किडनी फेल होने का कारण और बचाव के उपाय

Safe20

शरीर से अतिरिक्त पानी के साथ शरीर में मौजूद हानिकारक और विषाक्त पदार्थों को साफ करके किडनी काम करती है। वर्तमान में, व्यस्त और खराब जीवन शैली और गलत खान-पान के कारण लोगों को कम उम्र में ही किडनी की समस्या होने लगी है। बाद में इन समस्याओं के कारण किडनी फेल हो जाती है।

 

किडनी फेल होने के कारण

 

  • गुर्दे खराब
  • दिल की बीमारी
  • रक्तचाप
  • गंभीर जलन
  • संक्रमण
  • दिल का दौरा।
  • जहरीला पदार्थ
  • कोलेस्ट्रॉल का जमाव
  • गुर्दे में मूत्र संबंधी समस्याएं
  • गुर्दे की पथरी
  • प्रोटेस्ट कैंसर
  • पेट का कैंसर
  • ग्रीवा कैंसर
  • गुर्दे में रक्त का प्रभाव कम होना
  • मूत्र नली में रुकावट
  • धमनियों में रक्त का थक्का जमना
  • प्रोटीन को ज्यादा मात्रा में लेना
  • कम पानी पीने से किडनी फेल भी हो सकती है
  • खाने में ज्यादा नमक का इस्तेमाल करें
  • मांस खाने से गुर्दे की कमजोरी हो सकती है
  • शीतल पेय या सोडा अधिक मात्रा में पीने से किडनी भी हो सकती है

 

किडनी फेल होने के लक्षण

 

पेशाब की मात्रा और समय में परिवर्तन: गुर्दे की बीमारी के पहले चरण में, मूत्र की मात्रा और समय बदलना शुरू होता है। मूत्र के काम में परिवर्तन।

मूत्र की मात्रा में वृद्धि या कमी: मूत्र की मात्रा या तो बढ़ जाती है या घट जाती है।

मूत्र का रंग बदलना: मूत्र का रंग गाढ़ा हो जाता है या रंग बदल जाता है।

बार-बार पेशाब आना महसूस होना: जब आपको बार-बार पेशाब लगने लगती है, लेकिन ऐसा नहीं होने से आपकी किडनी पर असर पड़ता है।

पेशाब करते समय दर्द महसूस करना: जब आपको पेशाब करते समय दर्द और दबाव का अनुभव होता है, तो यह समझना चाहिए कि मूत्र मार्ग में संक्रमण है।

पेशाब करते समय जलन होना: कभी-कभी ऐसी स्थिति में बुखार या मूत्र मार्ग में जलन होने लगती है। कभी-कभी पीठ दर्द भी अन्य लक्षणों में शामिल होता है।

पेशाब करते समय रक्त प्रवाह: जब पेशाब में खून आने लगता है, तो एक मिनट के लिए बिना सोचे डॉक्टर से सलाह लें क्योंकि यह गुर्दे की विफलता का एक निश्चित संकेत है।

चूना जैसा पेशाब: जब उसमें पेशाब बनने लगता है, तो ये किडनी फेल होने के पहले लक्षण होते हैं।

गुर्दे की सूजन: गुर्दे का मुख्य कार्य शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालना है, लेकिन जब यह गतिविधि बाधित होने लगती है, तो शरीर में अतिरिक्त द्रव जमा होने लगता है।

 

किडनी फेल होने से बचाव

 

  • डायबिटीज और हाईबीपी के मरीज नियमित जांच करवाएं
  • ऐसे रोगियों को दवाई लेने में कोई लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए।
  • नियमित रूप से व्यायाम करें, वजन उठाने से बचें
  • डॉक्टर की सलाह पर ही पेन किलर का इस्तेमाल करें
  • अपनी जीवनशैली और भोजन संयमित रखें
  • लंबे समय तक हाई प्रोटीन डाइट लेने से बचें
  • इन बातों का रखें ध्यान
  • स्वस्थ भोजन खाएं
  • एक स्वस्थ सीमा में शरीर का वजन कम करें
  • नमक का उपयोग कम करें
  • अगर आपको दस्त, उल्टी, बुखार आदि है तो डिहाइड्रेशन को रोकने के लिए बहुत सारे तरल पदार्थ लें
  • नियमित रूप से व्यायाम करें
  • धूम्रपान या अन्य तंबाकू उत्पादों का उपयोग न करें, धूम्रपान गुर्दे में रक्त परिसंचरण को कम करता है, जिससे गंभीर समस्या हो सकती है।
  • पेन किलर या दर्द निवारक दवाओं का सेवन कम करें, क्योंकि ये आपकी किडनी को नुकसान पहुंचा सकते हैं।

Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।