भी महसूस करते हैं।

 

  • उल्टी: कुछ लोगों को हार्ट अटैक पड़ने पर उल्टी भी हो जाती है। इसलिए अगर किसी व्यक्ति को ऐसी कोई समस्या है तो उसे तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

 

  • भूख न लगना: अक्सर, दिल के दौरे का एक और लक्षण भूख न लगना है। हालांकि, कुछ लोग शायद इस पर विश्वास न करें क्योंकि भूख की कमी को इतनी गंभीरता से नहीं लिया जाता है। लेकिन, कभी-कभी भूख न लगना कई गंभीर बीमारियों जैसे हार्ट अटैक, प्रोस्टेट आदि का संकेत भी हो सकता है।

 

 

हार्ट सर्जरी के लिए इंडिया के बेस्ट हॉस्पिटल (Best Hospitals in India for Heart Surgery in Hindi)

 

 

यदी आप भारत में हार्ट सर्जरी कराना चाहते हैं तो आप हमारे द्वारा बताए गए इनमें से कोई भी हॉस्पिटल में अपना इलाज करवा सकते हैं:

 

हार्ट सर्जरी के लिए मेरठ के बेस्ट अस्पताल

 

  • सुभारती अस्पताल, मेरठ

 

  • आनंद अस्पताल, मेरठ

 

हार्ट सर्जरी के लिए हापुड़ के बेस्ट अस्पताल

 

  • शारदा अस्पताल, हापुड़

 

  • जीएस अस्पताल, हापुड़

 

  • बकसन अस्पताल, हापुड़

 

  • जेआर अस्पताल, हापुड़

 

  • प्रकाश अस्पताल, हापुड़

 

हार्ट सर्जरी के लिए दिल्ली के बेस्ट अस्पताल

 

  • बीएलके-मैक्स सुपर स्पेशलिटी अस्पताल, राजिंदर नगर, दिल्ली

 

  • इंद्रप्रस्थ अपोलो अस्पताल, सरिता विहार, दिल्ली

 

  • फोर्टिस हार्ट अस्पताल, ओखला, दिल्ली

 

  • मैक्स सुपर स्पेशलिटी अस्पताल, साकेत, दिल्ली

 

हार्ट सर्जरी के लिए ग्रेटर नोएडा के बेस्ट अस्पताल

 

  • शारदा अस्पताल, ग्रेटर नोएडा

 

  • यथार्थ अस्पताल, ग्रेटर नोएडा

 

  • बकसन अस्पताल, ग्रेटर नोएडा

 

  • जेआर अस्पताल, ग्रेटर नोएडा

 

  • प्रकाश अस्पताल, ग्रेटर नोएडा

 

  • दिव्य अस्पताल, ग्रेटर नोएडा

 

  • शांति अस्पताल, ग्रेटर नोएडा

 

हार्ट सर्जरी के लिए गुरुग्राम के बेस्ट अस्पताल

 

  • नारायण सुपरस्पेशलिटी अस्पताल, गुरुग्राम

 

  • मेदांता द मेडिसिटी, गुरुग्राम

 

  • फोर्टिस हेल्थकेयर लिमिटेड, गुरुग्राम

 

  • पारस अस्पताल, गुरुग्राम

 

हार्ट सर्जरी के लिए कोलकाता के सबसे अच्छे अस्पताल

 

  • रवींद्रनाथ टैगोर इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ कार्डिएक साइंस, मुकुंदपुर, कोलकाता

 

हार्ट सर्जरी के लिए मुंबई के सबसे अच्छे अस्पताल

 

  • नानावटी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल, विले पार्ले वेस्ट, मुंबई

 

  • लीलावती अस्पताल और अनुसंधान केंद्र, बांद्रा, मुंबई

 

हार्ट सर्जरी के लिए बैंगलोर के सबसे अच्छे अस्पताल

 

  • फोर्टिस अस्पताल, बन्नेरगट्टा रोड, बैंगलोर

 

  • अपोलो अस्पताल, बैंगलोर

 

हार्ट सर्जरी के लिए चेन्नई के सबसे अच्छे अस्पताल

 

  • अपोलो प्रोटॉन कैंसर सेंटर, चेन्नई

 

हार्ट सर्जरी के लिए हैदराबाद के सबसे अच्छे अस्पताल

 

