क्रोनिक किडनी रोग होने पर करे इन चीजों से परहेज

Treatment In India

 

हमारे शरीर में किडनी (Kidney) एक बीन के आकार का होता है, जो हमारे रक्त को साफ करने में मदद करता है। किडनी मूत्र के जरिये अपशिष्ट पदार्थ (waste material) को बाहर निकालता हैं। हमारे शरीर में किडनी कई महत्वपूर्ण कार्य करते हैं, जिसमें रक्त से खनिज द्रव (Mineral fluid from blood) को बनाए रखना और फ़िल्टर करना शामिल है। हम क्रोनिक किडनी रोग (Chronic Kidney Disease) को अपनी जीवनशैली (lifestyle) में बदलाव लाकर इसका इलाज कर सकते हैं।

 

 

क्रोनिक किडनी रोग क्या है ?

 

 

इस रोग को “क्रोनिक किडनी की विफलता” (Chronic kidney failure) के रूप में भी जाना जाता है। किडनी रक्त से अपशिष्ट और अतिरिक्त तरल पदार्थों (Waste from blood and excess fluid) को छानते हैं, जो आपके मूत्र के जरिये बाहर निकलते हैं। इस रोग को खत्म करने की कोई दवा अबतक उपलब्ध नहीं हुई है। पिछले कई सालों से इस रोग के मरीजों की संख्या में लगातार वृद्धि होती ही जा रही है। किडनी की बीमारी दस में से एक व्यक्ति को होती ही है।

 

 

क्रोनिक किडनी रोगों के लक्षण क्या हैं?

 

  • खुजली

 

  • मांसपेशियों में ऐंठन

 

  • मतली और उल्टी

 

  • भूख न लगना

 

  • आपके पैरों और टखनों में सूजन (Ankle swelling)

 

  • बहुत अधिक मूत्र (पेशाब) या पर्याप्त मूत्र नहीं होना

 

 

  • नींद न आने की समस्या

 

 

यदि किडनी अचानक काम करना बंद कर दें, तो आपको निम्नलिखित लक्षणों में से एक या अधिक लक्षण दिखाई दे सकते हैं:

 

  • पेट में दर्द होना

 

  • पीठ दर्द

 

  • अतिसार (Diarrhea)

 

  • बुखार

 

  • उल्टी होना

 

  • टखने और पैरो में सूजन होना

 

 

  • यकृत रोग (liver disease)

 

 

क्रोनिक किडनी रोग के कारण क्या हैं?

 

 

सीकेडी (क्रोनिक किडनी रोग) किसी भी इंसान को हो सकता है। कुछ लोगों को दूसरों की तुलना में अधिक खतरा होता है। सीकेडी के लिए जोखिम बढ़ाने वाली कुछ चीजें शामिल हैं:

 

 

  • उच्च रक्तचाप (high blood pressure)

 

  • दिल की बीमारी (heart disease)

 

  • किडनी की बीमारी से ग्रस्त परिवार का सदस्य होना

 

  • अफ्रीकी-अमेरिकी, हिस्पैनिक, मूल अमेरिकी या एशियाई होने के नाते

 

  • 60 वर्ष से अधिक होने पर

 

 

किडनी रोग होने पर इन खाद्य पदार्थो से करे परहेज 

 

 

  • अवोकाडोस (Avocados)

 

  • केले (Banana)

 

  • अचार और जैतून (Pickles and olives)

 

  • खुबानी (Apricot)

 

  • आलू और शकरकंद (Potatoes and sweet potatoes)

 

  • टमाटर (tomatoes)

 

  • डेयरी उत्पाद (Dairy Products)

 

  • डार्क-कलर्ड कोला (Dark-colored cola)

 

 

क्रोनिक किडनी रोगियों को इन चीजों का रखना चाहिए ध्यान

 

 

 

  • नियमित रूप से व्यायाम करें

 

  • संतुलित आहार का सेवन करे

 

 

  • नमक की मात्रा कम रखें

 

  • तम्बाकू, गुटखा तथा शराब का सेवन ना करे

 

  • किडनी के डॉक्टर से समय-समय पर मिलते रहे और जांच कराते रहे

 

 

 

यहां, हमने क्रोनिक किडनी रोग और इसके लक्षणों, संकेतों, कारणों और इसके इलाज के तरीके के बारे में चर्चा की है। इस बीमारी को ठीक करने का सबसे अच्छा और प्रभावी तरीका है स्वस्थ आहार और भरपूर पानी का सेवन, यह इलाज करने में मदद करेगा। यदि आप उपरोक्त गंभीर लक्षणों में से किसी को महसूस करना शुरू करते हैं, तो पहले जितना हो सके डॉक्टर से परामर्श करें।

 

 


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।