जानिए किडनी को खराब करने वाली आदतों के बारे में?

 

 

जाने किडनी क्या है

 

पूरे विश्व और भारत में गुर्दे की बीमारियाँ और किडनी की विफलता खतरनाक रूप से तेजी से बढ़ रही है। भारत में हर 10 में से एक इंसान को क्रोनिक किडनी की बीमारी एक या दूसरे रूप में होती है। हर साल लगभग 150,000 लोग किडनी फेल्योर की अंतिम स्थिति के साथ नए रोगी बनते हैं, जिन्हें डायलिसिस या किडनी प्रत्यारोपण की आवश्यकता होगी। लेकिन क्या आप जानते हैं कि किडनी के स्वास्थ्य को खराब करने के लिए आपकी कुछ सामान्य आदतें जिम्मेदार हैं, तो आइए जानते हैं उन आदतों के बारे में जो किडनी को खराब करती हैं।

 

किडनी या गुर्दे हमारे शरीर में, रीढ़ के दोनों छोर पर फली के आकार के दो अंग होते हैं। हमारी किडनी रक्त में मौजूद विषाक्त पदार्थों (खराब पदार्थों) को छान कर साफ करती हैं और शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करती हैं। खून साफ करके मूत्र बनाने का कार्य भी किडनी द्वारा पूरा किया जाता है। गुर्दे मूत्रमार्ग से रक्त में मौजूद अनावश्यक अपशिष्ट को हटाते हैं।

 

किडनी ख़राब होने के शुरुआती लक्षण

 

 

1. पैरों और आंखों के नीचे सूजन

 

2. जल्दी थकान और सांस की तकलीफ

Treatment In India

 

3. बार-बार पेशाब के लिए उठना

 

4. खाना कम खाना और अच्छा महसूस ना करना

 

5. एनीमिया के कारण शरीर का पीला पड़ना

 

 

किडनी को खराब करने वाली बुरी आदतें

 

 

धूम्रपान और तंबाकू का सेवन

 

धूम्रपान और तंबाकू के सेवन से कई गंभीर समस्याएं (विशेषकर फेफड़े संबंधी रोग) होती हैं लेकिन यह भी एथेरोस्क्लेरोसिस का कारण बनता है। जिसके कारण रक्त वाहिकाओं में रक्त का बहाव कम हो जाता है और किडनी में रक्त कम होने के कारण इसकी कार्यक्षमता कम हो जाती है। इसलिए धूम्रपान और तंबाकू का सेवन न करें।

 

कम नींद लेना

 

आवश्यकता से कम नींद लेने से भी किडनी की समस्या हो सकती है। नींद के दौरान गुर्दे की कोशिकाओं में होने वाली क्षति की भरपाई की जाती है। नींद न आने से भी मेटाबॉलिज्म प्रभावित होता है और किडनी भी फिट नहीं रहती हैं। इसलिए पूरी नींद लेने की कोशिश करें।

 

अधिक मीठा खाना

 

ज्यादा मिठाई खाने की आदत आपकी किडनी के लिए भी नुकसानदेह हो सकती है। वास्तव में, ज़्यादा मीठे आहार के सेवन के कारण मूत्र से प्रोटीन निकलता है। अगर आपके साथ ऐसा हो रहा है, तो समझ लीजिए कि आप किडनी की समस्या से जूझ रहे हैं।

 

यूरीन प्रैशर को रोकना

 

कुछ लोगों को पेशाब या यूरीन रोकने की बुरी आदत होती है। यूरीन या पेशाब के दबाव को रोकने से गुर्दे से संबंधित समस्याएं भी बढ़ जाती हैं। यह बुरी आदत किडनी स्टोन या किडनी फेल होने जैसी समस्याओं का भी कारण बनती है।

 

उच्च नमक का सेवन

 

