निम्न रक्त शर्करा के लक्षण और उपाए

जब किसी व्यक्ति में निम्न रक्त शर्करा के लक्षण होते है तो उसका पूरा स्वास्थ ख़राब हो सकता है। यदि किसी व्यक्ति की ब्लड शुगर का स्तर नियमित तौर पर नियंत्रण में नहीं रहता है, तो यह क्रोनिक स्वास्थ्य समस्याओं का कारण भी बन सकता है। इसलिए सबसे जरुरी बात यह है की आप अपना आहार पर ध्यान जरूर दें क्योंकि ज्यादातर बीमारी का कारण होता है एक पौष्टिक और संतुलित आहार न लेना। वैसे ये किसी गंभीर बीमारी में भी बदल सकता है जैसे मधुमेह, इससे आप जीवन भर के लिए इस बीमारी से ग्रसित हो सकते है। जिससे आपको कई और बीमारिया होने का खतरा रहता है। कई लोग इसे लो ब्लड शुगर के नाम से भी जानते हैं।

 

निम्न रक्त शर्करा के लक्षण

 

 

  • थकान :  जब कोई व्यक्ति कम काम करने पर भी जल्दी थक जाता है और उसके शरीर में अक्सर थकान रहने लगती है, तो ये निम्न रक्त शर्करा के लक्षण होते है।

 

  • लगातार पानी की प्यास लगना : बार-बार-प्यास लगना अक्सर ज्यादा प्यास तब लगती है जब वह व्यक्ति अधिक धूप में काम करता है। लेकिन जब किसी व्यक्ति के शरीर में शर्करा की मात्रा कम हो जाती है तब भी प्यास ज्यादा लगती है।

 

  • घबराहट : बेवजह घबराना ये भी लो ब्लड शुगर के लक्षण होते है इस स्थिति में व्यक्ति को अचानक घबराहट होने लगती है और उसे तेज पसीना आने लगता है।

 

 

  • शरीर में कपकपी आना : ठंड के मौसम में शरीर का कपकपाना तो ठीक है, लेकिन बिना ठंड के शरीर में कपकपी आना ये निम्न रक्त शर्करा के कम होने के लक्षण होता है।

 

 

  • स्वाभाव में चिड़चडा होना : बात-बात पर चिढ़ना, किसी भी सवाल का जवाब चिल्ला कर देना, स्वाभाव में चिड़चिड़ा पन रहना ये भी इसी के लक्षण होते है।

 

  • ज्यादा भूख लगना : जब किसी व्यक्ति को बार-बार भूख लगती है और वह हर बार ज्यादा खाना खाता है तो ये भी इसी के लक्षण होते है।

 

क्या है निम्न रक्त शर्करा से बचने के उपाए

 

जबकि व्यक्ति के शरीर में रक्त शर्करा निम्न होने लगती है तो ये सभी लक्षण उस व्यक्ति के शरीर में दिखने लगते है जो आपके शरीर में कई अन्य बीमारिया को पैदा कर सकता है। तो ऐसे में ये जानना बहुत जरुरी है की इससे बचने के क्या उपाए हो सकते है और  इन उपाए का इस्तेमाल करके हम अपने शरीर के रक्त शर्करा को नियंत्रियत भी रख सकते है।

 

  • समय पर भोजन करें
  • पौष्टिक आहार
  • शारीरिक काम में वर्द्धि
  • मीठे फल खाए जैसे अंगूर, सेब, केला, आदि
  • रोज अपने रक्त शर्करा की जांच करें
  • व्यायाम करें
  • दाल चीनी का प्रयोग करें
  • खाने के तुरंत बाद पानी न पिए

 

यदि किसी व्यक्ति को उसके या उसके किसी जानने वाले के शरीर में ऐसे लक्षण दिखते है तो उसे एक बार डॉक्टर से सलाह जरूर लेना चाहिए। क्योंकि यह मधुमेह को भी बुलावा देता है और एक बार किसी व्यक्ति को मधुमेह हो जाता है तो उसे अपना खान-पान का बहुत ध्यान रखना चाहिए तभी वह व्यक्ति स्वस्थ रहता है।


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।