महिलाओं में समय से पहले डिम्बग्रंथि फेलियर से हो रही है नींद की समस्या

जाने क्या है समय से पहले डिम्बग्रंथि विफलता (POF)?

 

समय से पहले डिम्बग्रंथि की विफलता (Ovarian failure) के मामले में, जिसे समय से पहले डिम्बग्रंथि अपर्याप्तता (पीओआई) (Ovarian inadequacy (Poi)) के रूप में भी जाना जाता है। इस स्थिति की औसत शुरुआत 27 साल है, लेकिन यह समस्या महिलाओं में किशोरावस्था में ही हो जाता है। कुछ अवसरों पर, यह स्थिति जन्म से ही होती है। जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है, वैसे ही इसके साथ POF का खतरा भी ज्यादा बढ़ जाता है।

 

 

 

अध्यनो के अनुसार

 

 

  • एक स्टडी के अनुसार, सकारात्मक ओवेरियन फेल्योर (Ovarian Failure) वाली महिलाएं हॉर्मोन थेरेपी ले रही हैं, उन्हें अच्छी नींद नहीं आती और थकान भी अधिक महसूस होती है।

 

  • मीनोपॉज (Menopause): द जर्नल ऑफ द नॉर्थ अमेरिकन मीनोपॉज सोसायटी’ में प्रकाशित स्टडी में पाया गया कि हॉर्मोन थेरपी लेने के बावजूद प्रिमच्योर ओवेरियन इन्सफिशन्सी (POI) से पीड़ित महिलाएं अच्छी नींद नहीं ले पातीं है। आंकड़ों के अनुसार, मेनॉपॉज़ की अवस्था में पहुंच चुकी महिलाओं में से 40-50 फीसदी महिलाएं अच्छी नींद न आने की शिकायत करती हैं। मसलन, उन्हें जल्दी नींद नहीं आती और अगर आती भी है तो अच्छी तरह से नहीं आती।

 

 

 

प्रीमैच्योर ओवेरियन फेलियर के कारण

 

 

समय से पहले डिम्बग्रंथि की विफलता अंडे के नुकसान के कारण होती है, जो निम्नलिखित स्थितियों का परिणाम हो सकता है:

 

गुणसूत्रों में रोग (Diseases in chromosomes)

 

टर्नर सिंड्रोम (Turner syndrome) और नाजुक एक्स सिंड्रोम (X syndrome) जैसी आनुवंशिक स्थितियां पीओआई से जुड़ी हैं। टर्नर सिंड्रोम वाली महिलाओं में, एक सामान्य एक्स गुणसूत्र (Chromosome) होता है, लेकिन दूसरा एक्स गुणसूत्र बदल जाता है या गायब हो जाता है। दूसरी ओर, नाजुक गुणसूत्र सिंड्रोम वाली महिलाओं में एक्स क्रोमोसोम बहुत ही कमजोर होते हैं और टूट जाते हैं।

 

 

विषाक्त पदार्थ (toxic substances)

 

विकिरण और कीमोथेरेपी (Radiation and chemotherapy) पास करने वाली ज्यादातर महिलाएं विष-प्रेरित डिम्बग्रंथि विफलता (Toxin-induced ovarian failure) से पीड़ित हो सकती हैं, क्योंकि वे कोशिकाओं में आनुवंशिक पदार्थ बना सकते हैं और सामग्री को प्रभावित कर सकते हैं। सिगरेट, ड्रग्स, कीटनाशक, वायरस और रसायन भी शुरुआती डिम्बग्रंथि विफलता को बढ़ा सकते हैं।

 

 

 

ऑटोइम्यून बीमारियां (Autoimmune diseases)

 

 

 

ऑटोइम्यून बीमारी तब होती है जब शरीर में प्रतिरक्षा प्रणाली शरीर की कोशिकाओं और ऊतकों पर हमला करना शुरू कर देती है। जब एक ऑटोइम्यून रोग अंडाशय को प्रभावित करता है, तो एंटीबॉडी अंडाशय में कूप को हानि पहुंचाते हैं, जिसमें अंडे होते हैं। हालांकि इसका सटीक कारण अज्ञात है, इसे वायरस के लिए ट्रिगर प्रतिक्रिया माना जाता है।