कुछ लोग जरूरत से ज्यादा नमक खाते हैं। शायद उन्हें नहीं पता कि उनकी यह आदत उनकी किडनी के स्वास्थ्य को कितना प्रभावित कर सकती है। ज़्यादा नमक लेने से शरीर में सोडियम बढ़ता है, जो रक्तचाप को प्रभावित करता है। यह गुर्दे को बल देता है। इसलिए, एक दिन में 5 ग्राम से अधिक नमक का सेवन न करें।

 

पानी कम पिएं

 

पानी हमारे शरीर की जरूरत है। कम पानी पीने से किडनी पर बहुत बुरा असर पड़ता है। किडनी रक्त को साफ करती है और शरीर से खराब चीजों को अलग करती है जिसमें पानी की बड़ी भूमिका होती है। अगर आप पानी कम पियेंगे तो टॉकिन्स छनने के बजाय आपके शरीर में एकत्रित होने शुरू हो जाएंगे।

 

सुबह उठकर पेशाब ना जाना

 

देखें, रात भर, मूत्राशय पूरी तरह से मूत्र से भर जाता है, जिसे सुबह उठते ही खाली करने की आवश्यकता होती है। लेकिन जब मूत्राशय पेशाब नहीं छोड़ता है और वे इसे लंबे समय तक रोकते हैं, तो यह गुर्दे को भारी नुकसान पहुंचाता है।

 

शुगर के उपचार में उत्तम

 

मधुमेह से पीड़ित लगभग तीस प्रतिशत लोग गुर्दे की बीमारी से पीड़ित हैं और एक तिहाई गुर्दे की बीमारी से पीड़ित हैं। इससे यह निश्चित है कि ये दोनों समस्याएं संबंधित हैं। इसलिए, रक्त में शर्करा की मात्रा को नियंत्रित करना आवश्यक है। साथ ही, खाने-पीने पर नियंत्रण होना चाहिए।

 

विटामिन और खनिज की कमी

 

अच्छी सेहत और अच्छी किडनी के लिए, ताज़ी सब्जियों और फलों से भरपूर स्वच्छ आहार लेना ज़रूरी है। आहार की कमी से गुर्दे की पथरी का खतरा बढ़ जाता है। अपने आहार में विटामिन बी 6 और मैग्नीशियम होने से गुर्दे की पथरी का खतरा बहुत कम हो जाता है।

 

दर्द निवारक दवाओं का अत्यधिक उपयोग

 

कुछ लोग मामूली दर्द के लिए बहुत दर्द निवारक लेते हैं। लेकिन ये सभी दवाएं हमारी किडनी को पूरी तरह से खराब कर देती हैं।

 

प्रोटीन को अधिक मात्रा में लेना

 

आहार में प्रोटीन की मात्रा या रेड मीट के सेवन से हमारे गुर्दे पर दबाव बढ़ जाता है। इसका मतलब है कि किडनी को अब कार्य करने के लिए अधिक मेहनत करनी होगी। जो अपने समय से पहले खराब होने का संकेत है।

 

शराब का सेवन

 

कुछ समय बाद एक गिलास बीयर लेने से कोई हानिकारक नहीं होता है। लेकिन कुछ लोग एक ड्रिंक के बाद नहीं रूकते और अधिक शराब का सेवन किडनी और लीवर दोंनों को खराब कर देता है।

 

अन्य हानिकारक आदतें

 

कुछ अन्य आदतें जैसे किडनी को खराब करना, जैसे कि बहुत अधिक शराब पीना, पर्याप्त आराम न करना, सॉफ्ट ड्रिंक और सोडा का अत्यधिक सेवन करना, लंबे समय तक भूखे रहना या दूषित भोजन करना, उच्च रक्तचाप का इलाज करना और बहुत अधिक मांस खाना। जिसके कारण किडनी को भारी नुकसान होता है।

 

 

अगर आप चाहते है की आपको किडनी की समस्या न हो, तो शरीर में हो रहे किसी भी बदलाव या शरीर के किसी भी अंग में दर्द को भूलकर भी नजरअंदाज न करे और जितनी जल्दी हो सके तुरंत ही डॉक्टर से सम्पर्क करे


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।