CKD रोगी की जीवनशैली कैसी होनी चाहिए?

UPTO20

इंसान के शरीर में किडनी ही है जो उसकी शरीर में जमी गंदगी को बाहर निकलती है। जिनकी किडनी ख़राब हो जाती है उससे बहुत ज्यादा दिक्कत होती है। एक सीकेडी CKD रोगी की जीवनशैली कैसी होनी चाहिए आज हम इसी के बारे में बात करेंगे। किसी भी व्यक्ति की किडनी ख़राब होने का कारण उसका गलत खान-पान और उसकी ख़राब जीवनशैली ही जिम्मेदार होती है।

 

 

CKD रोगी की जीवनशैली कैसी होनी चाहिए

 

 

किडनी ख़राब होने के बाद एक CKD रोगी को अपना बहुत ज्यादा ध्यान रखना पड़ता है। क्योंकि उसके शरीर से विषैले पदार्थ पहले के मुकाबले बहुत कम ही बाहर निकलते है। जिसके बाद उनकी एक ही किडनी काम करती है और उसे ज्यादा काम करना पड़ता है। किसी भी इंसान के लिए उसका पूरा जीवन एक ही किडनी पर निर्भर हो जाता है और यह उसके लिए ये बहुत मुश्किल होता है।

 

 

रक्त चाप नियंत्रण में रखें

 

high-blood-pressure-se-hone-wale-khatre-in-hindi

 

आपको बता दें की उच्च रक्तचाप CKD का एक सामान्य कारण होता है। यदि आपको उच्च रक्तचाप रहता है, तो आपको अपने आहार में बदलाव करने की आवश्यकता है। दवाएं आपके रक्तचाप को सुरक्षित रूप से रखने में मदद जरूर करती हैं। इसके साथ ही आपको तनाव नहीं लेना चाहिए।

 

 

अपना वजन बढ़ने ना दें

 

 

एक CKD रोगी की जीवनशैली में उसका अधिक वजन उसके लिए बड़ी मुसीबत बन सकता है। अधिक वजन या मोटापे के कारण उच्च रक्तचाप और मधुमेह हो सकता है। यदि आप खुद अपना वजन व्यायाम या योग करके नियंत्रण में रखेंगे तो ये आपके लिए बहुत अच्छा रहेगा।

 

 

समय पर कराते रहे जाँच

 

doctor se jaane chamki bukhaar se bachne ke upaay in hindi

 

एक किडनी रोगी के लिए ये सबसे जरुरी है की वह अपनी नियमित रूप से जाँच करता रहे। ताकि कोई भी गड़बड़ी होने पर डॉक्टर उसका तुरंत इलाज करके उसे ठीक कर सके। वैसे तो भारत में लोगों को किडनी खराब होने का पता काफी बाद में चलता है, जो उनके लिए बड़ी समस्या पैदा करता है।

 

 

रक्त शर्करा को नियंत्रित रखें 

 

Type 1 diabetes mellitus in hindi

 

उच्च रक्त शर्करा का स्तर एक सीकेडी रोगी को और भी बीमारी बना सकता है। जिन्हें मधुमेह होता है, उन्हें अपने आहार को बदलने की आवश्यकता होती है। दवाओं से आप काफी हद तक अपनी रक्त शर्करा को नियंत्रण में रख सकते है। लेकिन इसके साथ आपको अपने खाने में भी बदलवा करना जरुरी है।

 

 

धूम्रपान और शराब का सेवन बंद करें

 

alcohol dependence in early age memory loss , Cheap medicine Online, Buy Medicine Online, Online Pharmacy Noida, Online Medicines, Buy Medicine Online Noida, Nearby Pharmacy, Purchase Medicine Online, GoMedii

 

धूम्रपान और शराब का सेवन एक CKD रोगी के लिए उसकी स्थिति को और भी बदतर बनाता है। क्योंकि इसका सीधा असर उसकी किडनी पर पड़ता है। शराब के सेवन से किडनी पर ज्यादा काम करने का दबाव पड़ता है और किडनी को विषैले पदार्थ बाहर निकलने में दिक्कत होती है।

 

 

नियमित व्यायाम

 

sugar (diabetes) ke liye yogasan in hindi

 

अपने शरीर को स्वस्थ रखने के लिए आप व्यायाम का सहारा ले सकते है। CKD रोगी की जीवनशैली में उसे व्यायाम या योग को अपनी शारीरिक फिटनेस में शामिल करना चाहिए। यह उसकी  जीवनशैली में परिवर्तन के साथ उसको अवसाद से भी दूर रखता है। ये दोनों समस्या एक सीकेडी रोगी के लिए सामान्य स्वास्थ्य समस्याएं हैं।

 

 

अपनी डाइट रखें अच्छी 

 

 

इस बात का भी पूरा ध्यान रखें क‍ि आपका खाना सेहतमंद होना चाहिए। ऐसा खाना खाए जो आपके वजन को नियंत्रित में रखे और इसके साथ ही अपने खाने में नमक की मात्रा कम रखें, नमक का ज्यादा सेवन आपकी किडनी पर बुरा असर डालता है। प्रतिदिन केवल 5 से 6 ग्राम नमक ही लेना चाहिए। इसलिए ये जरुरी है की आप बाहर का फ़ास्ट फ़ूड और रेस्तरां से खाना कम से कम ही खाएं और खाने में ऊपर से नमक न डालें।

 

CKD रोगी की जीवनशैली में बदलाव करना बहुत ज्यादा जरुरी है। क्योंकि उसकी जरा सी लापरवाही उसके लिए बड़ी परेशानी की वजह बन सकती है।

 

जब किसी इंसान की किडनी ख़राब होती है तो उसमें ये लक्षण देखे जाते है पेशाब रोकना, कम पानी पीना, बहुत ज्यादा नमक का सेवन, हाई ब्लड प्रेशर,  दवाओं का दुष प्रभाव, सॉफ्ट ड्रिंक्स, सोडा और बहुत शराब पीना, शरीर में विटामिन-डी की कमी होने पर ऐसा होता है।

 

जब आप प्रोटीन (Protein), पोटैशियम (Potassium), सोडियम (Sodium), फॉस्फोरस (Phosphorus) वाले खाद्य पदार्थों का बहुत ज्यादा  सेवन करते है, तो ये CKD के रोगी के लिए बहुत हानिकारक होते है। ऐसा होने पर आप हमारे डॉक्टर से संपर्क कर सकते है


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।