आंखों की एलर्जी का घरेलू उपाय

Safe20

चिलचिलाती धूप और भीषण गर्मी के मौसम में अगर आपकी आंखों में खुजली हो रही है तो नजरअंदाज न करें। इन दिनों एलर्जी कंजेक्टिवाइटिसका का प्रकोप बढ़ रहा है और इस बीमारी से पीड़ित रोगियों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। एलर्जी नेत्रश्लेष्मलाशोथ खुजली वाली आंखों से शुरू होती है। इसके बाद, आँखें लाल हो जाती हैं, पलकें सूज जाती हैं और आँखें सूख जाती हैं।

 

आंख में एलर्जी का कारण

 

  • पराग
  • रूसी
  • फफूंद या मोल्ड
  • धुंआ
  • धूल

 

आंखों की एलर्जी के लक्षण

 

  • खुजली या जलन आँख
  • आँख लाल या गुलाबी
  • आंखों के चारों ओर स्केलिंग
  • आंख की पुतली में सूजन या सूजन, विशेषकर सुबह के समय
  • एक या दोनों आँखें प्रभावित। कुछ मामलों में ये लक्षण बहती नाक, भीड़ या छींक के साथ आ सकते हैं।

 

आँखों की एलर्जी के लिए घरेलू उपाय

 

कैमोमाइल

 

केमोमिल अपने एंटी-एलर्जी प्रभाव के लिए जाना जाता है। आंखों की खुजली के लिए कोल्ड आई कंप्रेस के लिए कैमोमिल टी का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। यह हिस्टामाइन जारी करता है, जो आंखों में खुजली पैदा करने वाली एलर्जी को रोकता है। यह थकी हुई आँखों को ताज़ा और चमकदार बनाता है। इसके लिए, एक कप गर्म पानी में कैमोमाइल टीबैग को डालें और 5 मिनट के बाद निकाल दें। अब इस पानी को ठंडा होने के लिए रख दें और ठंडा होने पर इस पानी से आँखों को धो लें या इसका ठंडा सेक आँखों पर रखें। आप इस्तेमाल किए हुए टी बैग्स को फ्रिज में रखकर कोल्ड कंप्रेस भी ले सकते हैं। ऐसा दिन में 2-3 बार करें। यह आंखों की खुजली के लिए एक घरेलू उपचार है।

 

कच्चा आलू

 

चिड़चिड़ी या खुजली वाली आँखें, कच्चा आलू हर किसी के लिए फायदेमंद होता है। इसका उपयोग खीरे की तरह ही करना है। स्लाइस काटें और आंखों पर रखें। दस मिनट निकालें। यह आंखों के नीचे के काले घेरों को भी दूर करता है।

 

एलोविरा

 

एलोवेरा के कई फायदे हैं। इन लाभों में से एक आंखों में जलन को शांत करना है। एलोवेरा की पत्ती का जेल निकाल लें और इसमें शहद मिलाएं, अगर आप चाहें तो चाय पत्ती का रस मिलाएं और इस पेस्ट से अपनी आंखों को धोएं। कुछ लाभ होगा।

 

खीरा

 

खीरा आंखों के लिए एक प्रभावी एंटी-इर्रिटेंट है, जो अपने एंटीऑक्सीडेंट गुणों के कारण आंखों की खुजली, सूजन और जलन को काफी जल्दी प्रभावित करता है। इसके अलावा, खीरे के उपयोग से आंखों की सूजन और काले घेरे भी कम होते हैं। इसके लिए खीरे को धोकर पतले स्लाइस में काट लें और फ्रिज में 15-20 मिनट के लिए रख दें। अब इन ठन्डे खीरे के स्लाइस को 10 मिनट के लिए बंद आँखों पर रखें। ऐसा दिन में 4 से 5 बार करें। आप खीरे के बजाय कच्चे आलू का भी उपयोग कर सकते हैं।

 

ठंडा दूध

 

ठंडा दूध आँखों को जलन में भी राहत देता है। कॉटन बॉल्स को ठंडे दूध में भिगोकर आंखों पर रखें। यदि आप इसे सुबह और शाम करते हैं, तो आपको लाभ मिलेगा।

 

सब्जी का रस

 

आंखों से जलन को दूर करने के लिए कच्ची सब्जियों का रस भी फायदेमंद होता है। दो गाजर और एक कप पालक का रस निकाल लें। दिन में दो से तीन बार पीने से आंखों की जलन दूर होती है।

 

गुलाब जल

 

गुलाब जल न केवल आपकी सुंदरता को बढ़ाता है बल्कि आपकी आँखों को भी अच्छा बनाता है। आंखों में गुलाब जल डालें, इससे राहत मिलती है। आप चाहें तो रोज एक कॉटन बॉल को पानी में भिगोकर आंखों पर रख सकते हैं, इससे भी राहत मिलेगी। दिन में कम से कम दो बार आंखों में गुलाब जल डालें।

 

आंखों की सेहत के लिए जरूरी टिप्स

 

  • अपनी आँखें मत रगड़ो।
  • आंखों में खुजली होने पर कांटेक्ट लेंस न लगाएं।
  • कभी भी कांटेक्ट लेंस या आई मेकअप किसी के साथ शेयर न करें।
  • आंखों के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए अपने आहार में गाजर और पालक का रस शामिल करें।
  • आंखों को स्वस्थ रखने के लिए विटामिन ए और बीटा कैरोटीन की खुराक लें।
  • धूप में जाने पर धूप के चश्मे का इस्तेमाल करें।
  • अगर आंखें सूखी महसूस होती हैं तो कृत्रिम आँसू का उपयोग करें।
  • कंप्यूटर पर काम करते समय आँखों को थोड़ा गैप करके आराम करें।
  • आंखों पर बहुत तेज हवा न लगने दें।
  • दोनों आंखों के लिए अलग-अलग आई पैड या कोल्ड कॉम्प्रेस या कॉटन स्वैब का इस्तेमाल करें।

Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।