टाइप 2 डायबिटीज जाने इसके लक्षण

GoMedii Offer

 

 

टाइप 2 डायबिटीज (type 2 diabetes) यह समस्या ज्यादातर अधिक वजन या मोटापा वाले बच्चों को प्रभावित करती है। टाइप 2 डायबिटीज कई गंभीर बीमारियों का कारण बनता है। जिनमें तंत्रिका क्षति (न्यूरोपैथी) (neuropathy), किडनी की समस्या (kidney damage), आँखों की समस्या आदि शामिल हैं।

 

 

अबतक इस बीमारी का कोई इलाज नहीं हैं। टाइप 2 डायबिटीज को अपने जीवन शैली (lifestyle) में परिवर्तन, व्यायाम और स्वस्थ आहार को अपनाकर ही कम किया जा सकता है। यह एक ऐसी बीमारी है, जिसका इलाज समय पर न कराया जाए तो यह अनेक स्वास्थ्य समस्याओं को जन्म दे सकती हैं, इसलिए समय पर इस बीमारी के लक्षणों को पहचान कर इसकी जांच करा लेनी चाहिए।

 

 

क्या होता है टाइप 2 डायबिटीज

 

 

जिन लोगो में टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 diabetes) की समस्या होती है, उनका शरीर इंसुलिन (Insulin) का सही से उपयोग नहीं कर पाता है और इस स्थिति को इंसुलिन प्रतिरोध कहा जाता है। अग्न्याशय या पैंक्रियास (Pancreas) पहले इसके लिए अतिरिक्त इंसुलिन बनाता है। हालांकि, समय के साथ, यह रक्त शर्करा (Blood sugar) को सामान्य स्तर पर रखने के लिए पर्याप्त नहीं बना पाता है। टाइप 2 डायबिटीज अनुवांशिक (Genetic) कारणों की वजह से भी होता है।

 

 

टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 Diabetes) के लक्षण

 

 

इस प्रकार की बीमारी के लक्षण समय के साथ धीरे-धीरे विकसित होते हैं। लक्षणों में शामिल है –

 

  • अत्यधिक प्यास और भूख का लगना

 

 

  • वजन कम होते जाना

 

  • धुंधली दृष्टि (Blurred vision)

 

  • शुष्क मुँह (dry mouth)

 

  • हर वक़्त थकान महसूस होना

 

  • ऊर्जा की कमी आना (Lack of energy)

 

 

 

टाइप 2 डायबिटीज के उपचार

 

 

टाइप 2 डायबिटीज (type 2 diabetes) का उपचार करने के लिए निम्न तरीके शामिल किये जा सकते हैं, जैसे की –

 

  • पौष्टिक और संतुलित भोजन (Nutritious and balanced diet) का सेवन करके

 

  • नियमित रूप से व्यायाम (Exercise regularly)

 

  • मधुमेह की दवा या इंसुलिन थेरेपी (Diabetes medicine or insulin therapy) के द्वारा

 

  • रक्त शर्करा की नियमित जाँच (Regular blood sugar test)

 

इन चीजों को अपनाकर आप अपने रक्त शर्करा के स्तर को सामान्य रखने में और जटिलताओं को रोकने में मदद कर सकते हैं।

 

 

टाइप 2 डायबिटीज के नुकसान को कम करने के कुछ उपाय

 

 

  • जिन लोगो में टाइप 2 डायबिटीज की समस्या होती है, उन्हें रोजाना व्यायाम करना चाहिए इससे अनेक प्रकार का लाभ मिलता हैं, जिनमें वजन बढ़ना, रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करना और अन्य स्थितियां शामिल हैं।

 

  • हर दिन कम से कम 30 मिनट की शारीरिक गतिविधि करे, ऐसा करना बहुत फायदेमंद होता है।

 

  • स्वस्थ आहारों का सेवन करे, जैसे की – साबुत अनाज, फल और सब्जियों से भरपूर आहार शरीर के लिए बहुत अच्छा होता है।

 

  • अधिक मात्रा में प्रोसेस्ड और रिफाइंड फूड (Cased and Refined Food) का सेवन न करे।

 

  • बहुत अधिक शराब वजन बढ़ाने की ओर ले जाती है और आपके रक्तचाप और ट्राइग्लिसराइड के स्तर (Blood pressure and triglyceride levels) को बढ़ा सकती है, शराब के सेवन को सीमित करें और धूम्रपान से बचे।

 

  • मीठे खाद्य पदार्थ और रिफाइंड कार्बोहाइड्रेट (Refined carbohydrate) युक्त चीजें का सेवन करने से बचे।

 

  • ब्लड शुगर (Blood sugar) को नियंत्रित करने के लिए विटामिन डी (vitamin D) बहुत जरूरी है इसलिए विटामिन डी की शरीर में कमी न होने दें।

 

 

टाइप 2 डायबिटीज का इलाज उचित उपचार से किया जा सकता है, जैसे इंसुलिन लेना, स्वस्थ आहार लेना और व्यायाम करना। जो लोग अपने स्वास्थ्य का ध्यान सही से रखते है और समय-समय पर डॉक्टर से जांच कराते है, वे हमेशा स्वस्थ रहते है। इसलिए किसी तरह की समस्या होने पर तुरंत ही डॉक्टर से सम्पर्क करे और जांच कराये।

 


Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।