 

 

 

 

अज्ञातहेतुक कारण (Idiopathic cause)

 

कभी-कभी POI का कारण अज्ञात होता है और इसे आगे के परीक्षण पर भी पहचाना नहीं जा सकता है।

 

 

समय से पहले डिम्बग्रंथि विफलता के लक्षण

 

 

समय से पहले डिम्बग्रंथि विफलता के लक्षण रजोनिवृत्ति के लक्षणों के समान हैं और इसमें शामिल हैं:

 

 

  • रात को पसीना

 

  • नींद बिलकुल न आना

 

  • अवसाद, चिड़चिड़ापन या चिंता

 

  • ध्यान केंद्रित करने में परेशानी

 

 

  • यौन इच्छा में कमी

 

समय से पहले डिम्बग्रंथि विफलता की जटिलताओं

 

 

समय से पहले डिम्बग्रंथि विफलता कुछ जटिलताओं को जन्म देती है जैसे:

 

बांझपन (Infertility)

 

यदि अंडा पूरी तरह से समाप्त हो गया है, तो आपके पास गर्भवती होने का कोई मौका नहीं है। हालांकि, यदि आपके अंडे पूरी तरह से समाप्त नहीं हुए हैं, तो भी आप गर्भधारण करने में सक्षम हो सकती हैं।

 

ऑस्टियोपोरोसिस (Osteoporosis)

 

एस्ट्रोजन हार्मोन हड्डियों की ताकत को बनाए रखने में मदद करता है। एस्ट्रोजन का कम उत्पादन कमजोर और नाजुक हड्डियों का कारण हो सकता है, जो टूटने का खतरा होता है।

 

अवसाद और चिंता (depression and anxiety)

 

चूंकि महिलाओं में बांझपन और कुछ अन्य जटिलताओं का खतरा होता है, इस स्थिति के कारण वे अवसाद और चिंता से गुजर सकती हैं।

 

हृदय रोग (heart disease)

 

कम उम्र में, एस्ट्रोजन की कमी या एस्ट्रोजन या हृदय रोग का खतरा बढ़ सकता है।

 

डिमेंशिया (Dementia)

 

एस्ट्रोजन की कमी के कारण कई महिलाओं में डिमेंशिया का खतरा बढ़ सकता है।

 

 

समय से पहले डिम्बग्रंथि विफलता उपचार

 

 

  • जबकि आपके अंडाशय में कार्यक्षमता का बैकअप लेने के लिए कोई उपचार नहीं है, उपचार के लिए कुछ विकल्प हैं जो स्थिति के लक्षणों को कम कर सकते हैं।

 

  • हार्मोन थेरेपी को एस्ट्रोजेन और प्रोजेस्टेरोन हार्मोन के साथ महिलाओं को जोड़ने के लिए निर्धारित किया जाता है। यह गोलियां, स्प्रे, पैच, जेल या योनि के छल्ले के माध्यम से किया जा सकता है। हार्मोन थेरेपी आपके शरीर को हार्मोन संतुलन प्रदान कर सकती है और आपकी स्थिति को कम कर सकती है, जो एस्ट्रोजन की कमी का परिणाम हो सकता है, जैसे कि ऑस्टियोपोरोसिस, हृदय रोग, पागलपन, आदि।

 

  • गर्म चमक को रोकने के लिए दवाएं निर्धारित की जा सकती हैं।

 

  • गर्भावस्था को प्राप्त करने के लिए महिलाएं कृत्रिम गर्भाधान विधियों जैसे इन-विट्रो फर्टिलाइजेशन (आईवीएफ) का चयन कर सकती हैं या दाता अंडे प्राप्त कर सकती हैं।

 

 

इससे सम्बंधित कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें। आप हमसे व्हाट्सएप (+91 9599004311) पर भी संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा आप हमारी सेवाओं के संबंध में हमें connect@gomedii.com पर ईमेल भी कर सकते हैं। हमारी टीम जल्द से जल्द आपसे संपर्क करेगी।

 

Doctor Consutation Free of Cost=

Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।