  • ग्लेनीगल्स ग्लोबल हॉस्पिटल्स, लकडी का पूल, हैदराबाद

 

हार्ट सर्जरी के लिए अहमदाबाद के सबसे अच्छे अस्पताल

 

  • केयर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, सोला, अहमदाबाद

 

यदि आप इनमे से कोई अस्पताल में इलाज करवाना चाहते हैं तो हमसे व्हाट्सएप (+91 9654030724) पर संपर्क कर सकते हैं।

 

 

हार्ट अटैक क्यों आता है? (Why does heart attack occur in Hindi)

 

 

दिल का दौरा मुख्य रूप से निम्नलिखित कारणों से हो सकता है:

 

  • धूम्रपान: जो व्यक्ति बहुत अधिक धूम्रपान करता है उसे दिल का दौरा पड़ने की संभावना अधिक होती है। इसलिए ऐसे लोगों को समय रहते धूम्रपान बंद कर देना चाहिए ताकि उन्हें दिल का दौरा न पड़े।

 

  • तनाव लेना: ऐसा माना जाता है कि बहुत अधिक तनाव लेना किसी भी व्यक्ति के लिए हानिकारक साबित हो सकता है क्योंकि इससे कई गंभीर बीमारियां हो सकती हैं।

 

  • उच्च रक्तचाप होना: उच्च रक्तचाप से भी दिल का दौरा पड़ सकता है। इसलिए बीपी से पीड़ित व्यक्ति को हाई ब्लड प्रेशर का ठीक से इलाज करवाना चाहिए, ताकि उसे कोई गंभीर बीमारी न हो।

 

  • धमनी में ब्लॉकेज होना: जैसा कि ऊपर बताया गया है, दिल का दौरा भी धमनी में पट्टिका के कारण होता है। हालांकि, इसका इलाज कोरोनरी एंजियोप्लास्टी नामक सर्जरी से भी किया जा सकता है।

 

  • उच्च कोलेस्ट्रॉल: कभी-कभी, उच्च कोलेस्ट्रॉल भी दिल का दौरा पड़ सकता है। इसलिए इससे पीड़ित व्यक्ति को अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना चाहिए और किसी भी प्रकार की समस्या होने पर डॉक्टर को सूचित करना चाहिए।

 

 

हार्ट ट्रांसप्लांट की लागत कितनी है? (Heart transplant cost in Hindi)

 

 

हृदय के खराब होने पर हार्ट ट्रांसप्लांट ही एक आखिरी विकल्प होता है। ऐसे में जब कोई डॉक्टर किसी व्यक्ति को इस सर्जरी से गुजरने की सलाह देता है, तो उसके दिमाग में सबसे पहला सवाल यही आता है कि हार्ट ट्रांसप्लांट सर्जरी में कितना खर्च आता है। हार्ट ट्रांसप्लांट का खर्च 6,60,000 रुपय से  16,50,000 रुपय तक है।

 

 

हार्ट अटैक से बचने के उपाय? (Ways to prevent heart attack in Hindi)

 

हार्ट अटैक जैसी समस्या से बचने के लिए आपको छोटे-छोटे कदम उठाने चाहिए जैसे:

 

  • आपको अपने आहार में हरी सब्जियां, फल, नट्स का सेवन करना चाहिए।

 

  • हार्ट अटैक से बचने के लिए आपको धूम्रपान और शराब का सेवन नहीं करना है।

 

  • रोजाना व्यायाम करें, आपको रोजाना कम से कम एक घंटा टहलना चाहिए।

 

  • व्यायाम के अलावा आपको सांस लेने की तकनीक और ध्यान को भी दिनचर्या में शामिल करना चाहिए।

 

  • अपने रक्तचाप, शर्करा के स्तर और कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करें।

 

  • हार्ट अटैक से बचने के लिए आपको हेल्दी डाइट लेनी चाहिए जैसे फाइबर की मात्रा बढ़ाएं और फैट की मात्रा कम करें।

 

यदि आप हार्ट अटैक का इलाज कराना चाहते हैं या इससे संबंधित कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें या आप हमसे व्हाट्सएप (+91 9654030724) पर संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा आप हमारी सेवाओं के संबंध में हमें Connect@gomedii.com पर ईमेल भी कर सकते हैं। हमारी टीम जल्द से जल्द आपसे संपर्क करेगी।

 
Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।